दो दोस्तों की आपसी चुदाई की कहानी | Two Friends hindi gay sex stories

Two Friends hindi gay sex stories पढ़े | मेरे दोस्त ने मुझे अपनी गांड मरवाने से पहले मेरी गांड मारी। हम दोनों का पहला सेक्स था। हम सिर्फ गे वीडियो देखकर ऐसा करने का विचार नहीं करते थे।

मैं (काल्पनिक नाम) राकेश हूँ और मैं Antarvasna की सभी कहानियां पढ़ता हूँ।
और क्योंकि मुझे ये सेक्स कहानियां पढ़ना अच्छा लगता है, मैंने सोचा कि मैं भी अपनी कहानी दूसरों से शेयर करूँगा!

आज से चार साल पहले Two Friends hindi gay sex stories हुई थी।

मैं अपने बारे में बताना भूल गया: मैं राजस्थान में रहता हूँ, 28 साल का हूँ और 5 फुट 4 इंच का हूँ।
मेरे घर में मम्मी-पापा, हम दो भाई रहते हैं। मैं भाई से छोटा हूँ।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

Gay Sex Stories In Hindi 

यह मेरी और मेरे दोस्त की कहानी है। हम लगभग समान उम्र के हैं। बस मेरी लंबाई थोड़ी ज्यादा है।

मैं और मेरा दोस्त चमन (बदला हुआ नाम) एक साथ पढ़ते हैं और हमारा घर भी एक किलोमीटर की दूरी पर है।
इसलिए, पढ़ाई के लिए मिलना जुलना जारी रहता है।

दो दोस्तों की आपसी चुदाई की कहानी | Two Friends hindi gay sex stories

हमारे उस समय फाइनल ईयर के एग्जाम थे, इसलिए हम बस एक साथ पढ़ना चाहते थे।

परीक्षाओं के दौरान ही मेरे मम्मी के ननिहाल में किसी की शादी हुई, जहां हर कोई जाना चाहिए था, लेकिन मैं अपनी परीक्षा के कारण नहीं जा सका।

तो मेरे पिता ने मुझे छोड़कर सबका जाना तय किया।

मेरी परीक्षा दो दिन बाद हुई।

मैं घर पर अकेला रुक ही जाता हूं, इसलिए घरवालों को कोई परेशानी नहीं हुई।

जब वे चले गए, मैंने अपने दोस्त को फोन किया और कहा कि अगर संभव हो तो दो दिन यही मेरे घर आकर आराम से पढ़ाई करेंगे। मैं घर पर अकेला हूँ।
वह भी खुश था कि चढ़ती जवानी में छोटे मोटे नशे के कारण दो से चार दिन आराम से सिगरेट पी जाएगा, कोई रोकने वाला नहीं!

वह भी आया।
वह आया तो शाम हो चुकी थी।
तो मैंने कहा कि भाई दो पैकेट सिगरेट और दो बोतल ले आओ। मैं खुश रहूँगा।

इसे भी पढ़ें   सेक्स की भूख ने मुझे रंडी बना दिया -2 | Xxx Group Antarvasna Chudai Ki Kahani

वह एक घंटे बाद घर आया और दो बीयर और एक सिगरेट लाया था।
हमने बाहर से खाना मंगाया।

तब हम घंटे भर पढ़ने बैठे रहे।

फिर हमने बीयर पीकर खाना खाने लगे।

Gay Friends Hindi Sex Stories

फिर हमने फैसला किया कि मोबाइल पर कुछ पोर्न देखेंगे।
हम अपने फोन पर पोर्न फिल्म देखने लगे।

तभी एक गेम खुला।
हम उस समय बहुत कुछ नहीं समझते थे, इसलिए दोनों लड़के आपस में क्या और कैसे काम करते हैं देखने लगे।

उस दौरान, वे बेड पर एक दूसरे का लिंग चूस रहे थे और फिर एक दूसरे की गांड मारने लगे।
यह देखकर हम भी गर्म हो गए और दोनों ने अपने लिंग को हाथों से सहलाने लगे।

दो दोस्तों की आपसी चुदाई की कहानी | Two Friends hindi gay sex stories

फिर मैं अचानक चमन की जांघ पर हाथ रखकर सहलाने लगा।

मैं धीरे-धीरे उसके लन्ड पर हाथ फेरने लगा।
ऐसा करने में चमन भी खुश हो गया। मेरी कमर पर भी हाथ फेरने लगा।

जब मैंने उसके पेट को खोला, तो वह कुछ नहीं बोला।
तब मैंने उसके अंडरवीयर और नंगी जांघों पर हाथ फेरने लगा।

फिर मैंने पूछा, “भाई, एक बार फिर करो क्या?” बोल का क्या मतलब है?

मेरी बात पर वह हल्का सा हँस पड़ा।
इसलिए मैंने पाया कि चमन मेरे सुझाव पर सहमत है।

फिर हम बेड पर आकर एक दूसरे को लिप किस करने लगे।
हम एक दूसरे के शरीर पर हाथ फेर रहे थे और एक दूसरे का लंड कपड़ों के बाहर से सहला रहे थे।

दोनों को पहली बार सेक्स करना बहुत अच्छा लगा।

किस करते हुए, उसने मेरी छाती पर हाथ फेरने, किस करने और जीभ से चाटने लगा।

यह सब करना मेरा पहला अनुभव था, इसलिए बहुत मज़ा आया।
फिर मैंने उसका बनियान और शर्ट भी उतार दिया।

और मैं उसकी कमर, पेट और छाती पर हाथ फेरने लगा।
मैं उसके शरीर को जीभ से चाटने लगा।

यह सब करके हम दोनों बहुत खुश हो गए।

फिर मैंने उसे खड़ा करके उसका अंडरवियर उतार दिया, जिससे उसका छह इंच लंबा लंड एक झटके से सामने आ गया।

इसे भी पढ़ें   बारिश में भीगे हुए मैडम के चुचे। Xxx Collage Teacher Sex Stories

Indian Gay Sex Stories In Hindi

चमन सिसकारी लेने लगा जब मैं उस पर हाथ फिराने लगा।

फिर मैंने उसके लिंग पर किस किया और जीभ फेरने लगा।
और वह मेरे सिर पर हाथ फेरने लगा।

फिर मैंने उसका लन्ड चूसने लगा।
वह अपने मुख से आह… उह… उम्म… आह्ह उम्म्ह की आवाज़ निकालते हुए मेरे सिर को अपने लन्ड पर दबाने लगा।

मैंने लगभग पांच मिनट तक उसका लन्ड चूसा और फिर खड़ा हो गया।
लंड चूसने में मुझे बहुत मजा आया!

फिर चमन ने मुझे खड़ा किया और एक झटके में मेरा पजामा और अंडरवीयर उतार दिया।

उसके लन्ड से मेरा लन्ड थोड़ा छोटा है।

फिर वह मेरा वीर्य चूसने लगा।

क्या बताऊं, मैं जन्नत की सैर करने लगा जब मुझे लिंग चुसाया गया।
राकेश ने चार-पांच मिनट तक मेरा लिंग चूसने के बाद कहा, “चलो शुरू करें क्या?”
मैंने कहा, “हाँ, ठीक है!”

फिर मैं बिस्तर पर घोड़ी बन गया। वह पीछे से मेरी गांड के होल पर जीभ फेरने लगा।

दो दोस्तों की आपसी चुदाई की कहानी | Two Friends hindi gay sex stories

मैं बहुत खुश होने लगा।
फिर उसने एक तेल की शीशी लाकर मेरी गान्ड और लन्ड पर तेल लगाया।

वह अपने लिंग का सुपारा मेरे गांड पर फिराने लगा।
मैं इसे बहुत पसंद करने लगा।

ज्यादा तेल लगाने से मेरा गांड का छेद थोड़ा नरम हो गया।
उसने तुरंत अपना लिंग मेरी गांड में दबाया, जिससे उसका सुपारा एक ही बार में मेरी गांड में घुस गया।

और मुझे इतना दर्द हुआ कि लगता था कि किसी ने मेरी गांड में ब्लेड डाला है!
उसने मुझे रोका और मुझे चिल्लाने से रोका।

वह मेरी कमर के दर्द को समझते हुए मेरी गांड पर किस करने लगा और हाथ फेरने लगा।
थोड़ा आराम मिलने पर मैं अपनी गांड हिलाने लगा।

तो वह समझ गया और अपना लन्ड धीरे-धीरे अन्दर डालने लगा।
मैं भी खुश होने लगा।

Gay Hindi Sex Story Desi Xxx Kahani

धीरे-धीरे उसका पूरा लिंग मेरी गांड में आ गया।
फिर वह अपनी कमर आगे पीछे करने लगा और झटके मारने लगा।
साथ ही, वह मेरी गर्दन पर चिल्लाने लगा।

इसे भी पढ़ें   जूनियर की माँ और मेरा लंड। Desi Aunty Ki Xxx Chudai Kahani

मैं शब्दों में उस खुशी का वर्णन नहीं कर सकता।
दोस्तों, मैं बहुत खुश था।

थोड़ी देर मेरी गांड चुदाई के बाद, उसने मुझे सीधा लिटाया और मेरी टांगें अपने कंधों पर रखकर कहा, “भाई राकेश, तू तो खिल गया!”
और हमें हंसी आने लगी।

फिर उसने एक झटके में अपना लन्ड मेरी गान्ड में डाल दिया।
इस बार मुझे अधिक मजा आया और कम दर्द हुआ।

फिर आठ से दस मिनट बाद उसके झटके तेज हो गए, तो मैंने समझा कि वह गिरने वाला था, इसलिए उसे अपना लन्ड निकालने को कहा और फिर उसे अपना पानी मेरी छाती पर निकालने को कहा।
उसने भी ऐसा ही किया; उसने मेरी छाती पर पिचकारी मारी, जो मेरे चेहरे पर भी गिरी।

उसने पहले मेरा चेहरा धोया, फिर मेरी छाती पौंछा।

ठीक उसी तरह मैंने भी उस दोस्त की गांड मारी!

तब से, हम दोनों एक दूसरे की यौन इच्छा को गे सेक्स से पूरा करते हैं जब भी मौका मिलता है।

दोस्तो, यह मेरी पहली कहानी है, इसलिए शायद मैं अपना अनुभव सही ढंग से नहीं बता सका।
इसलिए मैं माफी चाहता हूँ।

ताकि मैं और कहानियां भेज सकूं, आप मेरी Two Friends hindi gay sex stories पर प्रतिक्रिया दें।
मेरी कहानी पढ़ने के लिए सभी को धन्यवाद।

आप अपने विचार मुझे मेल करके भी भेज सकते हैं।

rakesh8787rk@gmail.com

Read More Sex Story…

हॉट इंडियन लेडी सेक्स का मजा लिया | Hot Indian Lady Antarvasna Story

Freesexstory in hindi, मालकिन को पिलाया प्यार का रस

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment