Christmas Sex Kahani – महंगे उपहार देकर बॉस ने मेरी चूत चोद दी

Christmas Sex Kahani: हैल्लो दोस्तों मेरा नाम मारिया डी’सूजा है, मैं 26 साल की हूँ और हैदराबाद में रहती हूँ। वैसे तो मैं दिखने में हलकी सांवली, सुडौल होने के साथ आकर्षित भी हूँ, मेरी फिगर की साइज 36–32–38 है और मेरी कद 5’8” है। वैसे तो मैं हर क्रिसमस से पहले अपने घर जती हूँ, लेकिन इस बार मैं क्रिसमस हैदराबाद में मानाने वाली थी. Christmas Sex Kahani

क्यूँकि मेरा नया बॉस क्रिसमस में मेरे अपार्टमेंट में आने वाला था। मुझे अपार्टमेंट भी मेरे बॉस ने दिया था और वो भी बिलकुल फ्री में, लेकिन मैं ये भूल गई थी की कोई भी चीज फ्री में नहीं मिलता। और अगर फ्री में मिलता भी है तो बदले में कुछ देना भी पड़ता है.

मैं ये बात धीरे–धीरे समझने लगी जब मेरा ठरकी बॉस रोज ऑफिस के बाद कॉफ़ी तो कभी क्लब लेकर जाने लगा। और हद तो तब हो गई जब मेरा ठरकी बॉस मुझे गलत तरीके से छूने लगा, हाँथ, कंधे छूने तक तो सब ठीक था, पर कमर पर हाँथ डालना और मेरी गांड छूना ठरकी कहलाता है।

तो मैं ये सारी बात मुंबई में रह रही मेरी मौसी को बताई, जो मुझे अच्छे से समझती है, तो मेरी मौसी मुझे समझाई की ऐसा बॉस किस्मत वालों को मिलता है। जो मुझे इतना सब कुछ बिना फ़ायदा उठाए दे रहा है और ऐसे में बॉस के टट्टे चाटने पड़े तो खुशी–खुशी चाट लेना चाहिए, इससे बॉस और कर्मचारी के बिच एक गहरा संबंध बनता है।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

Read it also: पैसों के ख़ातिर बीवी को चुदवाया

तो मौसी की उन बातों को सुन कर मुझे अपने आप में आत्मविश्वास आ गई थी और मैं क्रिसमस की शाम के लिए पूरी तैयारी करके बॉस को डिनर पर बुलाई थी। तो मैं सोच ली थी की मैं बॉस को प्रभावित करने का एक भी मौका नहीं छोडूंगी, इसीलिए मैं लाल रंग की क्रिसमस मिनी स्कर्ट, ब्रा और सांता क्लॉज़ कैप पहनी थी।

और मैं लग भी काफ़ी सेक्सी माल रही थी, तो करीब 7 बजे मेरे अपार्टमेंट के दरवाजे की घंटी बाजी और मैं समझ गई थी की बॉस ही होंगे। तो मैं जब दरवाज़ा खोली तो बॉस मेरे लिए उपहार लेकर आए थे, पर बॉस की नज़रें मुझे ऊपर से निचे घूर रहे थे…

तो मैं बॉस से मुस्कुराते हुए बोली की : बॉस! आप खड़े क्यों है? अंदर आईए।

तो बॉस होस में आ कर बोले : ओह, हाँ… हाँ… और ये कुछ उपहार है जो मैं तुम्हारे लिए लेकर आया हूँ।

तो मैं बॉस से उपहार लेते हुए बॉस को स्वागत की और फिर बॉस तो मुझे ही घूरे जा रहे थे, वो भी हवस भरी नज़रों से.

तो मैं बॉस से पूछी की : बॉस आप कुछ लेना चाहेंगे? वाइन या व्हिस्की?

तो बॉस मुझे बोले की : ओह, वाओ! तुम तो सारा इंतज़ाम करके रखी हो, व्हिस्की सही रहेगा।

और फिर मैं बॉस को व्हिस्की की गिलास दी और मैं वाइन की गिलास पकड़ी हुई थी और तब मैं बॉस के बगल में ही बैठी हुई थी, फिर हम चियर्स करते हुए एक–एक पैग पिए। और फिर इधर–उधर की बातें करने लगे, लेकिन बॉस तब भी मुझे माप रहे थे और मैं बॉस के खाली गिलास में चार बार व्हिस्की डाल चुकी थी।

इसे भी पढ़ें   दिलचस्प गर्ल देसी चुदाई कहानी | Quite Girl Sexy Kahani

तो बॉस मुझे बोले की : अरे!… मारिया मेरा उपहार तो खोल कर देखो, पसंद आया या नहीं कुछ बताओ।

तो मैं बॉस से बोली की : ओह! सॉरी बॉस मैं भूल गई थी।

तो मैं सामने के टेबल पर बॉस के दिए उपहार को अपनी गांड दिखाते हुए खोलने लगी और जब मैं पहले उपहार को खोली तो उसमें आईपैड प्रो था। और दूसरे उपहार में तनिष्क का 22 कैरेट के सोने का हार था और मैं तो इतनी खुश थी की खुशी में ये भी भूल गई थी की मैं मिनी स्कर्ट पहनी हुई हूँ और में गांड दिख रही है। वो तो जब बॉस अचानक से मेरी गांड में फंसी पैंटी को खींचे तब मैं चौंकते हुए पीछे मुड़ी.

Read it also: मालिक के लड़के ने मेरी माँ को चोद दिया

तो बॉस मुस्कुराते हुए बोले : तो बताओ मारिया कैसा लगा मेरा उपहार?

तो मैं बॉस से मुस्कुराते हुए बोली : बहुत ही महंगे उपहार लेकर आए हो आप बॉस मेरे लिए, मुझे बहुत पसंद आए।

तो बॉस मुस्कुराते हुए बोले : एक और उपहार है तुम्हारे लिए मारिया।

ये कहते हुए बॉस अपने ब्लेज़र से एक लिफाफा निकाल कर मुझे दिए और जब मैं उस लिफाफा को खोली तो उसमें पदोन्नति पत्र (promotion letter) था। बॉस मुझे अपनी निजी सचिव बनाना चाहते थे और मेरी पगार 60 से 70 हजार मिलने वाली थी, तो जब मैं पदोन्नति पत्र पढ़ रही थी,  तभी बॉस अपने पैंट से लंड निकाले हुए थे।

तो बॉस मुझे बोले की : मुझे लगता है मारिया तुम्हें ये उपहार भी पसंद आएगा।

तो मैं सोची की बॉस पदोन्नति की बात कर रहे है, लेकिन जब मैं बॉस के तरफ देखी और उनके काले खड़े मोटे नाग जैसे लंड को देख मैं चौंक ही गई थी। बाप रे!… बॉस का इतना मोटा लंड हो मैं सोची नहीं थी, ऊपर से बॉस का लंड चमक रहा था, तो बॉस मेरी एक हाँथ को पकड़े और अपने खड़े गरम लंड को पकड़ा दिए उउफ्फ्फ…

तो मैं बॉस से शरमाते हुए बोली : बॉस, मुझे आपके सारे उपहार में से ये उपहार ज्यादा पसंद आई।

तो बॉस मुझे बोलने लगे की : तो इतना शरमा क्यों रही हो मारिया? ये तुम्हारी पहली बार तो नहीं है।

तो मैं बॉस से बोली की : मैं सोची नहीं थी कि आपके पास इतना बड़ा होगा।

तो बॉस मेरे थोड़े करीब आए और अपने मुँह से जीभ बाहर निकाले, मैं समझ गई थी मुझे क्या करना है, मैं बॉस के जीभ को अपनी मुँह में लेकर चूसने लगी। और बॉस मेरी ब्रा के ऊपर से मेरी दाईं ओर की चूची को दबा रहे थे, ईईस्स्स्स… माहौल पूरा गरम होने लगा था, फिर चुम्मा–चाटी 5–6 मिनट तक होती रही।

और फिर बॉस अपना पैंट थोड़ो और सरकाते हुए मुझे लंड चूसने का इशारा दिए, तो मैं सोफा में डॉगी स्टाइल में आ गई और जब बॉस के लंड के पास अपनी मुँह लाई। तभी मुझे बॉस के लंड से सांडा तेल की बड़ी तेज़ गंध आई, लेकिन तब मैं बॉस को खुश करने का पूरा मान बना चुकी थी, इसीलिए मैं बॉस के लंड से आती हुई गंध को नज़रअंदाज़ की।

