तलाक़शुदा दीदी चुदने के लिए हो गयी तैयार | Hindi Sex Story Bhai Bahan

Hindi Sex Story Bhai Bahan कहानी में पढ़ें कि मैं मामा के घर गया तो उनकी तलाकशुदा बेटी ने मेरे पास सोकर मुझे गर्म कर दिया, फिर खुलकर मेरी चूत और गांड मरवाई।

नमस्कार, मैं रॉकी की असली वाली सेक्स कहानी लाया हूँ।
मेरी पहली कथा

मित्र की चुदक्कड़ गर्लफ्रेंड ने मेरे लंड को बहुत पसंद किया, और मुझे बहुत सारे मेल आए।
मैंने सभी को देर से उत्तर दिया।

अब मेरी Hindi Sex Story Bhai Bahan पढ़ें।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

मेरी मामा के तीन बच्चे हैं।
पहले वाली की शादी हो चुकी है और तलाक़ हुआ है।

दूसरी वाली की शादी हो चुकी थी, इसलिए मैं मामा के गांव में पन्द्रह दिनों के लिए गया था।
मैं तीसरी से प्यार करता हूँ।

Bhai Bahan Sex Kahani

लेकिन मुझसे बड़ी बहन पट गई और मैं उसे बहुत चोदा।

मामा की बड़ी लड़की स्नेहा और छोटी लड़की आम्रपाली नाम है।

तलाक़शुदा दीदी चुदने के लिए हो गयी तैयार | Hindi Sex Story Bhai Bahan

स्नेहा दीदी एक सुंदर औरत है। किसी का भी लंड उसके सामने खड़ा हो जाएगा।
वह शादी के बाद किसी के साथ अनैतिक संबंधों में थी और उसके पति ने उसे रंगे हाथ पकड़ लिया था।
बड़ी दीदी का अपने पति से तलाक़ हुआ था।

आम्रपाली भी मुझे लाइन देती थी और मैं हमेशा उसके आसपास रहता था।
हम सबके घरवाले हमें अलग-अलग नाम से चिढ़ाते थे।
आम्रपाली मुस्करा कर हर बार हमें चिढ़ाती थी।

बहुत सारे लोगों और शादी वाला घर था।
मैं छत पर अकेले सोता था।

एक दिन, जगह नहीं थी तो स्नेहा दीदी मेरे बगल में लेट गई।
उसके आने से मैं सो रहा था।
शायद रात का एक बजे होगा।

दीदी बिना कम्बल के लेटी हुई थी।
मैंने अपना कम्बल उसके ऊपर रखा जब वह मेरा कम्बल खींचने लगी।
वह पूरी तरह से कम्बल में गिर पड़ी।

अब हम दोनों एक कम्बल पर बैठे हुए थे।
स्नेहा दीदी मेरी तरफ पीठ करके सोयी हुई थी, जिससे मेरे लंड खड़े हो गए।

थोड़ी देर बाद मेरा लंड स्नेहा दीदी की गांड पर पड़ा।
स्नेहा दीदी ने मेरे कड़क लंड का अहसास करते ही थोड़ा हिला लेकिन कुछ नहीं कहा।

गाउन पहना था।
मैं स्नेहा दीदी की गांड में अपना लंड दबाने लगा।

स्नेहा दीदी ने अपनी कमर पीछे की ओर बढ़ा दी।
मैं उसका संकेत समझ गया।

मैंने स्नेहा दीदी के ऊपर हाथ डालकर उसे अपनी बांहों में ले लिया।
उसकी सांसें फूलने लगी थीं और वह मेरी तरफ़ पीठ करके सो रही थी।

मैं उसके गाउन के बटन को खोला।
उसके अंदर ब्रा नहीं थी।
स्नेहा दीदी के दूध जल्दी बाहर आ गए।
मैं उन पर दबाव डालने लगा और स्नेहा दीदी के ऊपर एक पैर रखा।

अब मैं जोर से उसके मम्मों को दबाने लगा।
दीदी की सांसें फूल गईं। वह तुरंत उठी और छत के दरवाजे बंद करने चली गई।

इसे भी पढ़ें   विधवा बुआ की बेटी से हुआ प्यार-2। Hot Xxx Bahan Ki Sex Prem Kahani

एक बार वह चला गया तो मैं चौंक गया।
लेकिन अब मैं पक्का था कि आज दीदी की चूत में मेरा लंड नाचेगा। Xxx दीदी, मैं स्लीपिंग सेक्स का आनंद लेने वाला था।
वह अपना गाउन निकालकर मेरे कम्बल पर लेट गई।

मैंने उस पर हमला किया।
दीदी चुदवाने के कार्यक्रम से आयी थी और पैंटी भी नहीं पहनी थी।

हम एक दूसरे को चूमने लगे।
मैंने दीदी का दूध मुँह में भरकर चूसने लगा।

उसने अपने हाथ से मेरे मुँह में दूध डालकर आह आह करने लगी।
मैं उसके एक दूध को चूसता और हाथ से दूसरे को दबाता।

मैं स्नेहा दीदी के दोनों मम्मों से आनंद ले रहा था।
मैं उसकी चूत में उंगली डालने लगा और उसके दूध को चूसने लगा।
मैं कभी दायां दूध चूसता तो कभी बायां दूध खींचता और चूत में उंगली डालता।

मैं दीदी की चूत में उंगली डालने लगा तो वह भी अपने कमर उठा उठा कर उंगली लेने लगी।
उसकी चूत से रस निकलने लगा।

थोड़ी देर बाद दीदी ने कहा, “रॉकी, मुझे चोद दो।” मैं प्यासा हूँ।
मैंने कहा, “दीदी, मैं अभी कुछ देर तक रहूँगा।” फिर मैं चोदूंगा।

उसने पूछा, “मेरी चाटेगा?”
हां कहकर मैं दीदी की चूत चाटने लगा।

अब दीदी पागल हो गई और मेरा सर चूत पर दबाने लगी।

दीदी बहुत खुश हो गई थी और बोलने लगी, “रॉकी, इससे अच्छा कोई खेल नहीं था।” तुमने मेरा पानी भी पी लिया, और मैं अभी भी चुदी नहीं हूँ…। आह और चाट मेरी चूत..। मैं तुम्हारी रखैल बनकर रहूँगा। ऐसा ही चोदेगा तो मैं हर समय अपनी चूत खोलकर खुश रहूँगा..। रॉकी, मैं तुम्हें प्यार करता हूँ और चाट। आह आह।

थोड़ी देर चूत चाटने के बाद दीदी ने कहा, “रॉकी, मेरी चूत को चोद दो।” चूत वास्तव में बहुत प्यासी है!
उसने मेरा अंडरवियर और टी-शर्ट उतारा।

मेरा लंड देखकर उसकी आंखें चमक उठीं। तुम्हारा लंड बहुत सुंदर है, दीदी ने कहा..। मैं तुम्हें बहुत कुछ दे दूंगा!

मैंने कहा कि अगर आपको यह पसंद आया तो इसे प्यार करके भी बता दें!
उसने कहा कि 69 करो।

मैंने ओके कहा और दीदी की चूत में लंड डाल दिया।
मेरे लंड का सुपारा उसने खुशी से चाटने लगा।

Bahan Bhai Ki Sex Story 

उसने मेरी गर्दन को अपनी टांगों से कसकर मुँह पर चूत मारने लगी।

कुछ देर बाद, वह रोने लगी और गाली देने लगी, “अब मुझे चोद दो।” मेरी चूत जल गई है। मेरे ऊपर जल्दी चढ़ो।
मैंने कहा, दीदी, तुम मेरे लंड की सवारी करके पहले अपनी आग बुझा लो। बाद में मैं आपको चोद लूंगा।

ओके कहकर उठकर मेरे लंड पर बैठ गई।
लंड उसकी चिकनी चूत में हल्का सा दबाव से आधा अन्दर घुस गया।

इसे भी पढ़ें   मामा की बेटी बनी मेरे लंड की दीवानी | Mama Ki Beti Ki Xxx Chudai Kahani

दीदी ने आह आह करते हुए अपनी चूत को धीरे-धीरे हिलाकर लंड को अंदर ले लिया।
मैंने पूछा: “क्या हुआ?” दीदी, आप आह क्यों कर रहे हैं?

दीदी, बहुत दिनों बाद एक लड़का मेरी चूत में गया है। तुम्हारा लंड भी बहुत मोटा है। मेरी चूत दर्द कर रही है।
मैं हंसकर उसकी चूचियों को सहलाने लगा।

तलाक़शुदा दीदी चुदने के लिए हो गयी तैयार | Hindi Sex Story Bhai Bahan

थोड़ी देर बाद उसने लंड पर हिलना शुरू कर दिया और वह पूरा अंदर जाने लगा।
अब दीदी जोर से गांड हिलाकर लंड लेने लगी।
वह मेरी छाती पर हाथ रखकर अपनी सुंदर गांड को हिला रही थी, उसके दूध ऊपर से नीचे होते हुए।

उसके दूध चूसकर मैं उसकी युवावस्था का आनंद लेने लगा।
दीदी ने अब गति बढ़ा दी।

उसने धीरे-धीरे आहें भरते हुए कहा, “रॉकी..।” तुम्हारा लिंग बहुत सुंदर है..। आज से मेरी चूत सिर्फ तुम्हारी है।
अब वह अपनी कमर आगे पीछे कर रही थी और मेरी चूत में पूरा लंड डालकर मज़ा ले रही थी।

मैं भी उसे अपनी छाती से लगाकर लंड की ठोकरें मार रहा था।
फिर वह अचानक सीधा हो गया और आह आह करके पानी छोड़ दिया।

दीदी थक गई और मेरे ऊपर लेट गई।
मेरा वीर्य अभी भी चूत में था, और मैंने अपना वीर्य बाहर नहीं निकाला था।

अब मैं दीदी के ऊपर आ गया और उसके पैर उसके कंधों पर रखकर जोर से पीने लगा।
दीदी मेरा लंड भी बहुत प्यार से ले रही थी।

उसने लंड लेते हुए अपनी टांगें हवा में फैला दी, “आह..।” कितनी सुंदर चोदता है, रे..। आधा घंटे बीत गया है और आप चोद रहे हैं। आह, जोर से करो..। मेरी चूत को फाड़ दो..। आह, रॉकी पेल..। बस बाहर मत निकलना। तुम्हारा पानी पीना चाहिए। निकालने से पहले सूचित करें।

दीदी मेरा लंड नीचे से उछाल रही थी।

मैं कुछ और मिनट के बाद सोचा कि मैं निकलने वाला था।
अब मेरा निकलने वाला है, मैंने दीदी को बताया।

दीदी ने कहा, “साले, अभी तक तूने मेरा दो बार निकाला है।” तुरंत मुँह में दे!
तब दीदी मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी।
मैं खुश नहीं हो रहा था।

उसने चाटकर पूछा कि तुम्हारा रस क्यों नहीं निकल रहा है?
मैंने कहा कि मैं नहीं जानता था, क्योंकि उस समय यह आदमी टूटने वाला था।

मेरे लंड के सुपारे को उसने अपनी जुबान से चूसने लगा।

प्रिय, मैं जन्नत में था।
उसने कुछ मिनट बाद लॉलीपॉप की तरह लंड चूसने लगा।

मैं पूरी तरह से गर्म हो गया।
मैं कुछ देर में अपना पानी छोड़ दिया।

दीदी लगातार मेरा लिंग चूसती रही।
दीदी ने मेरा सारा पानी पी लिया।
वह मेरा लंड अभी भी चूस रही थी।

दीदी ने मेरा लंड चूस चूस और चाटकर सब कुछ साफ कर दिया।
दीदी ने कहा कि तुम्हारा लिंग फिर से खड़ा हो गया है। पहली बार निकलने में एक घंटा लगा था, लेकिन अब और देर होगी।

इसे भी पढ़ें   Virgin Girl XXX Kahani – दोस्त की बहन और गर्लफ्रेंड दोनों मुझसे चुदी

Bhai Bahan Porn Kahani

चल अब पीछे से आ जा, उसने आंख मारी।
उसने घोड़ी की तरह गांड दिखाई।

मैं दीदी की गांड में कूद पड़ा।
रॉकी, जोर से, दीदी बोलने लगी!

दीदी की गांड में मेरा लंड आधा ही जा रहा था।
फिर भी चुदाई जोर से करने का आह्वान करती थी।

तलाक़शुदा दीदी चुदने के लिए हो गयी तैयार | Hindi Sex Story Bhai Bahan

लंड अब पूरी तरह से अंदर जा रहा था। मैं दीदी की गांड जोर से मार रहा था।

थोड़ी देर बाद दीदी मेरे लंड पर बैठ गई।

उसकी गांड मेरी तरफ थी।
मैं लेट गया। दीदी ऊपर-नीचे करती रही।

उसकी गांड मेरे वीर्य को बाहर निकाल रही थी।
मैं सब देख रहा था।
दीदी का रस काफी देर बाद निकल गया।

मैंने पूछा, दीदी, क्या आपको चुदाई करने का बहुत शौक है?
दीदी, इस प्रेम ने मेरी ज़िंदगी बर्बाद की है। लेकिन अब मेरा पति मुझे लेने को तैयार है। शादी होने पर ले जाएगा।

मैंने पूछा कि क्या तुम मुझे भूल जाओगी, दीदी?
Xx दीदी ने कहा, “नहीं रे पगले, आज तुमने मुझे जो सुख दिया है, वह किसी और ने मुझे कभी नहीं दिया।” मैं तुम्हें हर अवसर पर चुदवाऊंगा।

मैंने कहा, दीदी, आम्रपाली को ठीक से लगाओ।
दीदी ने कहा कि वह अब तुम्हारी है। उसके लिए अभी तक कुछ नहीं किया?

मैंने कहा कि नहीं।
दीदी ने कहा कि वह तुम्हारी हो गई है। तुम्हारे बारे में हमेशा सोचती है। लेकिन कल तुम्हें अकेले में मिलना होगा। मैं तेरी से संपर्क करता हूँ। लेकिन शादी के बाद वह तुम्हारी ही है।

मैंने कहा, “और आज से तुम मेरी ही हो।”
उसने हंस दिया।

फिर मैंने स्नेहा दीदी को हर रात चोदा।
आम्रपाली ने पूरी तरह से सैटिंग की।
हम अकेले कई बार मिले, लेकिन उसने कुछ नहीं किया।
उसने कहा कि मैं शादी के बाद तुम्हारी ही हूँ।

मेरी Hindi Sex Story Bhai Bahan आपको पसंद आई होगी।
ईमेल करें।

raviraj7678@gmail.com

Read More Sex Stories…

बेटी को चुदवाया यार से चुत की सील भी टूटी | Maa Beti Hindi Sex Stories

Bhojpuri Devar Sex – भाभी ने अपने टाइट तरबूज का स्वाद चखाया

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment