रिश्ते की मामी को चोदा। Porn Xxx Mami Fuck Kahani

Porn Xxx Mami Fuck Kahani में मैंने होटल में एक दूर के रिश्ते की मामी को चोदा। वह शादी में हमारे घर आई थी, लेकिन मैं उन्हें स्टेशन से लाते समय पटा कर होटल में ले गया।

मित्रों, मैं रवि हूँ। मैं 29 साल का चौड़ा लंबा मर्द हूँ।

ये Porn Xxx Mami Fuck Kahani मेरी दूर की मामी मीनू की है।

मेरे भाई का विवाह दो दिन पहले हुआ था।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

दिल्ली से मामी हमारे घर आ रही थीं।

यह ट्रेन सफर चार घंटे का था।

आपने मेरी पिछली कहानी चाची के ज़बरदस्ती बूब्स दबाये। Hot Xxx Chachi Batija Ki Chudai Kahani

पढ़ी थी।

मैं घर से गाड़ी लेकर स्टेशन पर उन्हें ले गया।

Antarvasna Mami Ki Xxx Chudai Ki Kahani

जब वे आई तो मैंने उन्हें देखकर नमस्ते की और उनका सामान गाड़ी में रखकर आगे बैठा लिया।

मामी ने पंजाबी सलवार सूट पहना हुआ था।

उनकी हाइट पांच फुट आठ इंच की थी और उनका भरा हुआ बदन ऐसा था जैसा कि MILF पॉर्न फिल्म्स में होता है।

लाल सूट में वो एकदम सेक्सी लग रही थीं।

इस समय दोपहर हो गई थी। यह ठंड का मौसम था।

उनसे वैसे ही बातचीत होती रही।

तब उसने कहा: “मुझे हील्स लेने हैं, किसी अच्छी दुकान पर चलो।”

उन्हें मैं लेकर चला गया।

मैं उनको लेकर शॉप में पहुंचा तो हम दोनों को हर कोई देखने लगा।

हम दोनों आकर्षक और औसत से कुछ ज्यादा ऊंचे लग रहे थे।

जब वे हील्स चैक करने के लिए अपने हील्स उतारे, तो मैं उनके चिकने पांव और गोरेपन को देखकर पागल हो गया।

मुलायम, सफ़ेद मक्खन के पैर देखकर मैं हैरान हो गया।

मैं उनके पैरों को देखकर सोच रहा था कि ऐसे पैरों की चूत कैसी होगी।

ये सब सोचते ही मेरा लिंग उठने लगा।

मैं खड़ा था, लेकिन वे कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

कुछ देर बाद उन्होंने अपने लिए हील्स लेकर वापस गाड़ी में बैठ गईं।

अब वो पूछने लगीं, “तुम मेरे पैरों को इतना ध्यानपूर्वक क्यों देख रहे थे?”

मुझे नहीं रहा गया और मैंने कहा कि जो होगा देखा जाएगा: मामी, आपके पांव इतने सुंदर हैं कि मैं आपकी हील्स में होता। सच में, आप बहुत सुंदर हैं मामी। तुमसे एक बार प्यार करना चाहता हूँ।

वह हंसते हुए कहा, “हम्म… ये इरादा अच्छा है?”

क्योंकि उनके पति अब नहीं थे।

मैंने पूछा: हां, आपका क्या लक्ष्य है?

उसने वासना से मुझे देखकर कहा कि यही मेरा भी है। लेकिन अभी नहीं!

मैंने बहाने बनाकर उन्हें आश्वस्त किया।

कुछ देर के बाद वह मान गईं।

फिर मैंने घर पर फोन किया और कहा कि मामी का फोन आया है, वह कल आएगी और मैं काम से जा रहा हूँ।

मेरे ऐसा फोन करते हुए देखकर मामी मुस्कुराने लगीं।

मैंने पांच स्टार होटल में एक कमरा बुक किया और एक रेड लेबल व्हिस्की की बोतल ले ली।

होटल में हम दोनों एक कमरे में चले गए।

मैं कमरे में जाते ही मामी के गले लग गया।

मामी ने भी बहुत हल्की हग की।

मैं बहुत खुश हो गया।

उनके हग से मुझे पता चला कि मामी भी प्यार के लिए तड़प रही हैं।

क्योंकि कोई पति नहीं होने पर एक स्त्री के दुःख को समझ सकते हैं।

फिर चूमाचाटी शुरू हुई और हमारा आलिंगन कुछ कम हुआ।

इसे भी पढ़ें   मेरे पड़ोस की सेक्सी चाची। Chachi Ki Chudai Ki Kahani

हम दोनों एकदम शांत हो गए जब शुरुआत धीमी हुई।

उनके दोनों होंठ मेरे होंठों में फंस गए।

हम एक दूसरे की जीभ चूसने लगे।

उनके चूतड़ों को मेरे दोनों हाथों से मसला जा रहा था।

वह मेरे बालों में हाथ डाल रही थी और उनका दूसरा हाथ लंड पर चल रहा था।

हम लगातार एक दूसरे के होंठ चूसते रहे।

हम दोनों के चेहरे जल गए।

फिर मैं रुका नहीं।

मैंने उनको दीवार के साथ उल्टा खड़ा करके उनके चूतड़ों में मुँह डाला।

दो मिनट बाद, उन्होंने कहा, “अभी रुको, जरा सब्र करो, बहुत मज़ा आएगा।”

मैं उठकर मामी को चूमने लगा।

मामी ने मुझे बाहर निकालकर सोफे पर बैठ गईं।

अब मैंने पैग बनाया और हम दोनों चियर्स करके कुछ पेग लेने लगे।

तीन पैग के बाद मैं उनके साथ खोने लगा।

मैं चौथा पैग बनाकर उनके सामने नीचे बैठ गया।

मामी ने नीचे बैठे होने का कारण पूछा।

मैंने कहा, मामी, जो प्यार आप चाहते हैं। तुम्हारे शरीर का हर अंग मुझे चूमना है।

ये सुनकर उनका शरीर गर्म हो गया।

तब मैंने नीचे बैठे बैठे उनका एक पांव उठाकर हील्स के ऊपर से किस किया।

उनके पांव और हील्स की सुगंध क्या सुंदर थी!

फिर मुँह से ही उनके पैरों को चूमने लगा।

धीरे-धीरे उसके पूरे पंजे को, पैर के अंगूठे से सभी उंगलियों तक चूमता चला गया।

इससे मामी भी थक गईं।

Hot Mami Ki Sexy Stories

फिर उन्होंने हील्स पहने हुए अपने पैर मेरी गर्दन के पीछे करके डाल दी।

मैं अपने पैर से नीचे झुकाकर दूसरे पैर पर मुँह लगाया।

मैं पागल हो गया।

उसने कहा, “तुम मेरा टॉय ब्वॉय जहाज हो।”

उसने दूसरे पांव से एक थप्पड़ जैसा मारा और अपनी हील्स मेरे मुँह में डाल दी।

मैं इतना उत्तेजित हो गया कि मैं बता नहीं सकता।

रब करके दोनों पांव मुँह पर रखकर एक को मुँह में डाल दिया।

फिर वे सीधे आगे आईं और मेरे मुँह पर ज़ोर से थप्पड़ मारकर मेरा कान खींच लिया।

तुरंत बाद, मामी ने मुझे ज़ीभ चुसवाना शुरू कर दिया और मुझे किस करना शुरू कर दिया।

मैंने जो सोचा था, उससे कुछ अधिक हो रहा था। मैं फटने को तैयार था।

मुझे उठाते हुए वे सोफे पर चढ़ गई।

बाद में मैंने उन्हें गोदी में उठाकर बेड पर लेटा दिया।

रवि, मैं तुम्हें प्यार करती हूँ… बस आज मुझे पूरी तरह प्यार करो। मैं प्यासी हूँ।

मैंने उनकी लाल ब्रा और कमीज उतारी। मेरे सामने गोल, टाइट चूचियां थीं।

मैं लपककर दबाने और चूसने लगा। मामी का दूध चूसने लगा।

“आह आह आअहह…” वह अपने मुँह से बोलने लगी।

फिर मैं बारी-बारी से मामी की चूचियों के निप्पलों को दांतों से चूसने लगा।

मामी भी मुझे अपने सीने में दबाकर दूध चुसवाने और लेने का मजा देती थीं।

हम दोनों एक साथ सातवें आसमान में उड़ रहे थे।

फिर गर्दन के नीचे उनको किस करने लगा।

उन्हें पागलपन आने लगा।

मैं फिर से उनके पेट पर आ गया और सलवार उतार दी। मैं मामी की मक्खन सी जांघों को चाटने लगा।

मुझे अपनी जांघों के बीच दबाती हुई पागल होने लगीं, अपने पैर फैला कर।

मैं उनके पैरों को चाटने लगा और उनके नीचे आ गया।

इसे भी पढ़ें   नौकरानी को लालच देकर चोदा | Maid Sex For Money Story

मैंने उन्हें फिर से बेड पर उलटा कर दिया।

मैंने अपने दांतों की मदद से मामी की पैंटी खींचकर उतार दी और उनकी गांड की खुशबू ली।

अब मामी पूरी तरह से नंगी थीं।

मैं अपनी जीभ को उनके पांव से लेकर गर्दन तक ले गया।

वह तड़प रही थी और पूरी तरह पागल हो गई थी।

फिर नीचे उतरा और मामी की गांड चाटने लगा।

मामी की गांड की गंध इतनी सुगंधित थी!

मैं उसी बीच मामी की गांड में एक उंगली डालकर उनके चूतड़ों पर बाईट करने लगा।

उन्हें गांड में उंगली मिलते ही उनके मुँह से एक मादक सिसकारी निकल गई।

मामी ने कहा, “आह बस करो बाबा… दर्द होता है।”

तो मैंने कहा कि दर्द में ही मज़ा आता है।

मैंने उनके हाथ पीछे करके उनकी गांड चाटते हुए उन्हें सीधा कर दिया।

मामी ने मुझे अपने ऊपर लिया और एक रसभरी स्मूच दी।

मुझे नंगा होना चाहिए था।

मैं तुरंत नंगा हो गया और उनकी चूत पर मुँह रख दिया।

टाँग खोलकर दोनों हाथों से चूत चाटनी शुरू कर दी।

वह मेरे मुँह को अपनी चूत में दबाने लगी।

मामी की चूत का स्वाद क्या बताऊं?

वह भी अपनी कमर ऊपर उठाकर चूत चुसवाने लगी।

कुछ मिनट बाद मामी की चूत से पानी निकल गया।

जब उनकी चूत का पानी मेरे मुँह में आया, तो मैं पीता चला गया।

उन्हें चूसने के बाद मैं उन्हें चुंबन करने लगा।

अब वो मेरे ऊपर आ गईं और ज़ीभ से मेरे लंड को चाटने लगीं।

वह मेरा लंड पकड़ कर कही, “आज सालों बाद एक लंबा लंड मिल गया है।”

यह कहते हुए, वे मेरे लंड को मुँह में लेकर हलक तक चूसने लगीं।

वो कुल्फी की तरह मेरे लिंग को चूस रही थीं।

फिर ज़ीभ से लंड का टोप चूसने लगीं।

कुछ समय बाद मामी उठकर मुझे किस करने लगीं।

मैंने उन्हें नीचे करके अपना लंड उनकी चूत में डालने लगा।

अपने आप को सैट होने दो, मामी ने कहा और मेरा हाथ हटाया।

लंड ने अपने आप चूत का मुँह खोज लिया, और मैंने गांड उठा कर लंड को हल्का सा अंदर डाल दिया।

जब मोटे लंड का मोटा सुपारा उनकी प्यासी चूत में घुस गया, तो उन्होंने सिसकारी दी।

मामी ने कहा, “आह, आह, जन्नत मिल गई, आह, रुकना मत, पीते जाओ!”

इसके बाद उन्होंने मुझे कसकर पकड़ लिया।

मैंने एक बार फिर झटका दिया और अपना लंड अंदर डाल दिया।

मैंने चार धक्कों में पूरा लंड अंदर डाल दिया।

मेरी कमर पर नाखून मारने लगीं और दर्द के मारे लंबी सांसें लेने लगीं।

उन्हें चोदते हुए मैं झटके मारता रहा।

Indian Mami Hindi Sex Stories

हर चुनौती का मज़ा अलग था।

मैं होंठ पीता, चूची पीता और कभी-कभी कान में जीभ डालता।

दस से पंद्रह मिनट के बाद, वो किस करते हुए मेरे ऊपर आ गईं और लंड पर बैठकर कूदने लगीं।

मामी ज़ोर से चिल्लाने लगीं, “आअहह अहह अआह आअह…” जब लंड उनकी चूत में खलबली मचा रहा था।

फिर दस मिनट कूदने के बाद वह मेरी छाती पर सर रखकर शांत हो गईं।

मामी ने कहा कि अगर कुछ और करना हो तो आ जाओ।

मैंने उन्हें घोड़ी बनाया और उनके चूत में लंड लगाया।

मैं उनकी गांड में उंगली डालने लगा।

इसे भी पढ़ें   विधवा मौसी बनी मेरे बच्चे की माँ। Hot Mousi Hindi Sex Kahani

वह खुशी से चिल्लाती रहीं, “आह कम ऑन बेबी… आह फास्ट आआहह फक मी बेबी फास्ट!”

मैं भी पूरी गति से चोदता रहा।

उसने मुझे गांड में उंगली मारने से रोकने के लिए अपने हाथों को पीछे किया. मैंने अपने दोनों हाथों को कमर के पीछे करके तेज तेज झटके मारने लगा।

उन्हें अधिक दर्द होने लगा।

अब रुक भी जाओ,मादरचोद, मामी ने कहा।

जब मैं रुकने वाला था, तो उनकी चूत में एक लंड पड़ा।

आवाज ठप रही।

फिर मैं उनके बालों को खींचकर किस करने लगा।

पोर्न मामी दर्द से पीछे घूमी और मेरे होंठ चूसने लगी।

मामी एक बार फिर जोरदार चुदने के बाद झड़ गईं।

उन्हें नीचे फर्श पर बैठाकर मैं अपना लंड मुँह में डालकर चोदने लगा।

मैं सिर्फ उनके मुँह में रस छोड़ दिया।

वह सब कुछ पी गईं।

मैंने उन्हें गोदी में उठाया और उन्हें नंगा करके सोफे पर बैठा दिया।

जब मैंने पैग बनाया, वो मेरे कंधे पर सर रखकर भावुक होने लगीं।

मैं उन्हें किस करता रहा और एक हाथ से उनकी गोल गोल चूचियों को मसलता रहा।

फिर उठकर वॉशरूम में मूतने के लिए चली गईं।

मैंने उन्हें पकड़ा और उनके साथ गया।

उसने कहा, “तुम क्यों आए हो?” मैं पेशाब करूँगी।

मैंने कहा कि प्यार का अंतिम चरण अभी बाकी है।

उसने पूछा, “वह क्या है?”

मैं बिना कुछ कहे सीधा फर्श पर लेट गया।

उठो, उन्होंने कहा।

मैंने कहा कि तुम मेरे मुँह में सुसु डालो। मैं सारी पीयूंगा!

उन्हें आश्चर्य हो गया।

मैंने कहा कि अगर आप कुछ मानते हैं तो ऐसा करो।

Hot Mami Ki Desi Chudai Kahani

कुछ देर बाद उन्हें विश्वास आया।

फिर मैं बैठने से पहले मामी ने मेरे मुँह पर पैर डालकर कहा, “तू मेरा पालतू कुत्ता है।”

मैंने कहा, “जी मालकिन!”

उसने यह कहते ही मुँह पर अपनी चूत रखकर मूत्रस्त्राव करना शुरू कर दिया।

परीक्षा कुछ देर के लिए अजीब लगी, लेकिन फिर भी मैं पूरी तरह मूत पी गया।

फिर पोर्न मामी उठकर मुँह पर चूत रगड़ने लगी।

मेरे कान पकड़कर मुझे टॉयलेट से बाहर ले आईं।

ये कहानी भी पढ़े – तलाक़ के बाद चाची को चोदा। Xxx Desi Chachi Ki Chudai Kahani

मैं कुत्ते की तरह निकल गया।

बाहर आकर मैं उनके पैरों में सर रखकर उनके पैरों को चाटने लगा। उन्हें अपने पैरों से मेरे मुंह को रगड़ते हुए पैग बनाया।

पोर्न मामी फक पूरी रात चलता रहा।

मेरा तीन साल का सपना आज पूरा हो गया।

मैं अगले भाग में मामी की गांड मारने की सेक्सी कहानी लिखूँगा।

यह Porn Xxx Mami Fuck Kahani आपको कैसी लगी?

मेल या कमेंट में अधिक जानकारी दें।

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment