Bahan Ki Hardcore Chudai – चूत में बॉडी लोशन लगा कर पेला भाई ने

Bahan Ki Hardcore Chudai मेरा नाम पायल है और मैं गुजरात की रहने वाली हूँ. मैं तो चुदक्कड़ लड़की हूं ही, फिर चाहे किसी के लंड हो चुद जाती हूं। क्योंकि चूत को अपनी प्यास बुझानी रहती हैं। मैं 21 साल की मस्त माल जवान लड़की हूं मेरा फिगर साइज 34C-30-36 है। Bahan Ki Hardcore Chudai

मैं बी.ए. फाइनल ईयर मे हु, मैं चाहती हूं कि मुझे ऐसा लंड मिले जो मेरी गान्ड ओर चूत बढ़िया से फाड़ दे । पर यहां के लड़के बहुत नर्म है जो बहुत जल्दी ठंडे पढ़ जाते है इसलिए अपनी चूत की आग अपनी ऊंगली से बुझा लेती हूं। मैं आप सबको अपनी एक सच्ची कहानी बताना चाहती हूँ, कि कैसे मेरे छोटे भाई ने मुझे चोदा. और मुझे चुदवाने में बहुत मज़ा आता है.

हमारे घर में 4 लोग हैं. मैं, मेरे पापा मम्मी और एक छोटा भाई है। मेरे पापा एक किसान है जो खेतों में काम करते हैं. मेरी माँ एक छोटी सी सरकारी नौकरी करती हैं. वे आंगनवाड़ी में हैं और छोटे बच्चों को खाना बनाकर खिलाती हैं.

हमरा घर ज्यादा बड़ा नहीं है दो हमारे है एक मम्मी पापा रहते है और दूसरे मे हम दोनो बहन भाई रहते है । कमरे ज्यादा बड़ा नहीं है हम लोग एक ही बेड पर सोते है ओर उसी पर पढ़ते है.  मेरा छोटा भाई अनिल अभी 12वी मे पढ़ता है वह बहुत पढ़ाकू लड़का है हर दम अपनी किताबों मे ही रहता है.

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

एक दिन की बात है जब पढ़ते पढ़ते मेरी चूत मे खुजली होने लगी तो मे आराम से उठी और बाथ रूम मे चली गई और अपनी पैंटी उतार कर दो उंगली पर थूक लगा कर चूत मे अंदर बाहर करने लगी मुझे ध्यान ही नही रहा की मेंने बॉथरूम का door lock नही किया है मै तो अपनी चूत मे उंगली करने मे लगी हुई थी.

मुझे कुछ आहट ही लगी तो मेंने अपनी तिरछी नजर से बॉथरूम मे लगे शिशा देखा तो उसमें अनिल दिख रहा था. फिर मे जल्दी से उठी तो अनिल वहा से चला गया था और बेड पर आ कर पढ़ने लगा। मेने अपनी पैंटी पहनी और कपडे ठीक किए ओर बाहर आ गए।

ओर अनिल के साथ मे बैठ कर पढ़ने लगी तो अनिल ने पुछा दीदी आप इसे अपनी सुसु वाली जगह मे उंगलियां क्यों कर रहे थे मेरी तो सिटी पीटी गुल अब मै क्या कहूं फिर मेने कहा मेरे वहा पर चिटी ने काट लिया था तो बही हटा रही थी फिर अनिल ने कहा ठीक है दीदी पर गेट तो लगा लेते फिर मेने कहा आगे से ध्यान रखूंगी।

फिर मेरी नजर उसके कच्छे पर गई इसका कच्छा काफ़ी उपर तक उभरा हुआ था मेंने सोचा एक बार देखना पड़ेगा कितना बड़ा है इसका। फिर हम दोनो सो गए और सुबह उठ कर मे कॉलेज जाने के लिए तैयार होगी थी अनिल बॉथरूम मे नहा रहा था.

तो मेने सोचा की देखते है गेट बन्द है या खुला है मेरी किस्मत इतनी अच्छी की गेट खुला था और मेंने बॉथरूम मे लगे शिसे मे देखा की भाई अपने लन्ड पर साबुन लगा कर लगे पिछे कर रहा है ओर मेरी रात वाली पैंटी को चाट ओर सूंघ रहा है।

उसका लंड देख कर पागल सी हो गई उसका लन्ड 11 इंच लम्बा और 3.5 इंच मोटा था। मेने सोचा मेरी चूत की तो धाजिया उड़ा देगा ये तो मेने अभी तक 5 इंच लम्बा ओर 2 इंच मोटा ही लंड लिया है ओर इसीलिए मेरी चूत मे ज्यादा खुजली होती भाई को देख कर मे तो बाबली सी हो गई थी मेरी ध्यान मे बस उसका ही लन्ड आ रहा था.

पुरा दिन पता नही कैसे निकल गया पता ही नही चला मेने सोचा की भाई का लन्ड केसे लिया जाए। हम दोनो रात का खाना खा कर दोनो पड़ने बैठ गए। मेरा तो मन ही नही लग रहा था तोह मेने भाई को बोला भाई मुझे नीद आ रही है मे सोने जा रही हु.

मेने अपने कपडे बदल लिए एक ढीली से t shirt पहन ली और ओर पैंटी की ढीला शॉर्ट निक्कर पहन लिया और बॉडी लोशन लगा कर सोने लगी आधे घंटे के बाद भाई भी सोने के लिए लेट गया सोते समय मेने अपनी t shirt ऊपर कर ली थी जिस से भाई मेरे बूब्स देख सके.

इसे भी पढ़ें   माँ बेटे का प्यार और संस्कार भाग 3

मे जो कर रही थी भाई के भी दिमाग मे बही चल रहा था भाई मेरी तरफ देख रहा था तोह मे भी हल्की आंख खोल कर उसको देख रही थी. फिर भाई न अपना निक्कर निकाल कर बेड पर ही मुट्ठी मारने लगा वो मेरे दूध को देख कर हिला रहा था.

फिर उसे पता नही क्या हुआ वो उठा ओर मेरा बॉडी लोशन लेके मेरे बूब्स के बीच मे डाल दिया और अपना लन्ड मेरे दूध पर रख कर आगे पीछे करने लगा उसे. 15 मिनट के बाद उसका पानी निकला उसने मेरे होटों पर अपना पानी लगा दिया था.

ओर फिर वह उठा एक कपडे से मेरे सीने को साफ किया ओर होटों पर लगा रहने दिया। ओर फिर हो बॉथरूम मे चला गया साफ़ कर के आया ओर सो गया। जब सुबह हुई तो देखा भाई मुझ से पहले उठ गया है और नहा रहा था तो मेने देखा की वह मुठ्ठी मार रहा था मेरे पैंटी को लेके.

मेने उसे कहा की तुम क्या कर रहे हो वो बोला दीदी मेरे भी चिटी ने काट लिया था वही हटा रहा था। फिर मे हसी ओर गेट बन्द कर दिया फिर हम लोग अपने अपने कॉलेज और स्कूल चले गए, फिर साम तक मे घर आ गई फिर हम सब ने खाना खाया ओर अपनी पढाई मे लग गए.

आज मेने एक लोग टी शर्ट पहनी थी और कुछ नही भाई भी एक निक्कर पहन रखा था बस गर्मी ज्यादा थी तो हम दोनो छत पर सोने चले गए रात काफ़ी हो गई थी हम दोनो छत पर साथ मे ही लेट गए चंदा मामा भी पूरे हो गए थे तो उनकी रोशनी से हम सब दिखाई दे रहा था।

फिर मेने अपना बॉडी लोशन ला लिया और अपनी गान्ड ओर चूत पर भी लगा दिया था ओर मे अपनी करवट लेके भाई की तरफ़ अपनी गान्ड कर के सोने का नाटक करने लगी। भाई भी लेट गया और एक घंटे बाद भाई ने अपना लन्ड मेरी गांड़ मे लगा रहा था.

मुझे ऐसा लग रहा था की उठ कर उसका लन्ड एक झटके मे अंदर ले लू। भाई अपना लंड मेरी गान्ड ओर चूत के बीच रख कर आगे पीछे कर रहा था मेरी सांस बहुत तेज़ हो रही थी भाई बोला दीदी ठीक से करने दो ना। मेने करवट बदल ली उसे लगा मे सो रही हु वह पीछे हो गया काफ़ी देर तक दूर रहा ओर मुठ मार रहा था.

मे उसे देख रही थी वो उठा ओर मेरी नाक बन्द कर दी जिस से मेरा मुंह खुल गया ओर उसने मेने मुंह मै अपने लन्ड का पानी भर दिया। उसके पानी मेने मुंह मै आते मेरी आंख खुल गई मे उसका पानी पी गई और बोली ये तुम क्या कर रहे हो मेरे साथ मेने उसे एक थपड़ भी मार दिया.

बह बोला दीदी आप बहुत बड़ी चुदक्कड़ हो सभी बोलते है तो मे आप को चोदना चाहता हु। मेने कहा मे कोई चुदक्कड़ नही हु। जो तूने सुना है वो सब गलत है, ओर तुम अपनी बडी बहन से ऐसे बात कर रहे हो तुम्हे शर्म नही आती।

फिर उसने अपना लन्ड आगे किया बोला दीदी इसे अपनी चूत या गान्ड मे लेके देखो मजा आ जायेगा उसका लंड देख कर पानी तो आ रहा था पर अपने उपर कंट्रोल किया उस पर चिल्ला कर बोला अभी मम्मी पापा को बोलती हु फिर वह बोला आगे से नही होगा दीदी माफ़ कर दो बोलने लगा. “Bahan Ki Hardcore Chudai”

मेने कहा थी है ये घर की बात है घर मे ही रहनी चाहिए और आगे से चुप चाप अपने काम करो दूसरे को पता भी न लगे फिर हम दिनो सो गए। ऐसे ही दो महीने निकल गए छोटा भाई कभी कभी मेरी गान्ड देख कर रात मे मुठ मार लेता था पर मे उसे कुछ बोलती नही थी.

अब सर्दी के दिन आ गए थे तो इसका उसने काफ़ी फायदा मिल रहा था उसे वो रात को बिलकुल नंगा सोने लगा मेने उसे बोला भी ऐसे मत सोया कर फिर वो बोला कम्बल के अंदर कोन देख रहा है। फिर मेने कहा ठीक है जो तुझे ठीक लगे वो कर एक रात ऐसे ही वो मेरी गान्ड पर अपना लन्ड लगा कर आगे पीछे करने लगा.

इसे भी पढ़ें   बहना ने सील तुड़वाकर मजे लिये

मे हिली भी नही फिर वो उठा ओर मेरी गान्ड ओर चूत दोनो चाटने लगा मुझे मजा आने लगा ओर मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया मुझे लगा इसे पता ना लग जाए कि मैं जग रही हु तो मेने अपनी करवट बदल ली फिर छोटा भाई ने कम्बल हटा कर मेरे मुंह पर मुठ मार के पानी निकल दिया अपना और वो सो गया.

मेने अपनी एक आंख खोल कर देखा तो वो सो चुका था मेने उसका सारा पानी पी गई और गान्ड और चूत मै ऊंगली करने लगी और कब सो गईं पता नही चला सीधा सुबह उठी। देखा तो भाई नही था । भाई ने एक छोटी सी चिट पर लिखा था दीदी रात आप जग थे ना। “Bahan Ki Hardcore Chudai”

मेने उस चिट को वही रख दिया ओर ऐसा किया की मेने उसे पढ़ा ही नही है। हम अपने काम मे एक गए रात को मेने सोते समय बॉडी लोशन अपनी चूत ओर गान्ड पर ठीक से भर लिया था और उसकी तरफ़ गान्ड कर के लेट गई वो आया अपने सारे कपडे निकल कर अपना लंड हिला कर खड़ा कर लिया ओर मुझ से चिपक गया.

तो उसने अपना लन्ड मेरे चूतड़ों पर सेट किया तो उसे लगा की आज कुछ ज्यादा चिकना है तो उसने अपने हाथ मेरे गान्ड पर लगा कर देखा तो उसके हाथ पर बॉडी लोशन लग गया तोह उसने अपने लन्ड पर लगा कर उसे भी चिकना कर दिया ओर कम्बल हटा दिया ओर मुझे सीधा कर दिया.

मेरे पैर उठा कर अपने कंधो पर रख लिए ओर अपना लंड मेरी चूत पर सेट किया एक जोर से धक्का दिया तो उसका आधा लन्ड मेरी चूत मे चला गया ओर मेरी चीख निकल गई ओर चिल्ला कर बोला ऐसे कोन करता है एक बार मै ही डाल रहा था आराम से करते है।

मेरी चूत से खून भी निकल रहा था खून देख कर छोटा बोला दीदी आप के खून आ रहा था तो मेने कहा दो इन्च के छेद मे 3 इंच का जायेगा तो खून तो आयेगा ही अनिल सॉरी बोलने लगा ओर बोला दीदी एक बार फिर करू तो मेने कहा आराम से करना तो मे अपनी टांगो को फैला कर लेट गई. “Bahan Ki Hardcore Chudai”

छोटा भाई आया उसने अपना लन्ड फिर से छूट पर सेट किए आराम से डालने लगा धीरे धीरे धक्के देने लगा और मेने कहा एक बार निकल कार जोर से अंदर डाल उसने कहा दीदी आप को दर्द होगा मेने उसे आंखे दिखाते हुए कहा डाल।

तो उसने निकल लिया ओर एक दम से धक्का देके पुरा घुसेड़ दिया मेरी जोर से चीख निकली मेरे आशु भी निकल गए भाई अब जोर जोर से धक्का लगा रहा था मुझे मजा आ रहा था उसका लन्ड मेरी बच्चे दानी तक जा रहा था।

आधे घण्टे तक उसने मुझे चोदा फिर उसका पानी निकल गया अंदर ही झाड़ दिया उसने मेने कहा कोई नही। मेरी चूत मेरे उसका पानी और खून साथ मे निकल रहे थे मेरी चूत का भोसड़ा बना दिया था छोटे भाई ने। वह बॉथरूम जा कर अपने आप को धो कर और मेरे लिऐ मग मे थोड़ा पानी ओर एक कपड़ा लाया मुझे साफ करें के लिऐ.

फिर उसने मुझे साफ करें लगा उसके बीच मे उसने एक उंगली मेरी गान्ड मे भी डाल रहा था मेने कहा क्या कर था है ये तो बोला कुछ नही मे बोली जा करना था वो कर लिया न अब आगे सोचना भी नही करने की फिर छोटा भई बोला दीदी आप को मजा आया ना.

मेने कहा मुझे दर्द हो रहा है तू मजे की बोल रहा है फिर बोला दीदी एक बार ओर करने दो ना मेने उसे साफ साफ मना कर दिया। ओर बोला अब मुझे हाथ भी मत लगा दियो। वो आ कर चुप चाप कम्बल ओढ़ कर सो गया फिर मे भी सो गई.

इसे भी पढ़ें   सहेली से चुदाई का चरमसुख। Lesbian Sex Story

और अगले दिन की कॉलेज की छुट्टी कर ली दर्द बहुत हो था था चला भी नही जा था। ऐसे ही दो हफ्ते निकल गए । मे ठीक हो चुकी थी तो छोटा भाई बोला दीदी आपकी गान्ड मारने दो ना एक बार फ़िर कभी नही कहूंगा आप से तो मेने कहा जा तुझे करना है वो कर पर मुझे मत बता. “Bahan Ki Hardcore Chudai”

फिर वो बोल रहा है कि दोगी या नही मेने भी कहा फिर रात हो मेने अपना कम्बल अलग कर लिया था मेने अपने सारे कपडे उतार कर कम्बल ओढ़ कर उसका इंतजार करने लगी । फिर वो आया तो उसने देखा की मे तो अलग हो कर सो रही है।

ओर मेने अपनी करवट बदली और अपनी गान्ड कम्बल से बाहर निकल दी तो वो समझ गया की दीदी चुदना तो चाहती है पर सीधा नही बोल सकती वो भी अपने सारे कपडे उतार कर अपना लन्ड मेरी गान्ड के छेद पर सेट कर के मेरे पास लेट गया.

मेने अपने हाथ से उसके लन्ड को अपनी चूत पर लगा लिया फिर उसने कहा दीदी ठीक से करो ना फिर मेने कहा नही ऐसे ही करना है तो करो वरना रहने दे। फिर वोला ठीक है क्या मारू मेने कहा जा उस दिन मारी वही मार बस। उसने अपने लन्ड पीछे किया ओर बोला इसे गिला तो करो सूखे मे नही जाएंगे.

फिर मे बोली थूक लगा ले उसने मेरी गान्ड पर एक जोर से थप्पड़ मार ओर बोला रांड़ साली एक चूत देने मे इतनी नौटंकी कर रही है। फिर उसने थूक अपने लन्ड पर लगा कर एक जोर से धक्का दिया पुरा लन्ड मैरी चूत मे घुस गया मेरी चीख निकली आराम से डाल हरामी.

फिर उसने मेरी एक ना सुनी जोर जोर से धक्के दिए जा रहा था आज फिर से उसने मेरी चूत मे ही अपना पानी निकाल दिया फिर मे उठी उसे बोला आगे से मेरी चूत मे मत डाल दियो वो गुस्से मे मेरी गर्दन पकड़ी ओर मेरे होटों पर kiss करने लगा मुझे भी मज़ा आने लगा मे भी करने लगी. “Bahan Ki Hardcore Chudai”

फिर उसने लन्ड चूसने को बोला मेने उसे मना कर दिया उसने मुझे एक जोर से थप्पड़ मारा फिर मेने उसका लन्ड पकड़ा ओर चूसने लगी उसका पानी निचोड़ दिया और पी जी उसे धक्का दे कर बेड पर गिरा कर बाथ रूम भाग गई और नहाने लगी.

मे पूरे एक घण्टे तक नहाया मेने तब तक छोटा भाई सो चुका था मे भी सो गई। फिर सुबह उसने मुझे उठा दिया ओर बोला बहन की लोडी मेरा लन्ड खड़ा है इसे बिठा जल्दी से मेने नीद मे बोल दिया जा अपनी मां चोद ले वो भी बहुत बड़ी चुदक्कड़ है तेरा बाप कम पड़ता है उसे फिर वो वहां से नहाने चला गया फिर मे भी उठ गई।

वो नहा कर निकला और बोला रांड उठ गई तू मेने कहा ऐसे मत बोल आगे से बोला तो कुछ भी नहीं करने दूंगी फिर वो बोला तू और तेरी मां को चोदूंगा मे अब मेने कहा जा करना है वो कर पर रात में मुझे उठाया मत किया कर समझा लोडू। फिर वो बोला ऐसे मजा नही आता है दीदी फिर मेने कहा अगर तू मुझे बिना जगाए दस दीन चोद लिया तो मै तुझे अपनी गान्ड भी दूंगी। फिर उसने कहा कोशिश करता हू। मेरी गान्ड ओर मां की चूत ओर गांड़ भी छोटे भाई से छुड़वा दी अगले भाग मे बताऊंगी.

दोस्तों आपको ये Bahan Ki Hardcore Chudai की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे…………..

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment