मालिक के लड़के ने मेरी माँ को चोद दिया | Mom Chudai Ki Hindi Sex Stories

यह Mom Chudai Ki Hindi Sex Stories पढ़ें, जिसमे मेरे सेठ के बेटे ने मेरी माँ की चुत और गांड चुदाई की। मैं पूरा नहीं देखा, लेकिन मैंने काफी कुछ देखा।

मेरा नाम अमन है, और आज मैं आपको बताना चाहता हूँ कि मेरी मां ने अपने सेठजी के लड़के से कैसे शादी की।
मेरी मां और उनकी कंपनी के मालिक के लड़के के बीच Mom Chudai Ki Hindi Sex Stories है।

मेरी मां की उम्र 41 साल है और वह दूध की तरह सफेद हैं।
उनके बूब्स सामान्य आकार के गोल हैं।

मेरी उम्र २० वर्ष है। मैं और मेरी मां ही मेरा परिवार हैं। मेरे पिता आज नहीं हैं।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

Mom Chudai Ki Kamukta Kahani

इस समय दीवाली था।
जब कंपनी में साफ सफाई चल रही थी, मेरी मम्मी सीढ़ी पर एक पैर रखकर दरवाजे पर दूसरा पैर रखकर छत को धो रही थीं।

मालिक के लड़के ने मेरी माँ को चोद दिया | Mom Chudai Ki Hindi Sex Stories

उधर किसी काम से गया था, तो मैं अपनी मां को सीढ़ी पर चढ़ते देखा और ठिठक गया कि कहीं वह मेरी आवाज से चौंककर गिर न जाए।
तभी सेठजी का लड़का विराट अचानक नीचे आ गया और नीचे से मां की टांगों के बीच में देखने लगा।

उस समय, सफाई करते हुए, मम्मी के पैर चौड़े हो गए थे और उनकी साड़ी और पेटीकोट कुछ अधिक खुले हुए थे।
मेरी माँ की चूत देखकर, विराट शायद अपने होश खो बैठा था और उधर खड़ा रहकर उनकी टांगों में देखने लगा।

मैं जानता था कि मेरी मां की पैंटी ही उसे दिखेगी क्योंकि वह पैंटी पहनती है।

मां की पैंटी को देखते हुए वह घूर रहा था।

उस बात का पता चला, मम्मी अपने कपड़े ठीक करने लगी और अपना काम करने लगी।
विराट वहाँ से निकल गया।

मैं भी मां से बात करने लगा।
अगले दिन विराट ने अपने कार्यालय में अपनी मां को फोन करके छत को साफ करने को कहा।

हमारे पड़ोस की एक चाची भी उधर काम करती थी, इसलिए मुझे शाम को पता चला।
मुझे शाम को बताया गया कि सेठ जी के लड़के विराट ने कल तुम्हारी मम्मी को उसके ऑफिस में सफाई करने के लिए बुलाया है।
दूसरे दिन मैं विराट के ऑफिस गया।
बाहर रहते हुए मैं छिपकर देखने लगा।

मेरी मां अपने कार्यालय की सफाई करने के लिए सामान लाने लगी।
वह बाहर से एक प्लास्टिक की नीली टंकी ले आईं और उस पर चढ़ गईं।
अब वो ड्रम पर एक पैर रखकर दूसरा दरवाजे पर रखकर सफाई करने लगीं।

रोजाना काम बताने के बहाने विराट उनके नीचे आकर उनकी पैंटी देखने लगा।
जैसे-जैसे पूरी सफाई हो गई, मां जाने लगीं।

उसने मम्मी को ऑफिस से बाहर जाते समय पैसे थमा दिए।
इसलिए माँ ने कहा, “अरे सर, पैसे की क्या जरूरत है?”

तो उसने अपनी माँ से कहा, “बात यह है कि तुम बहुत अच्छी तरह से सफाई करते हो।” पैसे रखने से फायदा होगा। और एक बात, क्या आप कल हमारे घर पर भी आकर सफाई कर सकते हैं?
वह सेठजी का लड़का था, इसलिए मेरी मां ने हामी भर दी।

उसने यह भी कहा कि छुट्टी भी नहीं कटेगी क्योंकि यह भी कंपनी का काम है। समझ गई? मैं कल तुम्हें ले चलूँगा, तुम मेरे साथ चलना।

Antarvasna Mom Ki Xxx Chudai Kahani

उसने अपनी मां की ओर मुस्कुराकर दखा, तो वह भी हंसकर हामी भर दी।

इसे भी पढ़ें   Khet main devar ne choda

यह देखकर मुझे कुछ संदेह हुआ कि मैं विराट से परेशान हो गया था।

अगले दिन सुबह, विराट मेरी मां को अपने घर ले गया और उसे वहां सफाई करने को कहा।

मैं भी वहाँ पहुंच गया और छिपकर मां को देखने लगा।

मां ने अंदर जाकर देखा कि वहाँ पहले से ही पूरी तरह से साफ-सफाई हो चुकी थी।
सर, यहां तो पहले ही साफ सफाई हो चुकी है, मां ने हंस कर कहा।

विराट ने कहा कि वह तुम्हें यहां साफ सफाई के लिए नहीं, बल्कि दूसरे उद्देश्य से लाया है।
और तुम्हारी नौकरी क्या है? माँ ने पूछा।

उसने कहा कि मैं तुम्हें एक बार चोदना चाहता हूं और ₹ 5000 इसके बदले देने को तैयार हूँ।
मेरी मां ने इसे अस्वीकार कर दिया।

तुम्हारी क्या समस्या है, विराट ने पूछा? सेक्स भी चाहिए होगा।
यह मुश्किल क्या है, मेरी मां ने कहा। मैं एक सड़क छाप रंडी हूँ, क्या मैं किसी के नीचे भी लेट जाऊँगा?

विराट: मैं भी रंडी नहीं बोल रहा हूँ। मैं आपको प्यार करता हूँ, इसलिए मैंने आपसे अपने मन की बात कही है।

विराट की बात सुनकर मेरी मां खुश हो गई और उन्होंने राहुल से कहा, सर मुझे जाने दीजिए। आपसे बात करने में मुझे शर्म आ रही है।

मालिक के लड़के ने मेरी माँ को चोद दिया | Mom Chudai Ki Hindi Sex Stories

जब विराट ने अपनी माँ से ये बात सुनी, तो वह समझ गया कि शायद उनकी माँ सैट है।
आगे बढ़कर उसने अपनी माँ को अपनी बांहों में भर लिया और उसे चूमने लगा।

उससे बचने की कोशिश करते हुए मेरी मां ने कहा कि नहीं सर, रहने दीजिए, अगर कोई देख लेगा तो मेरी इज्जत बर्बाद हो जाएगी।
मेरी मां के दूध मसलते हुए विराट ने कहा कि कोई नहीं देखेगा। मैं यहाँ रहता हूँ। मैं ही इधर आता हूँ। कुछ समय के लिए मान जाओ। जवान लंड भी आपको प्रसन्न करेगा। मैं जानता हूँ कि आपका पति अब नहीं है।

मेरी मां ने यह सुनते ही विराट से चिपककर कहा, “राहुल सर, मुझे बहुत डर लग रहा है।”
डरने की जगह प्यार की जरूरत है, विराट ने मां को सीने से चिपका लिया।

थोड़ी देर चुप रहने के बाद मां ने मूक स्वीकृति दे दी और विराट को सौंप दी।
विराट ने माँ की स्वीकृति मिलते ही उनका कसके पकड़ लिया और उन्हें चूमने लगा।
मैं भी उसका साथ देने लगी।

विराट ने एक-एक करके अपनी मां के सारे कपड़े उतार दिए, जब उन दोनों की काम पिपासा चरम पर आ गई।
वह मेरी मां पर टूट पड़ा जब वह पूरी तरह से नंगी हो गई।

मेरी मां भी उसे चूमकर सब कुछ करने देती थीं।
उसकी आँखों से आह निकल रही थी, जो स्पष्ट रूप से बताती थी कि मेरी मां की वर्षों की पीड़ा जाग गई है।
धीरे-धीरे विराट मेरी मां का दूध दबाने लगा और उसे चूसने और मसलने लगा।

उसने लगभग पंद्रह मिनट तक दूध चूसने और दबाने के बाद मां की चूत में उंगली डाली।
वह चूत में उंगली फेरते हुए मां के मम्मों को काटता और चूसता जा रहा था।

मेरी मां कामुक होने लगी।
तेज आवाज को दबाने के लिए विराट ने अपने होंठ मां के होंठ पर रखकर उन्हें किस करने लगा।

मेरी मां भी उसके साथ थीं।
ये करीब दसवीं मिनट तक चलता रहा।

इसे भी पढ़ें   मम्मी और मौसी 

अब विराट ने अपने सारे कपड़े उतारे और मेरी मां से लंड चूसने को कहा।
मेरी मां ने उसे मुँह में लेकर चूसने लगा।

विराट के लंड के नीचे लटक रहे आंडों को सहलाने लगीं और लंड को आगे पीछे करने लगीं।
जिस तरह से मेरी मां लिंग चूस रही थीं और लिंग सहला रही थीं, उससे स्पष्ट था कि वे लिंग चुसाई में पीएचडी हैं।

Desi Mom Ki Free Sex Kahaniya

विराट ने आंखें बंद करके मेरी मां के सर को अपने लंड से दबाकर उनके मुँह और गले तक भर दिया।
करीब दस मिनट ऐसे ही चूसते रहे।
तब विराट ने तेज आह निकाली और मां के गले में अपने लंड को जड़ तक डालकर झड़ना शुरू कर दिया।

उसने मेरी मां को अपनी पूरी संपत्ति छोड़ दी थी।
मेरी मां ने पूरा लंड का रस पी लिया।

दोनों अब बिस्तर पर लेट गए।

विराट कुछ देर बाद 69 में आ गया और मेरी मां की चूत को चाटने लगा।
मेरी मां के मुँह में फिर से उसका लंड गर्म होने लगा।

विराट ने कुछ ही मिनट तक चूत चाटने के बाद मां से अपना माल निकालकर पी लिया।
अब तक विराट फिर से उठने लगा।

उसने अपनी मां को घोड़ी बनने को कहा और अपना मोटा, लंबा लौड़ा मेरी चूत में डाल दिया।

मेरी मां तुरंत चिल्ला पड़ीं और हाथ जोड़ कर विराट से बताने लगीं कि उन्हें बहुत दर्द हो रहा है जब उसका लंड एकदम से घुसा।

लेकिन विराट ने मेरी मां की एक भी बात नहीं सुनी और एक और तीव्र झटका लगाया।
विराट ने इसी झटके से अपना पूरा लंड मां की चूत में डाल दिया।

मेरी मां जोर से चिल्लाई।
विराट रुकने के बजाय झटके पर झटके देता रहा।

मेरी मां ने ऐसे चिल्लाया, जैसे घोड़े ने उनकी चूत में लंड डाला हो।
मेरी मां के आंसू बह रहे थे और विराट कुछ भी सुनने को तैयार नहीं था।

बिना रुके, वह मेरी मां की चूत में धक्के मारता जा रहा था।
उन्हें चुदाई में मज़ा आने लगा और मां की दर्द भरी आवाज कुछ मिनट बाद गायब हो गई।

मालिक के लड़के ने मेरी माँ को चोद दिया | Mom Chudai Ki Hindi Sex Stories

वे दोनों एक मजेदार चुदाई खेलने लगे।

ऐसा करीब पंद्रह मिनट तक चलता रहा।
इस बीच मेरी मां का पानी भी एक बार छूट गया।

विराट अभी भी लंड पी रहा था।

कुछ देर बाद विराट ने कहा, “आह, मेरी जान, अब जल्दी से बताओ।” मैं अपना रस कहां निकाल सकता हूँ?
माँ ने कहा कि अंदर ही निकाल दो।

विराट ने सिर्फ मां की चूत में अपना सारा वीर्य डाल दिया।
दोनों निढाल होकर बेड पर गिर पड़े।

दस मिनट बाद, विराट ने अपनी माँ से कहा, “मेरा लंड मुँह में ले लो।”
उसकी माँ ने पहले अपना लंड साफ किया और फिर उसे चूसने लगी।

उन्हें चारों तरफ से चाटकर लंड साफ कर दिया।
उन्हें मज़ा आ गया और वे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगीं।

थोड़ी देर में विराट का लंड फिर से खड़ा हो गया और पूरा तनकर सलामी मारने लगा।
उसने फिर से अपनी मां को घोड़ी बनने को कहा और कहा कि अब मैं तुम्हारी गांड मारूंगा।

मैं आज तक कभी भी गांड नहीं मरवाई है, कहने लगी मेरी मां। मैं घर नहीं जा सकता। तुम मेरी चूत नहीं चोद सकते।

इसे भी पढ़ें   बहन की पेटीकोट उठा कर शॉट लगाया

विराट ने कहां मानने वाला था?..। उसने मां को उल्टा लेटाया और गांड मारने लगा।
मां ने कहा, “धीरे-धीरे डालना और अपने लंड पर थोड़ा सा थूक लगाकर पेलो।”

राहुल ने अपने लंड पर कुछ मल लिया और मां की गांड पर कुछ थूक लगाया।
उसने पहले गांड के छेद पर लंड रगड़ने लगा। फिर उसे गांड के छेद में डालने की कोशिश करने लगा।

मां की गांड का छोटा छेद लंड को अंदर नहीं जा पाया।
वह गांड से बाहर बार-बार फिसल रहा था।

थोड़ा थूक लगाकर विराट ने अपने लंड का टोपा मां की गांड में डाल दिया।
मां दर्द से रोने लगीं।

Hot Mom Chudai Ki Desi Kahani

विराट ने इतनी जल्दी अपना लंड अंदर डाल दिया कि आधा उसका लंड मां की गांड में घुस गया।

मां ने जोर से चिल्लाकर अपना पूरा लंड गांड में डाल दिया।
उसने इस तरह अपना पूरा मूसल लंड मां की गांड में डाल दिया।

मालिक के लड़के ने मेरी माँ को चोद दिया | Mom Chudai Ki Hindi Sex Stories

मां का खून बहने लगा।
रगड़ते खून को देखकर राहुल एक मिनट तक रुका रहा, फिर झटके मारने लगा।

विराट जोर-जोर से अपना लिंग बाहर निकाल रहा था, जबकि माँ रोती जा रही थी।
मेरी मां को लगभग पांच मिनट तक गांड मारने में मज़ा आने लगा।
मेरी मां का दूध पकड़कर राहुल सटासट गांड मारने लगा।

दस मिनट बाद, उसने मां की गांड में अपना सारा वीर्य छोड़ दिया और उनके ऊपर से उठकर भाग गया।
मां बहुत खुश हो गईं।

तब विराट ने मां को बियर पिलाया और उन्हें दर्द की गोली दी।
कुछ समय तक नंगे ही चिपक कर सो गए।

एक घंटे बाद, विराट ने मेरी मां को फिर से पीटा।
मेरी मां भी विराट से प्यार करती थीं।

उस दिन विराट ने मां को पांच बार चोदा। उसने एक बार मां की गांड मारी और चार बार चूत चोदकर दोनों छेदों को कचौड़ी की तरह सुजाया।
अब कंपनी छोड़ने का समय था।

उधर से मैं अपने घर चला गया।

विराट आधा घंटे बाद मेरी मां को घर छोड़कर चला गया।

जब माँ कमरे में आ रही थी, तो वह उनसे चला भी नहीं जा रहा था।
जब मैंने पूछा तो उन्होंने बताया कि आज वह काम करते हुए गिर गई थी और चोट लगी है। इसलिए वे लंगड़ा रहे हैं।

मैंने कुछ नहीं कहा।
मैं जानता था कि मेरी मां चुदाई से खुश थीं।

मैं इस अगले भाग में आपको बताऊंगा कि विराट के एक दोस्त ने मेरी मां को भी गंभीर रूप से चोदा।

यदि आप मेरी Mom Chudai Ki Hindi Sex Stories पर अपने विचार देते हैं तो कृपया मुझे बताएं।
devanand877889@gmail.com

Read More Sex Stories…

माँ बेटी को बुरी तरह से चोदा | Hot Maa Beti Ki Hindi Sex Story

दीदी को बियर पिलाकर चोदा | Hot Bahan Ko Choda

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment