पार्क में रोमांस : भाग २ (मां ने हमें नंगा देखा)

फ्रेंड्स
मैं जिया, उम्र २२ वर्ष, लंबाई ५’५ इंच साथ ही बदन शेप में, बूब्स मुलायम और छोटे छोटे, चूतड गोल और गद्देदार तो मेरी चूत के दोनों फांक मोटे और खूबसूरत जिसको मैं क्लीन शेव रखती हूं और पिछले दो साल में मैं काम क्रिया यानी सेक्स को जान पाई, उसके पहले तो अश्लील वीडियो देखना तो कुछ किताबे पढ़ा करती थी और फिर मैं अपना कौमार्य एक दोस्त के संग खो दी, जिसकी मुझे आत्मग्लानि भी हुई साथ ही दुबारा उसके साथ संभोग की सोचने लगी और फिर मेरे भैया नितिन जोकि मेरी हर हरकत पर नजर रखते थे को अपनी ओर आकर्षित करने लगी फिर उनके साथ संभोग की लेकिन मेरी काम की इच्छा और प्रबल होने लगी तो क्लासमेट के साथ हमबिस्तर हुई,

लेकिन अपने खूबसूरत जिस्म किसी को यों ही नहीं देना चाहती थी इसलिए मैं अपने क्लासमेट के जरिए कॉल गर्ल का काम करने लगी और मुझे मजा के साथ पैसा भी मिलने लगा और फिर मां के साथ उनके मायके गई तो वहां मेरे मामा समर मेरे पीछे पड़ गए तो मां के साथ ही मैं उनके साथ हमबिस्तर हुई और अब मुझे काम क्रिया में बहुत मजा आता है, पिछले भाग ” पार्क में रोमांस ” में आपने पढ़ा की कैसे मैं नितिन के साथ मार्केट के लिए निकली फिर पार्क में दोनों बीयर पिए और ओरल सेक्स का मजा लिए।

रात का खाना बाहर से ही पैक करा कर लाए थे और मैं, भैया और मॉम तीनों साथ बैठकर खाना खाए तो मॉम को शायद बीयर की खुशबू मिल रही थी और वो दोनों को शक भरी नजरों से देख रही थी तो मैं और भैया चुप चाप खाना खाए फिर भैया रूम चले गए तो मॉम मुझसे पूछी ” तुम शराब पीकर आई हो
( मैं सहम गई ) मॉम आप क्या बोल रही हैं
( मॉम बोली ) ठीक है जाओ अपने रूम ” मेरी चूत में तो आग लगी हुई थी और मैं अपने रूम चली गई फिर दरवाजा बंद कर बेड पर लेट गई, रात के १०:०० बजे थे और मैं भैया के रूम में जाने को तड़प रही थी फिर भी सोची की थोड़ी देर में मॉम सो जाएंगी फिर नितिन के रूम जाऊंगी।
मैं स्कर्ट और टॉप्स पहन रखी थी और फिर थोड़ी देर के बाद अपने रूम से निकल डाइनिंग हॉल में आई तो देखी की मां के रूम का लाईट बंद है और मैं नितिन के रूम की ओर चली गई, दरवाजा खुला हुआ था और मैं रूम में गई तो नितिन कोई किताब पढ़ रहा था और मैं उसके करीब जाकर उसके हाथ से किताब ले ली तो नितिन मेरे हाथ पकड़ अपनी ओर खींच लिया और मैं उसके ऊपर सवार हो गई, मेरा स्कर्ट तो ऊपर आ चुका था और मेरी बूब्स उसके छाती पर थी तभी नितिन मेरे ओंठ चूमने लगा और उसका हाथ मेरे चूतड पर था, स्कर्ट को कमर तक कर नग्न चूतड को सहलाने लगा जिस पर पेंटी थी और मैं नितिन के गाल चूमने लगी फिर जीभ निकाल उसके ओंठ को चाटने लगी, नितिन मेरे गर्दन में हाथ डाले जीभ को मुंह में भर लिया फिर चूसने लगा

इसे भी पढ़ें   Ghar Ka Maal Hindi Chudai 1 | Desi Sexy Chut Chudai

तो मैं उसके ऊपर सवार हुए मस्त थी, भैया का हाथ मेरी पेंटी को नीचे करने लगा और मेरी फैली हुई जांघो के बीच हाथ लगाए वो चूत को उंगली से रगड़ने लगा और मैं जीभ निकाल उसके ऊपर से उतर गई फिर खुद ही टॉप्स उतार कर स्कर्ट भी खोल दी, पूरी तरह से नग्न होकर बेड पर लेट गई तो नितिन मेरे बूब्स पकड़ दबाने लगा फिर वो उठकर बैठा और मेरे छाती पर चेहरा झुकाए बूब्स को मुंह में भर चूसने लगा, मेरी चूची की साईज छोटी थी इसलिए पूरी चूची मुंह में लिए चूसने लगा और मैं उसके शॉर्ट्स को कमर से नीचे करने लगी तो उसका सुस्त पड़ा लन्ड मेरे हाथ में था जिसे मैं सहलाने लगी और वो चूची चूसने में लीन था ” आह ओह उह आआआह्ह्हह चूसना छोड़ साले अब चोद ना
( नितिन चूची को मुंह से निकाल दिया ) इतनी जल्दी क्या है अभी तो पूरी रात बाकी है ”

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

और वो मेरे दाहिने चूची मुंह में लिए चूसने लगा तो मैं उसके लन्ड को पकड़ हिलाने लगी, भैया का लन्ड ओरल सेक्स के क्रम में वीर्य स्खलित किया था फिर भी उसके अंडकोष में द्रव्य भरा हुआ था, कुछ देर तक चूची को चूस चूसकर लाल कर दिया फिर मुंह से निकाला।
मैं तो नग्न अवस्था में बेड पर लेटी हुई थी तो नितिन फ्रेश होने वाशरूम चला गया, वापस बेड पर आया फिर मेरे चूतड के नीचे तकिया लगाया और मैं जांघो को फैलाई तो नितिन बूर पर चेहरा झुकाए उसे चूमने लगा और मैं उसके बाल सहला रही थी, उसका ओंठ मेरे चूत को चूमने लगा तो उंगली की मदद से वो फांकों को फैलाया फिर उसमें जीभ घुसाए चाटने लगा तो मैं बूर की गुदगुदी से परेशान थी और उसका एक हाथ मेरे बूब्स को दबाए जा रहा था ” आह ओह उह आआआह्हह चाट साले कुत्ते आज तो तेरे मुंह में ही मूतूंगी ”

और उसका जीभ चूत को चाटने में मस्त था तो दोनों काम क्रिया में मस्त थे और इतने में कमरे का दरवाजा खुला तो मां की आवाज ” ये क्या कर रहा है भाई और बहन में जिस्मानी रिश्ते छिह ” और नितिन झट से उठकर बेड पर पड़े चादर से अपना लन्ड ढक लिया तो मैं उठकर बैठी और अपने कपड़े लिए उठने लगी तो मॉम का चेहरा गुस्से से लाल हो चुका था ” क्या नितिन इतना भी ख्याल नहीं आया की जिया तेरी बहन है और जिया तू तो एक नंबर की रण्डी है
( मैं बोली ) सॉरी मॉम ” और मॉम बेड पर बैठ गई, वो साड़ी ब्लाउज और पेटीकोट में थी, नितिन का भी डर से बुरा हाल था लेकिन मॉम रेणु उसके ओर हाथ बढ़ाकर चादर खींच लन्ड को नंगा कर दी फिर उसे पकड़ सहलाने लगी ” वाह नितिन का लन्ड तो मोटा है ” नितिन मॉम के हाथ पकड़ हटाने लगा तो रेणु उसके करीब जाकर उसके गाल चूमने लगी और भैया ” मॉम ये गलत है प्लीज आप जाइए
( रेणु उसके गाल चूमने लगी ) क्यों अपनी बहन के साथ सेक्स करना सही है
( मैं तो मॉम के इच्छा से वाकिफ थी ) मॉम मैं जाती हूं ” तो मॉम नितिन को बेड पर ही धकेल दी और मुझे देख बोली ” तुम कहां जा रही है, जरा देखूं तो सही की नितिन के साथ सेक्स तू कितने अच्छे से करती है ” और नितिन तो बेड पर नंगा लेटा हुआ था, मॉम रेणु अपने साड़ी को बदन से निकालने लगी तो मैं उनके करीब आकर बैठी तो वो मेरे गाल चूम ली फिर बोली ” तुम दोनों का ये चक्कर कब से चल रहा है
( नितिन उठकर बैठा फिर मॉम के गाल चूम उनके बूब्स पकड़ दबाने लगा ) ये तेरी बेटी मुझे खुद आकर्षित की थी और मैं भी भूल कर इसके साथ सेक्स कर लिया
( मॉम नितिन के लन्ड पकड़ सहलाने लगी ) तेरी भी शादी जल्द ही करा दूंगी, कब तक इधर उधर मुंह मारेगा ” और नितिन मॉम के रसीले ओंठ को चूमने लगे तो मैं उन दोनों को देख रही थी, भैया मॉम के ओंठ मुंह में लिए चूसने लगा तो मैं मॉम के ब्लाउज पर से ही चूची पकड़ दबाने लगी, वैसे मॉम मुझे पहले भी नंगा देख चुकी थी जब वो अपने भाई समर के साथ हमबिस्तर हुई थी फिर भी हम दोनों को इस हालत में देख वो भी ग्रुप सेक्स में रुचि दिखाईं, यकीनन चुदक्कड औरत थी और भैया मॉम के ओंठ को चूसते हुए उनकी बूब्स पकड़ दबाने लगे तो मॉम का चेहरा देखने लायक था और मैं मॉम के पीछे जाकर बैठी फिर उनके ब्लाउज को खोलने लगी, तभी मॉम भैया के मुंह से ओंठ निकाल बोली ” नितिन तेरी बहन तो मेरी ब्लाउज निकाल रही है
( मॉम हंस दी ) तो क्या हुआ दूध पीने की इच्छा होगी ” और फिर मॉम के पेटीकोट का नाड़ा नितिन ने खोल उन्हें नंगा कर दिया, ४२ साल की औरत जिसकी लंबाई ५’४ इंच थी तो खूबसूरत जिस्म साथ ही चूत क्लीन शेव, उन्हें बेड पर भैया लिटा दिए फिर मैं मॉम के छाती के पास बैठ गई तो रेणु मेरी ओर देखी, मैं झुकी फिर उनके ओंठ चूमने लगी तो मॉम मेरी बूब्स को पकड़ दबाने लगी और मैं मॉम के ओंठ को जीभ से चाटने लगी, देखी तो नितिन मॉम के पेट से लेकर कमर तक को चूम रहे हैं और मॉम खुद जांघों को फैलाकर लेटी हुई थी, मेरी जीभ मॉम मुंह में भर कर चूसने लगी तो मैं उनके एक चूची भी दबाए जा रही थी और फिर नितिन मॉम के कमर के नीचे तकिया लगाया तो मैं मॉम के मुंह से जीभ निकाल दी, नितिन मॉम की जांघो के बीच चेहरा लगाया तो मैं उनके गाल सहलाने लगी ” आप तो अपनी चूत को सफाई से रखती हैं
( मॉम खिलखिलाकर हंस दी ) क्या जानना चाहती है यही ना की तुम्हारे डैड इसको चूमते चाटते हैं क्या ” और फिर नितिन मॉम की चूत को चूमने लगा तो मैं मॉम के छाती पर चेहरा किए चूची मुंह में भर चूसने लगी, रेणु ( मॉम ) अब मस्त हो रही थी ” आह ओह उह उई आआआह्ह चाट चाट नितिन बहुत मजा आ रहा है ” और उनकी चूत को फैलाकर जीभ घुसाए भैया चाट रहे थे तो मैं उनके चूची को चूस रही थी, उनका हाथ मेरे चूतड पर था और उनकी सेक्सी आवाजें ” आह ओह उह उई बूर में कितने दिनों से जीभ नहीं घुसा था नितिन चाट चाटकर उसे रसीला कर दे
( मैं मॉम की चूची मुंह से निकाल दी ) अब आपको फिक्र करने की कोई जरूरत नहीं है, नितिन आपकी हर इच्छा पूरा करेंगे ” और भैया जीभ निकाल मॉम की चूत में एक साथ दो उंगली घुसाए और कुरेदने लगे साथ ही चूत की फांकों को जीभ से चाटे जा रहे थे तो मैं मॉम के दूसरे स्तन को मुंह में लिए चूसने लगी और रेणु मेरी बूब्स को पकड़ दबाने लगी तो रेणु ” आह उह ओह उई आआआआह बूर में खुजली हो रही है नितिन
( नितिन बूर से जीभ और उंगली निकाल दिया ) खुजली तो होगी ही तब तो उसे मिटाऊंगा ” और फिर मां बेटी दोनों की चुदाई हुई, अगले भाग में।

Related Posts

इसे भी पढ़ें   नए साल की पार्टी में खूब चोदा भैया ने
Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

3 thoughts on “पार्क में रोमांस : भाग २ (मां ने हमें नंगा देखा)”

Leave a Comment