ऑफिस में आई पुरानी दोस्त को चोद दिया | Hot Girl First Time Sex Story

Hot Girl First Time Sex Story में पढ़ें कि जब एक नई लड़की मेरे ऑफिस में आई, तो वह मेरी पुरानी दोस्त निकली। मैंने कई साल पहले उससे शारीरिक संबंध बनाए थे। वह पहली बार था।

मैं आप सभी को अपनी इस Hot Girl First Time Sex Story में हार्दिक स्वागत करता हूँ, दोस्तों।

मैं गुजरात के अहमदाबाद में रहता हूँ और एक सॉफ्टवेयर कंपनी में काम करता हूँ।

आज मैं आपको अपने जीवन का एक हिस्सा बताना चाहता हूँ।
हर व्यक्ति के व्यक्तिगत जीवन में कुछ रहस्य होते हैं।
यह तब हुआ जब मैं कॉलेज खत्म करके काम करने लगा।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

Desi Girl First Time Sexy Kahani

शुरू में अपनी नई नौकरी में काफी जोश था। जीवन में कुछ करने का इरादा था।
मैं अपने काम पर अधिक फोकस करता था। मेरे मालिक मुझे बहुत प्रभावित करते थे, और मेरे सहयोगी इससे बहुत नाराज थे।
किंतु मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ा।

एक दिन मेरे ऑफिस में एक नई लड़की आई। उसका नाम था वंदना।
जब कोई नया कर्मचारी हमारी कंपनी में शामिल होता है, तो उसे डिपार्टमेंट का नाम बताया जाता है।

मेल पढ़कर मैं कुछ साल पहले कॉलेज के पहले वर्ष में था। मुझे वहाँ एक लड़की मिली।
तब हम फ्लैट में रहते थे।

हमारे यहां एक फ्लैट में, हर घर में मिलना जुलना, खाना पीना और एक घर से दूसरे घर में आना जाना एक निरंतर प्रक्रिया था।
हमारे फ्लैट पर एक परिवार रहता था, जिसके साथ हमारा घर की तरह संबंध था।

तमन्ना उनकी लड़की थी। वह मेरी सबसे अच्छी दोस्त थी।
हम पढ़ते, बाहर जाते और अपनी व्यक्तिगत बातें भी शेयर करते थे।

तमन्ना एक दिन एक लड़की के घर आई।
जब मैं उसके घर गया, तो मैंने उसे देखा।

वह एक बिल्कुल सादी लड़की थी।
उसका फिगर 30-28-32 था। लड़की की गोरी, घुँघराले बाल थे।

बाद में तमन्ना ने मुझे उससे बताया।
उसने बताया कि वह पास की सोसाइटी में रहती है और उसकी स्कूल में पढ़ती है।

बाद में वह चली गई।
उसके बाद वह हर दिन आती रहती थी। और हम सब मिलकर हंसते हुए बातें करते थे।

एक दिन, मेरे घर के सभी लोग गांव गए हुए थे, इसलिए मैं सिर्फ तमन्ना के घर में खाना पीता था।
जनरली फ्लैट में सब लोग दोपहर का खाना खाकर सो गए क्योंकि दोपहर का समय था।

मैं भी तम्मना के घर गया था। खाना खाते हुए पढ़ाई करता था।
तभी डोर बेल बज गया।

तमन्ना ने किचन में काम करते हुए मुझे चेक करने को कहा।
जब मैंने जाकर दरवाजा खोला तो वंदना मेरे सामने थी।

मुझे देखकर वह कुछ सकपका सी गई और प्रसन्न भी हुई।
मैंने उसे अंदर बुला लिया।

तमन्ना भी अंदर आई।

फिर तमन्ना ने वंदना को बताया कि वह कंप्यूटर में एक्सेल सीखने आई है। तुम्हारा रीडिंग वेकेशन अभी चल रहा है, इसलिए मैं तुम्हें मिलवा देता हूँ।

जब मैंने उसे मेरे घर चलने को कहा, तो वह तुरंत सहमत हो गई।
मैं वंदना और तमन्ना से मेरे घर पहुंचा।

मैंने कंप्यूटर का उपयोग करके शिक्षण शुरू किया।
सवा घंटे बाद, तमन्ना ने कहा, “मैं घर जा रहा हूँ, आप लोग जारी रखें।” मैं बाद में आऊँगा।

इसे भी पढ़ें   मोम की कामुकता सेक्स स्टोरी | Mom Ki Kamukta Sex Story In Hindi

Antarvasna First Time Sex Story

अब घर पर हम दोनों अकेले थे।
थोड़ी देर बाद वंदना ने ब्रेक लेने का अनुरोध किया।
मैंने कहा, “ठीक है।”

‘आशिक बनाया आपने…’ वाला गाना मैंने फिर वीडियो सॉन्ग शुरू किया।
उस गाने को वंदना बहुत ध्यान से देख रही थी।

थोड़ी देर बाद उसने कहा कि आपने मर्डर फिल्म देखी है।
मैंने कहा: हां, मैंने देखा है।

बाद में उसने कहा कि उसमें मल्लिका और इमरान हाशमी का एक सीन है। आपने उसे देखा है?
मैंने कहा कि मैंने ऑफ कोर्स देखा है।

यह सुनते ही उसकी आंखें चमक उठीं।
फिर उसने कहा, “उन्हें ये सब करने में शर्म नहीं आई होगी!”
मैंने पूछा: इसमें क्या शर्म है?

यह सुनते ही उसने कुछ नहीं कहा।
फिर मैंने पूछा कि क्या तुम्हें शर्म आती होगी अगर तुम उसकी जगह पर होते?

शर्म से वह नीचे देखने लगी और हल्का सा हंसने लगी।
मैंने सोचा कि ये एक ग्रीन संकेत है, न जाने क्यों।

मैं उसके पास धीरे-धीरे जाकर बैठ गया।
फिर मैंने उसके एक हाथ को मेरे हाथ में लेकर धीरे-धीरे दबाने लगा।
वह सिहर गई और तेजी से आहें भरने लगी।

फिर मैंने उसके सलवार कुर्ते का दुपट्टा उतारा और उसके होंठों को चूमने लगा।
वह पहले थोड़ा विरोध करती थी, लेकिन फिर साथ देने लगी।

तब मैंने उसकी बालों की पिन निकाल दी और उसके गले पर किस करने लगा।
वह हर बार मेरी गर्म सांस से गुदगुदी होती।

कुछ देर बाद मैं उसकी कुरती निकाल दी।
उसकी पिंक कलर की ब्रा में उसके छोटे छोटे दूध छिपा हुआ था।

मैंने उन्हें ब्रा के ऊपर से धीरे-धीरे मसलना शुरू किया।
उसके मुँह से अजीब आवाजें निकलने लगीं, “सस्स्स्स्स् अहह..।”

मैं भी इसे देखकर उत्साहित हो गया।

मैंने पीछे से उसकी ब्रा का हुक खोल दिया।
उसके दूध अब मेरे सामने खुले पड़े।

मैंने एक दूध के निप्पल को हाथ से दबाना शुरू किया और दूसरे को चूसना शुरू किया।
वह उत्तेजित हो गई जब मैंने अपनी जीभ को उसके पिंक निप्पल पर फेरना शुरू किया।

मैं उसके हाथों में समा गया।
मैंने उस समय ऐसा महसूस किया कि मैं कोई सपना देख रहा हूँ।
लेकिन यह सच था।

Hot Girl Xxx Kahani

फिर मैं उसे अपने बेडरूम में ले गया और उसे अपनी बांहों में उठा लिया।

वह मुझे कमरे में जाते समय लिपकिस करती थी।
उसकी आंखों में कुछ अलग तरह का उत्साह छा गया था।

उसकी आंखों की गहराइयों में मुझे खो गया।
मैंने उसे धीरे-धीरे बेड पर रखा और उसके ऊपर छा गया।

फिर मैंने उसके होंठों को चूमना शुरू किया।
बाद में मैं धीरे-धीरे नीचे आने लगा।

मैं अपने चुंबनों से उसके पूरे शरीर को ढकने लगा।
वह पहले उसके दोनों मम्मों को चूमा, फिर उसके पेट की ओर बढ़ा।

उसकी नाभि को मैंने देखा। एक पूरी तरह से गोल और गहरी नाभि के साथ एक छोटा सा तिल।

ये सब देखने के बाद कोई मूर्ख भी उठ खड़ा हो जाएगा।
मैंने प्यार से उसकी नाभि के आसपास और पेट पर स्पर्श करना शुरू किया।

इसे भी पढ़ें   नशे में बेटी के जवान जिस्म को भोगा बाप ने

इससे उसका पेट हिलने लगा, वह थक गई और मुँह से आवाजें निकालने लगी।
“अहह..। मुझे बहुत अच्छा लगता है।यह सब मुझे उत्साहित करने लगा।

तब मैंने उसकी सलवार का नाड़ा धीरे-धीरे खोलना शुरू किया, और जैसे ही मैं नाड़े की गांठ के आखिरी बंद पर पहुंचा, उसने मेरा हाथ पकड़ लिया।
मुझे विरोध करने लगी। लेकिन बाद में वह मान गई क्योंकि वह भी नियंत्रण से बाहर हो गई थी।

उठकर मैंने उसकी सलवार निकाल दी।
उसने मेरे कंधे पर एक पैर रखा।

उसने मेरे सीने पर हल्की ठोकर मारी जब मैंने उसके पैर के अंगूठे को चूमना चाहा।
मैं थोड़ा पीछे हट गया।

Hot Sexy Girl Chudai Ki Kahani

मैं बाद में उसके ऊपर चढ़ गया। मैंने उसे अपनी बांहों में बाँध लिया।
वह मेरे सीने पर फिर से किस करने लगी।

मैंने उसकी आंखों को देख लिया।
उसने मेरी ओर भी देखा।

हम दोनों वासना का नशा कर रहे थे।

मैंने उसकी पैंटी निकाल दी और अपने कपड़े भी उतार दिए।
वह मेरे सामने पूरी तरह से नंगी पड़ी थी।
एक गोरा बदन जो रात के अंधेरे में भी चमकता था।

इसे देखकर मेरा नियंत्रण खो गया।

वह पहले हैरान हो गई जब मैंने उसके हाथ में अपना लंड दिया, क्योंकि वह पहले कभी ऐसा कुछ नहीं देखा था।

मैं अपने लंड की बात करूँगा. वे ढाई इंच मोटे और सामान्य से लंबे हैं, महाराज जी।

यह चेहरा देखकर वह सोचने लगी कि मेरी छोटी सी चूत में इस हथियार कैसे होगा?
मैंने पूछा कि क्या हुआ?
कुछ नहीं, उसने कहा।

फिर मैंने उसे लंड लेने का संकेत दिया, लेकिन वह मना करने लगी।
मैंने भी उससे कोई दबाव नहीं डाला।

अब मैं उसकी चूत के पास झुक गया और एक गहरी सांस लेकर उसकी गर्म महक को सूंघा।

प्रिय..। उसकी चूत भी बता दूँगा।
बिना बालों वाली, एकदम कसी हुई, हल्की पिंक रंग की चुत उसे देखकर किसी को भी चाटने की इच्छा होती है।

मैं भी उसकी चूत पर अपने होंठ रखकर उसे चाटने लगा।

अब वंदना की स्थिति बिगड़ने लगी।
वह अपनी कमर कभी ऊपर नीचे, कभी दाएं बाएं करते हुए धीमी आवाज में, “अहह… उम्म्म्म…” करती थी।

जब मैंने उसकी चूत की फांकों को खोला, तो मैंने पाया कि वे अभी भी बंद थे।

Porn Girl Xxx Chudai Ki Kahani

यानी मैं ओपन बैट्समेन था।
आज मैं अपने भाग्य को धन्यवाद देता था।

अब मैंने उसकी गांड के नीचे तकिया रखा, जिससे वह चुदाई की सही स्थिति में हो।

अब चूत खोलने का समय था।

मैंने उसकी चूत पर लंड रखकर धीरे-धीरे घिसना शुरू किया।
इससे वह और भी उत्साहित हो गई।

मैंने धीरे-धीरे लंड को चूत में डालने की कोशिश की, लेकिन वह फिसल गया। मैंने एक बार फिर कोशिश की।
पर दो-तीन बार करने पर भी काम नहीं हुआ।

अब मैंने ड्रॉवर से क्रीम निकालकर चूत पर लंड लगाया।
मैंने फिर से उसके पैरों को मेरे कंधों पर रखा और लंड को चूत पर सैट किया।

अभी वंदना ने अपनी आंखें बंद की हुई थीं।
मैंने लौड़े पर दबाव कम करना शुरू किया।

इसे भी पढ़ें   पूनम का चाँद- हिंदी चुदाई कहानी

जब लंड अंदर जा रहा था, वंदना दर्द से रोई, “आहह… आहह..।”

जैसे ही मैंने एक तीव्र झटका दिया, लंड दो इंच अंदर चला गया, और वंदना मुझे छुड़ाने के लिए धक्के देने लगी।
लेकिन मैंने उसे कसके हाथ में पकड़ा था।

मैं थोड़ी देर ऐसा ही पड़ा रहा।
मैंने फिर से धक्का लगाया, इस बार पूरा लंड पार्किंग क्षेत्र में घुस गया।

वंदना परेशान होकर रोने लगी।
मेरी पीठ को दोनों हाथों से कसके पकड़ा।

अब उसकी चूत से खून बहने लगा।
हम थोड़ी देर ऐसे ही पड़े रहे।

फिर जैसे ही सब ठीक हो गया, मैंने धीरे-धीरे धक्के लगाना शुरू किया।

वंदना को अभी भी दर्द हो रहा था, लेकिन अब उसके चेहरे पर खुशी का भाव था।

वह एक बार झड़ चुकी थी जब मैं उसकी चूत को चाट रहा था।

थोड़ी देर चुदाई के बाद, उसने मुझे अचानक कसके पकड़ लिया और कुछ सेकंड में पूरी तरह से शांत हो गई।

वह मुझे देखकर मुस्कुरा रही थी।
उसके मुँह पर संतुष्टि का भाव था।

मैंने समझा कि यह टूट गया है।

अब मेरे झड़ने का समय था, इसलिए मैंने तेजी से धक्के लगाने शुरू कर दिए।
हर एक धक्का उसकी चूत की जड़ में जाकर टकराया।

Kamukta Hot Chudai Kahani

फिर मेरे लंड से एक गहरी धार निकली और उसकी चुत में भर गई।
ऐसे ही मैं वंदना के ऊपर गिर गया।

तभी मुझे अचानक लगा कि अरे ये क्या हो गया, मैं सिर्फ चूत में पानी डाल दिया।

वंदना ने मुझे इतना परेशान देखकर बताया कि उसका पीरियड कल खत्म हुआ था और वह आज सेफ समय था।

तब मैं उसे अपनी गोदी में उठाकर बाथरूम में ले गया।
वहां, उसे शॉवर के नीचे खड़ा करके पानी डाला।

जैसे ही ठंडा पानी उसके शरीर पर पड़ा, मैं और भी कायल हो गया।

फिर उसे लगा कि वह इतनी जल्दी तैयार नहीं हो पाएगी क्योंकि वह अभी इतनी ठुकाई हुई है।
लेकिन वह फिर से तैयार हुई।

हमने बाथरूम में फिर से यौन संबंध बनाए।

मैं सिर्फ चाय देने आने वाले लड़के को अपनी यादों में महसूस कर रहा था और मैं अतीत में चला गया।

वह सिर्फ एक नवागंतुक वंदना थी।
मैं अगली बार आपके साथ सेक्स करने के बाद आपसे संपर्क करेंगे।

Hot Girl First Time Sex Story पर कृपया अपने मेल और कमेंट्स भेजें।

kamukta2321@gmail.com

Read More Sexy Kahani…

डॉक्टर अंकल ने माँ को चोदा | Sex Story Hindi Mom

सगी दीदी और भाभी को एक साथ चोदा | Hot Sister And Bhabhi Hindi Sexy Kahani

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment