मां और बेटी की चुदाई – Maa aur Beti ki chudai

फ्रेंड्स
पिछले भाग ” पार्क में रोमांस ( मां ने हमें नंगा देखा ) ” में आपने पढ़ा की कैसे भैया के साथ मैं बिस्तर पर थी और फिर मॉम रेणु रूम में आई तो दोनों को नग्न अवस्था में देख गुस्सा गई, नितिन भैया और मैं दोनों ही सहमे हुए थे लेकिन मॉम तुरंत ही गिरगिट की तरह रंग बदल दी और हम दोनों के साथ सेक्स करने लगी। मेरी मॉम रेणु बेड पर नग्न अवस्था में लेटी हुई थी तो मैं भी उनके बगल में लेट गई फिर भैया उठकर फ्रेश होने चले गए तो मॉम मुझसे पूछी ” तू तो मेरे साथ अपने मामा से भी चुदाई थी
( मैं बोली ) क्यों आप अपने भाई के साथ सेक्स कर सकती हैं और मैं
( मॉम बोली ) ओह तू कुंवारी लड़की है कुछ उल्टा पुल्टा हो गया तब समझना
( मैं बोली ) मैं ही भैया को अपनी ओर आकर्षित की थी और मैं दवाई लेकर ही संभोग क्रिया करती हूं वैसे आपका किस किस से चक्कर चल रहा है
( मॉम मुंह ऐंठ कर बोली ) जवानी की बात कुछ अलग होती है जिया, तभी तो कितने गांड़ के पीछे चक्कर लगाते हैं लेकिन उम्र ढलने लगी तो कोई पूछता भी नहीं
( मैं बोली ) वो तो है मॉम वैसे अब आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है, नितिन ही आपके आग को ठंडा कर देगा ” इतने में नितिन आया तो उसके हाथ में एक दवाई था और वो मेरी जांघो को फैलाया फिर दवाई को रैपर से निकाल मेरी चूत में घुसाने लगा तो मॉम पूछी ” कौन सा दवाई घुसा रहा है नितिन
( वो मॉम को देखा ) क्या आपको भी पेट से होने का डर है
( मॉम तो शर्म के मारे चेहरा फेर ली ) नहीं जिया के जन्म के बाद सर्जरी करा ली थी इसलिए कोई चिंता की बात नहीं है
( नितिन मॉम की जांघो के बीच हाथ लगाया फिर चूत को सहलाने लगा ) जब तक जिया की चूत के अंदर दवाई काम करना शुरू नहीं करती तब तक आपको ही… ” और वो मेरी चूत में दवाई डाल कर मॉम की जांघो के बीच जाकर बैठ गया फिर मॉम के चूत पर सुपाड़ा रगड़ते हुए अंदर घुसाया और लन्ड को अंदर डालने लगा तो उसका हाथ मॉम की चूची पर था तो मॉम ” आह बहुत कड़ा लन्ड है तेरा सही में तू मुझे बिस्तर पर तृप्त कर देगा
( इतने में नितिन जोर का धक्का दिया और चोदने लगा तो मॉम ) आह ओह उई फाड़ दिया मेरी चूत ” तो नितिन चोदता हुआ उनके बूब्स पकड़े दबाने लगा और मेरी चूत के अंदर दवाई पिघल कर चिपचिपा करने लगी, भैया तो चोदते हुए उनके ऊपर सवार हो गए फिर मॉम उनके ओंठ चूम चूतड उछालना शुरू की तो मैं दोनों की चुदाई देख मस्त थी और मॉम नितिन के लन्ड से चुदाई का मजा लेते हुए आहें भर रही थी ” @@आह ओह उह और तेज चोद चोदकर मुझे रण्डी बना दे
( नितिन मॉम के ओंठ चूम लिया ) आपको तो बहुत जल्द ३-४ लन्ड से चुदवाऊंगा और फिर आपकी चूत की खुजली मिट जाएगी
( मॉम चूतड स्थिर कर चुदाने लगी ) काश ऐसा होता, चूत की खुजली चुदाने के बाद और बढ़ जाती है जितना लन्ड खाने को मिले उतनी ही भूख बढ़ जाती है ” और फिर मॉम को चोदता हुआ नितिन उनके गाल चूम लिया ” अब जिया की बारी है आपकी चूत से तो रस निकल गया ” तो मैं लेटी रही और फिर नितिन मेरे जांघों को फैलाया साथ ही चूतड के नीचे तकिया लगाकर खुद घुटने के बल हुआ तो मॉम उठकर पेटीकोट को छाती से बांध ली और फ्रेश होने चली गई।
मैं जांघो को फैलाकर लेटी थी तो नितिन अपना लन्ड पकड़े चूत में घुसाने लगा और उसका १/२ लन्ड चूत में घुसा होगा की उसने जोर से धक्का मारा और मैं चिंहुक उठी ” उई मां मर गई फाड़ देगा मेरी चूत
( मॉम वाशरूम से बाहर निकली ) तो क्या हुआ, बूर चुदवा लो ” और नितिन धक्का देता हुआ मेरी चूत की चुदाई करने लगा तो मैं लेटी रही, नितिन का लन्ड १४-१५ सेंटीमीटर लम्बा और ५ सेंटीमीटर मोटा होगा तो मेरे चूत की छेद छोटी थी इसलिए उसकी दीवारों पर रगड़ा पड़ रहा था और मेरी बूब्स को दबाते हुए वो मुझे चोदने में मस्त था, अब तो बूर की चिपचिपाहट भी खत्म हो चुकी थी और मैं ” आह ओह उह उफ आआआहः नितिन बूर लहर रही है ” तो भैया मेरे ऊपर सवार होकर ओंठ चूमने लगे और मैं उनसे चुदाई का मजा ले रही थी, मैं अब नितिन के कमर पर हाथ रख चूतड उछालना शुरू की वैसे भैया के शरीर का वजन बर्दास्त करते हुए चूतड उछालना थोड़ा मुश्किल था लेकिन मजा भी आ रहा था तो भैया का लन्ड मेरी बूर में चुभने लगी और दोनों संभोग सुख लेने में मस्त थे ” आह आआआआह्ह्ह अब मेरी चूत से रस निकलने पर है ” तो नितिन चोदता रहा और फिर मेरी चूत से रस निकल गया, मैं सुस्त पड़ गई तो नितिन उठकर फ्रेश होने चला गया और मॉम पूछी ” नितिन तो चोदने में माहिर है क्यों जिया
( मैं मॉम को देखी ) हां अब आप उससे चुदाई का मजा लीजिए
( मॉम पूछी ) अच्छा तुम्हारा मन भर गया ” मैं चुप रही तभी नितिन बेड पर आया और मॉम को डॉगी स्टाइल में होने को बोला तो मॉम घुटने और कोहनी के बल हो गई और उनकी बड़ी बड़ी चूचियां छाती से लटक रही थी तो नितिन उनके चूतड के सामने बैठ गए फिर लन्ड पकड़े मॉम की चूत में घुसाने लगे तो मैं उठकर फ्रेश होने चली गई, वापस आई तो देखी की मॉम रेणु भैया से चुदाते हुए चूतड को हिला रही हैं और मैं उनके चेहरे के पास बैठकर उनकी चूची को पकड़े दबाने लगी ” आह ओह उह आआआआह्ह् और तेज चोद चोदकर चूत की कचूमर बना दे
( नितिन चोदता हुआ उनके बूब्स को पकड़ दबाने लगा ) तेरी चूत तो पहले से ही भोंसड़ा बन चुकी है ” और नितिन चोदता हुआ हांफने लगा तो मॉम चूतड को हिलाते हुए मस्त थी ” आह उह ओह मेरा निकला ” फिर भैया ७-८ धक्का देकर रुक गए तो मैं समझ गई की रेणु की चूत में वीर्य स्खलित हो चुका है, दोनों अलग हुए और फ्रेश होकर सब अपने अपने रूम चले गए।

Related Posts

इसे भी पढ़ें   दोस्त की शॉप पर मिली भाभी को चोदा
Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

7 thoughts on “मां और बेटी की चुदाई – Maa aur Beti ki chudai”

Leave a Comment