और बॉस के लंड को अपनी मुँह खोल के मुँह में लेली और धीरे–धीरे चूसने लगी उउफ्फ्फ… ईईस्स्स्स… बॉस को भी मज़ा आने लगा था और वो भी ईईस्स्स्स… आहहह… कर रहे थे। मैं बॉस के लंड को चूसते हुए चोपा भी लगाने लगी थी और उनके लंड के गुलाबी सुपाड़ी को जीभ से चाट रही थी उउफ्फ्फ… सोची नहीं थी इतना मज़ा आने लगेगी।

इसे भी पढ़ें   मम्मी और चाची दोनों की एक साथ चुदाई | Family Group Sex Story

और बॉस मेरी स्कर्ट उघारे मेरी पैंटी को एक तरफ सरका कर मेरी गांड की छेद में ऊँगली किए जा रहे थे उउह्ह्ह… ईईस्स्स… उउह्ह्ह… जिससे मैं और भी उत्तेजित हो जा रही थी। और मैं बॉस के लंड को अपनी लार से पूरा लतपत कर दी थी, तब बॉस उठे और मेरे पीछे आए मेरी गांड में चाटक… से मेरी गांड में थपड़ मारते हुए मेरी पैंटी उतारे।

और बॉस मेरी गांड को खोल कर गांड की खुली हुई छेद में थूके और अपने ऊँगली को छेद में घुसा कर गांड में ऊँगली करने लगे ईईस्स्स्स… उउह्ह्ह… उउफ्फ्फ… और बॉस बड़े तेज़ी से मेरी गांड में ऊँगली अंदर–बाहर करने लगे और मैं आहहह… उउह्ह्ह… करने लगी थी, फिर बॉस मेरी गांड से ऊँगली निकाल कर मेरी फैला कर चाटने लगे।

ईईस्स्स… उउह्ह्ह… बॉस जब मेरी गांड खोल के चाट रहे थे, तब उनका मूछ और दाढ़ी चुभ भी रही थी, जिससे मैं आहहह… ईईस्स्स… आहहह… करने लगती थी। और बॉस मेरी चूत से गांड तक चाट–चाट के एक दम चिपचिपा कर दिए थे…

तो बॉस मुझे बोले की : ईईस्स्स्स… ओह, मारिया मैं तुम्हारी ये मस्त गांड पूरी रात चाट सकता हूँ।

तो मैं बॉस से बोले की : ओह, हाँ बॉस आप पूरी रात चाट सकते है, आखिर आप मेरे बॉस जो है।

तो बॉस मुझे बोले की : बॉस तो हूँ मैं तुमहारा मारिया और आज मैं उसी बात का पूरा फ़ायदा उठाऊंगा।

ये कहते हुए बॉस पहले तो अपने लंड में कंडोम लगाए और फिर बॉस मेरी गीली चूत में लंड रगड़ते हुए मेरी चूत में घुसा दिए ईईस्स्स्स… आहहह… और फिर बॉस मेरी कमर पकड़ के मुझे चोदना शुरू कर दिए, उउफ्फ्फ… आह्ह्ह्ह… ईईस्स्स्स… बॉस बड़े ज़ोर–ज़ोर के धक्के देते हुए मुझे चोद रहे थे। “Christmas Sex Kahani”

और फिर बॉस मुझे चोदते हुए मेरे ऊपर चढ़ गए और साथ ही मेरी चोदन जारी रखे और मैं ओह्ह्ह… आह्ह्ह्ह… ईईस्स्स्स… आह्ह्ह्ह… बॉस ऐसे ही चोदीये मज़ा आ रहा है उउफ्फ्फ… और तब बॉस के धक्के से थप… थप… की आवाज़एं पुरे अपार्टमेंट में गुंज रही थी, तभी बॉस मेरी चूत चोदते हुए मेरी गांड की छेद में लंड लगाए। “Christmas Sex Kahani”

और फिर बॉस अपने लंड के मोटे सुपाड़ी को मेरी गांड की छेद में घुसा दिए उउफ्फ्फ… आहहह… वैसे तो मेरी गांड पहले भी चुदाई है, लेकिन जब भी लंड घुसता है दर्द होती ही है। तो बॉस का मोटा सुपाड़ी मेरी गांड में घुस चूका था और बॉस धीरे–धीरे धक्का मारते हुए अपने लंड को मेरी गांड की गहराई में धकेल रहे थे उउफ्फ्फ… आहहह…

मेरी तो गांड से पाद ही निकाल जा रही थी ईईस्स्स्स… और आखिरकार बॉस मोटा लंड मेरी गांड में पूरा घुस ही गया ईईस्स्स्स… उउह्ह्ह… और बॉस मुझे चोदना शुरू किए। ईईस्स्स्स… उउह्ह्ह… और साथ ही बॉस मेरी ब्रा की हुक को भी खोलने लगे, मेरी ब्रा खुलते ही मैं पूरी नंगी हो गई थी और बॉस मेरे ऊपर चढ़ कर मेरी गांड की ताबड़तोड़ चुदाई कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें   मेरे परिवार की सेक्स कहानी - Open Minded Sasural

साथ में बॉस मेरी चूचियों को कस–कस के दबाते हुए पसीना निकाल दे रहे थे उउफ्फ्फ… ईईस्स्स्स… और बॉस के बड़े टट्टे सीधे मेरी चूत में लग रही थी आहहह… ईईस्स्स्स… और ऐसे ही 15–20 मिनट तक बॉस मेरी गांड चोदते रहे और मेरी पाद निकलते रहे उउफ्फ्फ… फिर जा कर बॉस मेरी गांड से अपना लंड निकलते हुए थपड़ मारे ईईस्स्स्स… आहहह…

और मेरी चुदाई हुई गांड को चाटने लगे, मैं सोची नहीं थी की बॉस इतने गंदे चोदते है, मेरी गांड की छेद पूरी खुली–खुली महसूस हो रही थी। लेकिन मज़ा भी आ रही थी, क्यूँकि बॉस मेरी गांड को बड़े मज़े से चाट रहे थे ईईस्स्स्स… उउफ्फ्फ…लेकिन बॉस का निकला नहीं था। “Christmas Sex Kahani”

इसीलिए बॉस मुझे सीधा लेटाए और मेरी दोनों टांगों को फैला कर मेरी गीली चूत में अपने टन टनाया लंड को घुसाए आहहह… और मुझसे लिपट कर मुझे चूमते–चाटते हुए चोदने लगे। तब मैं बॉस के पीठ को अपने दोनों पैरों से जकड़ रखी थी और बॉस अपना साल भर का हवस मेरी ताबड़तोड़ चुदाई करते हुए बुझा रहे थे उउफ्फ्फ… ईईस्स्स… आहहह…

ऐसा लग रहा था की बॉस आज मेरी हालत ख़राब करके ही छोड़ेंगे ईईस्स्स… उउफ्फ्फ… बॉस का लंड मेरी चूत में अंदर–बाहर होते हुए मेरी चूत से सफ़ेद पानी निकाल रहा था। और तभी बॉस मेरे ऊपर से उठे और मेरी दोनों जांघों को ऊपर उठा के पूरा ज़ोर–ज़ोर के धक्के देते हुए आह्ह्ह्ह… आह्ह्ह्ह… ईईस्स्स्स… मुझे चोदने लगे।

Read it also: पैसों के ख़ातिर बीवी को चुदवाया

और करीब 10–15 धक्के देने के बाद बॉस मेरी गीली चिपचिपी चूत में 3–4 कस–कस के झटके दिए और मैं आह्ह्ह्ह… आह्ह्ह्ह… ईईस्स्स्स… करते कराह उठी। और तभी मुझे अपनी चूत में बॉस के गरम मुठ का महसूस हुआ और फिर जा कर बॉस अपना लंड मेरी चूत से बाहर निकाले, उउफ्फ्फ… बॉस का मुठ भरी मात्रा में निकला था। “Christmas Sex Kahani”

अच्छा हुआ बॉस ने कंडोम पहना था, वरना मेरी चूत से भी बॉस का मुठ निकल आता, तो फिर बॉस अपने लंड से मुठ से भरे कंडोम को निकाले। और फिर बॉस अपने मुठ लगे लंड को मेरी मुँह के पास लेकर आए, जिसे मैं मुँह में लेकर चूस–चाट कर साफ की…

तो बॉस मुझे बोले की : ओह, मारिया तुम्हें मेरी निजी सचिव बना के मैंने कोई गलती नहीं किया।

तो मैं बॉस से बोली की : मुझे ख़ुशी हुई की आपने मुझे अपनी निजी सचिव बनाया।

और फिर हम दोनों बाथरूम जा कर एक दूसरे को साफ किए और व्हिस्की, वाइन पीते हुए क्रिसमस मनाए।

दोस्तों आपको ये Christmas Sex Kahani मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे……………

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment