खेल-खेल में तीनो बहनों को चोद दिया। Antarvasna Three Sister Sex Story

Antarvasna Three Sister Sex Story में मैंने एक सगी बहन और अपनी दो चचेरी बहनों को चोदा। इस खेल में उन तीनों को ही ख़ुशी मिली। मुझे मिलकर फंसाया गया।

दोस्तो, मैं संजय हूँ और मैं इंजीनियरिंग में पढ़ता हूँ। लुधियाना में मैं रहता हूँ।

मेरे पापा चाचा, चाची चाची की दो लड़की और मेरी बहन स्नेहा हमारे घर में रहती हैं।

मैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के कारण दिल्ली में रहता हूं, और मेरा पूरा परिवार गांव में रहता है।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

आपने मेरी पिछली कहानी रिश्ते की मामी को चोदा। Porn Xxx Mami Fuck Kahani

पढ़ी थी।

हमारा गांव लुधियाना में है।

यह Antarvasna Three Sister Sex Story पिछली गर्मी की छुट्टियों की है, जब मैं अपने गांव में पूरे दो साल बाद लौटा था।

राजीव नामक चाचा मुझे लेने आया था। जब मैं घर गया, मैं सबसे मिला।

Hot Bhai Bahan Threesome Sex Story

मेरे चाचा की दो लड़की पूजा और आरती अब बड़ी हो चुकी हैं।

पूजा 21 वर्ष की थी, छोटी आरती 18 वर्ष की थी, और मेरी बहन स्नेहा 19 वर्ष की थी।

मैं खाना खाकर, नहा धोकर स्वस्थ हो गया।

मेरी तीनों बहनें कॉलेज से छुट्टी पर आईं और मुझे देखकर बहुत खुश हुईं।

मैं हर किसी को गले लगाया।

पूजा और स्नेहा ने मुझसे पूछा कि क्या वहाँ आपकी कोई गर्लफ्रेंड है।

मैंने बोला: “तुम चुप रहो पागल, मैं वहां पढ़ने गया हूँ या प्रेमिका बनाने जा रहा हूँ?”

मैं उनकी बात सुनकर वहां से चला गया।

हमारे घर में चार कमरे दो नीचे और दो ऊपर थे।

नीचे के कमरे में हमारे माँ, पापा और चाचा चाची रहते थे।

और मेहमानों के लिए एक कमरा था!

रात का खाना खाने के बाद सभी सो गए।

तो मुझे अपनी बहनों के साथ छत पर सोना पड़ा।

खाना खाने के बाद मैं अपने दोस्तों से बात करने लगा, जबकि मेरी बहन पढ़ रही थी।

जब मैं कमरे में आया, तो मैंने देखा कि पूजा और स्नेहा लैपटॉप पर कुछ देख रहे थे।

मैंने जाकर देखा कि वे एक हॉट मूवी देखर ही थी।

वह मुझे देखते ही डर गई और विनती करने लगी, “भैया, मम्मी को मत बताना।”

मैंने भी सोचा कि इसमें कोई महत्वपूर्ण जानकारी नहीं है।

मैंने कहा-ठीक है क्योंकि वे दोनों अब जवान थीं।

तब पूजा ने पूछा, “भैया, मुझे बताओ”। क्या आपकी कोई प्रेमिका है?

मैंने कहा कि मैं कोई प्रेमिका नहीं बनाऊंगा।

यह कहते हुए मैं छत पर चला गया और वहाँ घूमने लगा।

प्रिय लोगों, मैं आपको बता दूं कि लो पूजा की गांड और बूब्स पूरी तरह नोरा फतेही की तरह हैं। वह पूरी तरह से भरा हुआ दिखती है, लगभग आंटी की तरह।

स्नेहा की गांड भी बड़ी है क्योंकि वह बिल्कुल उसी की बूब्स है।

बाद में हम अपने बेड पर सो गए।

तब पूजा ने कहा, “भाई, हम तीन लोग एक बेड पर सो रहे हैं, इसलिए हमें परेशानी हो रही है।” मैं आपके बेड पर सो जा रही हूँ?

इसे भी पढ़ें   मेरी प्यारी बहन की सील मेरे सामने टूटी

मैंने कहा कि कोई बात नहीं, सो जाओ।

प्रिय, मैंने अपनी बहन को कभी भी कामुक दृष्टि से नहीं देखा था।

पूजा बिल्कुल हॉट दिखती है क्योंकि वह नाइटी में सोती है।

और तभी बिजली इतनी जोरों से चमकने लगी कि पूजा डरकर सो गयी। मेरी छाती उसके बड़े-बड़े स्तनों से बंधी हुई थी।

इसलिए मेरा लंड पैन्ट में खड़ा होकर पूजा की नाभि से रगड़ खाने लगा।

मैंने पूजा को हटाते हुए उसके बूब्स को दबाया, लेकिन वह नहीं बोली।

फिर मैंने उसकी छाती पर एक हाथ रखा और उसके बूब्स को दबाने लगा।

इसके बाद पूजा उठकर बैठ गई।

मैं डर गया और सोचा कि पूजा शोर करेगी।

इसलिए मैंने आंखें बंद करके सोने का बहाना किया और पूजा भी सो गई।

मैं अगले दिन सुबह उठकर चाची ने कहा कि संजय हम शादी में जा रहे हैं, 8 से 10 दिन लग जाएंगे। तब तक अपनी बहनों का ख्याल रखना।

मैंने कहा, “ठीक है, आप निश्चिंत होकर जाइए।”

10:00 बजे मम्मी पापा और चाचा चाची घर से चले गए।

संडे होने के कारण पूजा और आरती घर पर ही थी।

हम सब बैठकर टीवी देख रहे थे।

तब पूजा ने कहा: भैया, एक खेल खेलते हैं। मैंने एक अंग्रेजी फिल्म में देखा।

मैंने मना कर दिया, लेकिन आरती करने लगी, तो मैंने कहा- चलो ठीक है।

पूजा ने कहा, भैया, खेल में सिर्फ एक शर्त है।

स्नेहा ने पूछा कि क्या शर्त है?

Sexy Sister Sex Stories

पूजा ने कहा कि इस खेल में जो भी हारेगा, उसे किसी एक की बात माननी होगी।

यह सब ठीक है।

तभी पूजा भाग गई और छत पर से एक बोतल लेकर कहा, “मैं गेम शुरू करती हूँ।”

और बोतल को घुमाते हुए उसने कहा कि जिस तरफ बोतल का मुंह रुक जाएगा, वह गेम हार जाएगा।

आरती हार गई जब बोतल घूमते हुए आरती के सामने रुक गई और उसका पीछे वाला हिस्सा स्नेहा के सामने था।

आरती को स्नेहा ने अपनी टी शर्ट उतारने के लिए बोली।

तो आरती ने स्नेहा को बड़ी आंखों से देखने लगी।

तब पूजा ने कहा, “डोंट वरी, यहां सब घर के हैं।” और वैसे भी, अगर आप खेल हार गए हैं, तो आपको हमारी हर बात माननी होगी।

आरती ने अपनी टीशर्ट उतार दी, इससे पहले कि मैं कुछ कह सकूँ।

प्रिय, वह ब्रा में थी।

आरती के संतरे की तरह दिखने वाले बूब्स से शर्म आने लगी और छत पर भाग गई।

अब स्नेहा ने बोतल घुमाई, पूजा की ओर और मेरी ओर।

स्नेहा ने कहा कि आप गेम जीत चुके हैं।

मैंने पूजा से पूछा कि क्या आपने शादी की है।

नहीं, पूजा ने कहा।

तिरछी निगाहों से मुझे देखकर उसने कामुकता से मुस्कुराया।

स्नेह के सामने बोतल घूम गई और पूजा के सामने रुक गई।

इसे भी पढ़ें   बगल वाली भाभी की जोरदार चुदाई करी 1 | Nangi Bhabhi Bangali Sex Kahani

स्नेहा, पूजा ने कहा कि तुम संजय भैया की गोद में बैठ जाओ।

प्रिय, मेरी सगी बहन स्नेहा मेरा मुंह देखने लगी।

स्नेहा, गेम हार गयी है, पूजा ने कहा।

इसके बाद स्नेहा मेरी गोद में बैठ गई।

स्नेहा ने हाफ निकर पहना था।

जब वह मेरी गोद में बैठी, मुझे कुछ गीला लग गया।

मैंने सोचा कि स्नेहा की चूत में पानी था।

और यही सोचकर मेरा खड़ा हो गया और स्नेहा के छेद में घुसने लगा, जिससे उसके बदन में हलचल आई।

फिर पूजा ने बोतल घुमा दी।

उस बोतल का पिछला हिस्सा स्नेहा की तरफ और अगला हिस्सा पूजा की तरफ था।

स्नेहा ने कहा, भाई, पूजा के स्तन दबाओ।

जब मैंने इनकार कर दिया, पूजा ने कहा, “यह खेल है।”

तब मैंने पूजा को इधर आने को कहा और उसके दोनों बूब्स को हाथ में लेकर दबाने लगा।

इसके परिणामस्वरूप पूजा गर्म होने लगी और सिसकारी उठने लगी।

इस बार, जब मैं बोतल घुमाया, स्नेहा का मुंहबोतल की तरफ था और उसका पीछे वाला हिस्सा मेरी तरफ था।

मैंने स्नेहा से कहा कि तुम अपनी हाफ पैन्ट निकाल दो।

तो उसने चड्डी पहनी हुई हाफ पैंट निकाली।

वह मेरे लिंग पर बैठ गई।

वह जोर से चिल्लाई, जब मेरा लंड पूरी तरह उसकी गांड में घुस गया।

दोस्तो, अब मुझे बर्दाश्त नहीं हुआ, तो मैंने स्नेहा को घोड़ी बना दिया और ऊपर से धक्के लगाने लगा।

कुछ देर बाद स्नेहा शौचालय चली गई।

तब पूजा पूरी तरह से नंगी हो गई।

फिर मैंने पूजा को जमीन पर डालकर उसकी चूत चाटने लगा।

5 मिनट के बाद वह पानी छोड़ने लगी और विनती करने लगी कि कृपया मुझे चोदो।

मैंने उसकी चूत पर जोर से धक्का मारा।

पूरा लंड उसकी छेद में समा गया था।

मैं जोर से धक्का लगाने लगा।

Nude Cousin Sister Porn Xxx Kahani

मैं करीब दहाई मिनट बाद उसकी चूत में झड़ गया।

फिर हम तीनों ने एक साथ नहाया।

रात के खाने के बाद मैं और तीनों ने बहन की चुदाई की।

रात भर सेक्स करने के लिए मैं, पूजा और स्नेहा एक ही बेड पर सोये।

आरती अलग-अलग सोई।

रात को मैंने पूजा और स्नेहा को चोदा और फिर हम सो गए।

मैंने अपनी सगी बहन को इस तरह चोदा।

अगले दिन, मैंने दोनों को पेन किलर और गर्भ रोकने वाली गोली लाकर दी ताकि वे कॉलेज जा सकें।

वह कॉलेज नहीं गई क्योंकि अगले दिन आरती का एग्जाम था।

आरती और मैं घर पर ही थे।

रात में आप लोग क्या कर रहे थे, भैया, बहुत आवाज आ रही थी, मैं सो भी नहीं पाई।

मैंने कहा, “अरे पागल, मैं उन लोगों को परीक्षा की तैयारी कर रहा था ताकि वे परीक्षा में अच्छे से लिख सकें!”

आरती ने कहा, भैया, मुझे भी अच्छे से तैयार करो।

मैंने कहा कि उसके लिए मेरी बात सुननी चाहिए।

इसे भी पढ़ें   पड़ोसी औरत और उसकी लड़की को चोदा | Antarvasna Sex Xxx Kahani

हां, भाई, ठीक है, उसने कहा।

मैंने उससे छत पर कमरे में आने को कहा।

मैंने उससे कहा कि नाइटी पहन लो जब वह छत पर आ गई।

वह पूछने लगी, “भाई, नाइटी में क्यों?

मैंने कहा कि मैं बोल रहा हूँ, उसी तरह व्यवहार करो।

ठीक है, वह कहती थी।

और एक नाइटी पहनकरआई।

मैंने उससे कहा कि मैं आपकी आंखों पर पट्टी बांध रहा हूँ और आपको कुछ छूकर बताना होगा।

फिर मैंने उसके हाथ में अपना लंड दिया और पूछा: यह क्या है?

मैं नहीं जानती, उसने कहा जब उसने उसे छुआ।

Antarvasna Sister Ki Xxx Chudai Ki Kahani

मैंने कहा, “ठीक है, मुंह खोलो!”

मैंने उसके बालों को पकड़कर उसके मुंह को आगे पीछे करने लगा और अपना लंड उसके मुंह में डालने लगा।

मैं संतरे के बूब्स को दबाने लगा।

मैंने उसको पूरी तरह से अपनी बाहों में कसकर बेड पर ले गया और उसकी नाइटी उतार दी, जिससे वह पूरी तरह से नंगी हो गई।

मैंने उसकी गुलाबी चूत से खेलना शुरू किया।

शुरू में वह मेरा विरोध करती थी, लेकिन कुछ देर बाद उसकी चूत से पानी निकल गया।

नहीं करो भैया, दर्द होगा, उसने कहा। मेरी सहेली ने बताया।

मैंने कहा कि नहीं पागल बहुत मनोरंजन है।

मेरा लंड फिसल गया जब मैंने उसकी चूत पर अपना लंड रखकर उसकी बांहों में जकड़ा।

फिर मैंने एक जोरदार थूक लगाया और धक्का लगाया।

उसकी चूत से खून निकलने लगा जब मेरा औजार आधा घुस चुका था।

दर्द से वह रोने लगी और चिल्लाने लगी।

ये कहानी भी पढ़े – बहन मेरे लंड के नीचे आ गई। Xxx Brother and Sister Sex Story in Hindi

दो या तीन मिनट के बाद, मैंने धीरे-धीरे धक्का लगाना फिर से शुरू किया।

अब पूरा लौड़ा उसके अंदर जा रहा था, वह सिसकारियां ले रही थी—आह उह ईईई!

हम दोनों ने बहन को काफी देर चुदाई करने के बाद पानी छोड़ दिया।

फिर उसने कहा, “भाई, बहुत मजा आ रहा था, अब हर दिन करेंगे।”

मैं स्नेहा, पूजा और आरती अब हम लोग समूह में सेक्स करते हैं। सुबह, रात, दोपहर.. जब भी मन करता हैं।

प्रिय पाठक, मेरी Antarvasna Three Sister Sex Story पर आपका क्या विचार था? मुझे कमेंट में जरूर बताये।

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment