रक्षाबंधन पर भाई से चुद गई। Hot Xxx Didi Sexy Kahani in Hindi

Hot Xxx Didi Sexy Kahani in Hindi में पढ़ें। रक्षाबंधन पर मेरे पति और मैं अपने मामाजी के घर गए। वहां पर यह पारिवारिक बैठक सामूहिक परिवार के सेक्स में बदल गई।

मेरा नाम कृति चौहान है और मैं 28 वर्ष का हूँ।

आपने मेरी पिछली कहानी तलाक के बाद मौसी के साथ यौन संबंध। Penti Xxx Sex Kahani

पढ़ी थी।

मेरे पति अमित और मैं नोएडा में रहते हैं। अमीत की उम्र ३२ वर्ष है।

शादी से पहले मैं बहुत सीधी सादी सी लड़की थी, लेकिन मेरे पतिदेव की बातें और हरकतें मुझे अब भी कामुक विचारों से भर देती हैं।

Indian Didi Free Sex Kahaniya

अब अमित और मैं अपने यौन संबंधों के दौरान बहुत गंभीर बातें करते हैं जिसमें दूसरों का जिक्र भी होता है।

इन लोगों में हमारे आसपास के लोग, दोस्त और परिवार के सदस्य शामिल हैं, जिनके बारे में गंदी बातें, रोलप्ले और इतना कुछ होता है, जो हमारी यौन जीवन की आकांक्षाओं को भर देता है।

हम अपनी अलग ही कल्पनाशील, सेक्सी और इरॉटिक दुनिया में रहकर यौन आनंद ले रहे हैं।

यह मेरी पहली कहानी है, और मैं यह Hot Xxx Didi Sexy Kahani in Hindi आपके लिए इसी कल्पना से लाया हूँ।

30 अगस्त को रक्षाबंधन था।

यद्यपि मेरे भाई नहीं रहते, मेरे मामाजी का परिवार नोएडा में रहता है। उनके परिवार में 52 वर्षीय मामा राजेश, 49 वर्षीय मामी सरिता और 19 वर्षीय बेटी दिव्या हैं।

सुबह सुबह मामी ने फोन किया और कहा, “बेटा कृति, आज रक्षाबंधन है, इसलिए आप दोनों पूरे दिन यहीं रहेंगे और अपने भाई को राखी भी बांध देंगे।”

मैंने अमित को सूचित किया।

हमारे पास भी छुट्टी थी, इसलिए हम नाश्ता करके मामा के घर चले गए।

मैं रेड टॉप, जींस और मंगलसूत्र पहना था।

मेरे हबी ने ब्लू कलर की शर्ट और जींस पहनी थी।

हम 30 मिनट में मामा के घर पहुंच गए।

जाकर बैठे, कुछ बोलकर चाय पी।

फिर मामी ने कहा, “कृति, अब सनी को राखी बांध लो… फिर आराम से बैठेंगे।”

मैंने उत्तर दिया: ठीक है।

जब पूजा की थाली आ गई, मैंने सनी को राखी बांधी, तो उसने पूछा, दीदी, आपको क्या चाहिए?

मैंने कहा कि तुम अभी बहुत छोटा हो, तुम्हें क्या मांगूं?

लेकिन वह जिद करने लगा, और मामी ने कहा, “जब इतना बोल ही रहा है तो मांग लो।”

मैं नहीं जानती कि क्या हुआ..। सनी, अगर तुम्हें कुछ देना है तो मुझे ये दे दो, मैंने सबके सामने ही उसके पैंट की जिप की ओर इशारा करते हुए कहा।

ये देखकर सब सन्न रह गए और मेरी ओर देख रहे थे।

एक मिनट के लिए पूरी तरह से शांत हो गयी!

और मैं भी समझ गयी कि मैंने क्या किया था।

मैं अब क्या करूँ?

Bhai Bahan Ki Sexy Kahaniya

सनी, तू ही तो जिद कर रहा था, मामी ने कहा। अब, अगर तुम्हारी बहन कुछ चाहती है, तो तुम्हें उसे देना चाहिए।

यह सुनकर मेरी जान में जान आई, और मैंने मामाजी की ओर देखा तो उन्होंने मुझे नमस्कार किया।

अमित के चेहरे पर शैतानी मुस्कुराहट थी, जब मैंने उनकी ओर देखा।

तुरंत ही मैंने सनी का हाथ पकड़ लिया और उसे सोफे पर अपने साथ बिठा दिया. मैंने एक हाथ उसकी जांघ पर फिराया, दूसरा हाथ उसके चेहरे पर रखा और धीरे-धीरे उसके होंठों को अपने होंठों से छू लिया।

ये बहुत अलग अहसास था क्योंकि मैंने ये सब फैंटेसी में अपने पति के साथ किया था।

लेकिन आज मैं अपने छोटे भाई, 19 साल के एक लड़के के होंठों पर किस कर रही थी।

मामाजी, मामीजी और दिव्या सिर्फ हमें देख रहे थे।

सनी अब मेरे चेहरे को पकड़कर मुझे स्मूच करने लगा।

19 साल का लड़का लगता नहीं था कि मेरा भाई है जब वह मेरे होठों को चूस रहा है. यह विचार मेरे मन में छिपी हवस को जगा रही थी।

हम एक दूसरे के होठों को अच्छे से चूम रहे थे, जबकि बाकी लोग इस बात से पूरी तरह अनजान थे कि यहां कोई है या नहीं।

बस मुस्कुरा रहे थे।

फिर सनी ने अपने दोनों हाथों से मेरी गोलाइयों को महसूस किया।

फिर उसकी नजर मेरी क्लीवेज पर पड़ी, उसके हाथ मेरे दोनों बूब्स पर दब रहे थे।

मेरे सामने वाले सोफे पर मामी, ब्ल्यू साड़ी पहने हुए, हमें ही देख रही थी, जब मैंने बाकी सबकी तरफ देखा।

जब मेरी नजर उन पर पड़ी, वह मुस्कुरा दी।

दिव्या, सलवार कमीज पहनी हुई, मेरे पास बिछे दीवान पर बैठी हुई थी।

वह अमित, अपने जीजू, को देख रही थी।

मैं खुद मुस्कुराया।

अमित ने मुझे बायीं ओर सोफे पर देखा।

पास में मेरी माँ भी थी, जो मेरी बूबी को घूरती थी।

अब, सनी ने मेरी रेड टॉप निकालकर मेरी रेड ब्रा के ऊपर से दिखने वाली क्लीवेज को चाटने लगा।

सब लोग एक लाइव ब्लू फिल्म देख रहे थे।

वह अचानक उठकर मेरे बगल में आकर मेरी गर्दन पर किस करने लगे।

जैसे हर दिन ये सब होता है, पूरी फैमिली इतनी सहज लग रही थी।

सब लोग चुप थे..। सिर्फ दोनों पिता-बेटे ने मुझे प्यार करना शुरू किया।

इसके बाद मामी उठकर अमित के पास बैठ गई और उनसे पूछा, “अमित, तुम्हें ये देखकर कैसा लग रहा है?”

“बहुत अच्छा मामी जी,” अमीत ने कहा।

मामी ने कहा कि आज कोई शादी नहीं करेगा। ओके, क्या सब लोग अब शुरू हो ही गए हैं तो एक दूसरे का नाम ही लेंगे?

अमित ने कहा, सरिता, ये ठीक रहेगा।

कृति बेटा, कैसा लग रहा है? मामा ने पूछा।

धीरे-धीरे मैंने कहा, बहुत अच्छा मामाजी।

तुरंत उन्होंने मुझे टोका: सरिता ने क्या कहा?

मैंने हां में सर कहा।

Hot Cousin Sister Desi Chudai Kahani

अब सनी एक बार फिर मेरे होंठ चूसने लगा।

मैं बता नहीं सकती कि मैं क्या महसूस कर रही थी।

आजतक मैं इतना ख़ुश कभी नहीं हुई थीं।

आज तक किसी और ने मुझे छुआ नहीं था, दो पुरुष एक साथ..। साथ ही मेरे भाई और मामा भी..। एक्साइटमेंट से मेरी काया में सुइयां चुभ रही थीं!

यह सब परिवार के सामने हो रहा था।

मैं कुछ समझ नहीं पा रही थी..। मैं सिर्फ इस पल को जी रही थी।

इसमें इतना आनंद है!

तब मामा ने मेरी ब्रा खोल दी और दोनों ने उसे एक-एक करके चूसना शुरू किया।

मेरे मामा जी और उनका बेटा मेरे 34B साइज के मम्मे चूस रहे थे।

अब तक मेरी चूत गीली होने लगी थी और मैंने उन दोनों के बाल पकड़ रखे थे।

अमित और मामी अभी तक सिर्फ हमें देख रहे थे।

तब मामी ने अमित से पूछा कि क्या तुम ऐसे ही बैठे रहोगे? क्या आपको कुछ नहीं चाहिए?

अमित मुस्कराया।

इसके बाद मामी ने अमित को लिप टू लिप किस दिया।

छोटा प्यारा किस!

फिर मुझसे कहा, “कृति देखो, तुम मेरे पति और बेटे से मजे ले रही हो, और अब मैं तुम्हारे पति से मजे लूंगी।”

अब तक नजरें नीचे किए बैठी दिव्या को मामी जी ने इतना कहकर बुलाया।

मम्मी ने उसे अपने और अमित के बीच में बिठाकर कहा, “बेटी, शरमाओ मत, आज सब अलाउड है।” तुम्हारे जीजाजी हैं।

बोलते हुए उसने उसके गाल पर एक किस दिया।

दिव्या एक बहुत सुंदर लड़की है, जो 21 साल की है और बहुत छोटी लगती है।

उसका शरीर हल्का है, उसके कद लम्बा हैं और उसके उभार बहुत सुंदर दिखते हैं।

मामी जी ने अमित का हाथ पकड़कर दिव्या के बूब्स, जो लगभग ३० के होंगे पर रखा।

फिर क्या हुआ..। बिल्ली को सिर्फ दूध का एक कटोरा दिया गया था।

अमित पहले से ही दिव्या को पाने की इच्छा रखता था. मैंने उसे कई बार दिव्या का रोले प्ले करवाया था।

और सामने दिव्या मिलते ही उसकी कामोत्तेजना बढ़ गई।

वह मुझे बहुत प्यार और नजाकत से व्यवहार करता था जैसे मैं 19 से 20 साल की छोटी सी वर्जिन लड़की हूँ।

वह एक हाथ से दिव्या की छाती को नाप रहा था और दूसरा पीठ पर था,अमित ने उसके होंठों का रस पीना शुरू कर दिया।

आज अमित की हसरत पूरी हो रही थी और दिव्या उसकी बांहों में थी, इसलिए मैं खुश थी।

यहां सनी और मामा जी मेरा दूध ऐसे पी रहे थे जैसे वे गाय से बिछड़े पी रहे हों।

सनी ने मुझसे पूछा: दीदी, तुम्हें अच्छा लग रहा है न?

मैंने कहा, “उफ्फ… पूछ मत कितना मजा आ रहा है।”

तभी मामा ने मेरी निप्पल काट दी।

मेरी चीखते बाहर आ गयी,

मामा “बेटा सिर्फ मजे ही लेगी?” वे प्यार से मेरे गाल पर थप्पड़ मारे। थोड़ा दर्द भी लेना चाहिए।

मुझे स्मूच करने लगे, फिर अपने बाएं हाथ को नीचे लेकर मेरी जींस की जिप और बटन खोलने लगे।

मामा ने मेरा दायां हाथ सनी के बालों में पकड़कर उसके लन्ड पर दबाया।

तो मैं उनके कपड़े पैंट के ऊपर से महसूस करने लगी।

आज मुझे पता चला कि जन्नत क्या है।

कभी इतनी उत्तेजना नहीं हुई थी।

Bhai Bahan Ki Hindi Sex Stories

दूर से हमें देख रही मामी ने सनी से कहा, “बेटा, अपने कपड़े निकाल और दीदी को भी उसकी मांग पूरी करो।”

सनी ने मेरे बूब छोड़कर अपनी टीशर्ट निकाल दी।

फिर जींस भी निकालकर मेरे सामने खड़ा हो गया।

मैंने उसे देख लिया। बिल्कुल छोटा और दुबला..। शरीर में कोई बाल नहीं था।

जैसे ही मैंने उसकी चड्डी खिसकाई, मुझे बहुत खुशी हुई।

लगभग 7 इंच मोटा लन्ड लटक रहा था।

उसके लिंग और शरीर को देखकर मैं हैरान रह गई।

19 वर्षीय लड़के का लिंग अमित के लिंग से बड़ा था!

मैं इतना हैरान थी और मामी जी भी!

जैसे ही उसका लन्ड बाहर आया, उन्होंने कहा, “वाह बेटा!”

एक मिनट तक सबका ध्यान उसके सामान पर था।

मामाजी ने मेरी पैंटी के ऊपर से मेरी चूत का नाप लिया।

और मुझे इतना मजा आ रहा था कि मैं उफ्फ ऊऊ उम्म्म और कभी-कभी “उफ्फ मम्मी” और कभी-कभी “ओह गॉड” बोल रही थी।

“मेरी रण्डी मेरा नाम नहीं लेगी,” मामा ने धीरे से कहा।

मामाजी ने जो कहा, उससे मेरा दिल जल गया।

और मैं जोर से कहा, राजेश, मैं तुम्हें प्यार करती हूँ!

उसने जीभ को मेरे मुंह में डालकर मेरे दोनों होंठ भर लिए।

अब तक मैं अपने हाथ से सनी का लन्ड सहला रही थी।

जब मामा चले गए, मैंने पहले सनी के लन्ड पर किस किया और फिर उसे मुंह में भरकर चूसना शुरू किया।

उस लड़के ने मेरा सर पकड़ा और कहा, “मैं तुम्हें प्यार करता हूँ, कृति दीदी,”

और मेरे मुंह में अपना लन्ड डालने लगा।

जब सनी मुझे अपना लौड़ा चुसा रहा था, मामाजी अपनी बेटी, जिसे वे अपनी बेटी समझते थे, की चूत पूरी तरह से सहला रहे थे, जो अब तक गीली हो चुकी थी।

मेरे पति देव अमित ने अपनी साली दिव्या का कुर्ता निकालकर उसके उभरे हुए चूचों को ब्रा से बाहर निकालकर उसे चूमते, चूसते और दांतों से उसके निप्पलों को खींचते हुए देखा।

कभी-कभी अमित इतनी जोर से दबाते हैं कि उसकी सिसकी निकल जाती है।

लेकिन शायद यह पहली बार था कि कोई मर्द उसके दूधों से खेल रहा था।

अमित भी दिव्या की युवावस्था का पूरा आनंद लेना चाहता था, इसलिए उसे कुछ भी जल्दी नहीं करना था।

उसने दिव्या को इस तरह चोदना चाहा कि वह उसकी दीवानी बन जाए।

सनी हर बार मेरे मुंह की सवारी कर रहा था और अपना लन्ड पूरी गहराई तक घुसाने की कोशिश कर रहा था!

लेकिन मैं इतना बड़ा लन्ड नहीं लेती था।

यह 7 इंच का था, जबकि अमित केवल 5 इंच।

Antarvasna Didi Ki Hot Kahani

मेरा मुंह चोक हो रहा था, इसलिए मेरा हाथ सनी के पेट पर था ताकि वह उसे जबरदस्ती नहीं घुसा सके।

कृति, तुम्हारे छोटे भाई का खिलौना कैसा है? मामी ने पूछा।

मैंने कहा: बेहतरीन।

अब तक मामा ने मेरी ब्लैक लेस वाली पैंटी पर अपना मुंह लगाया और मेरी जींस निकालकर फेंक दी।

मैंने टांगें फैला दीं।

मैं ऊऊ उफफ अमामम्म आउच ओह गॉड उफ्फ कर रही थी!

मामा बार-बार पैंटी के ऊपर से मेरी चूत में अपनी जीभ डालकर पूरी चूत को चाटता था।

ये कहानी भी पढ़े – बहन मेरे लंड के नीचे आ गई। Xxx Brother and Sister Sex Story in Hindi

मुझे इस तरह की चटाई बहुत अच्छी लगती थी, लेकिन मैं चाहती थी कि वह मेरी प्यासी बुर को मेरी पैंटी से फाड़ दे।

अब मैं तड़प रही थी और अपने हिप को उछाल रही थी।

तुम सब मेरी Hot Xxx Didi Sexy Kahani in Hindi को कैसे देखते हो? मुझे कमेंट में जरूर बताना।

बाकी की कहानी अगले भाग में।

Related Posts

Leave a Comment