मम्मी पापा को चुदाई करते देखा | Mom-Father Hot Sexy Kahani

Mom-Father Hot Sexy Kahani पढ़ें , जिसमें कहा गया है कि मैंने अपने मम्मी पापा को अक्सर चुदाई करते देखा है। वे दोनों बहुत गर्म हैं और चुदाई का बहुत शौकीन हैं। उनकी चुदाई का हाल पढ़ें।

प्रिय, मैं कुमार हूँ। मैं रायपुर से हूँ और मेरी उम्र २५ वर्ष है।

ये मेरी Mom-Father Hot Sexy Kahani है और मैंने खुद देखा है।

मॉम डैड की सेक्स वोयूर कहानी कुछ साल पहले हुई, जब हम एक छोटे घर में रहते थे और एक ही कमरे में सोते थे।
मैं उस समय सिर्फ 19 वर्ष का था।

Mom Dad Hot Xxx Kahani

हमारे पास एक कूलर और दो बेड थे जो एक दूसरे से सटे हुए थे।
मैं एक बेड पर सोता था और मम्मी-पापा दूसरे पर सोते थे।

मेरी मां घर पर रहती है, जबकि मेरे पापा काम करते हैं।
Papa बहुत रोमांटिक आदमी थे।

मैं वास्तविक घटना पर आता हूँ।

एक बार, मैं गहरी नींद में सो रहा था और अचानक चूड़ियों की हल्की आवाज से नींद खुली।
साथ ही, मैंने देखा कि माँ और पिता बहुत धीमी आवाज में कुछ हँस रहे थे।

जबकि कमरे की लाइट बंद थी, बाहर से हल्की रोशनी आ रही थी, जो सामने की हरकत को दिखा रही थी।

मैं अपनी माँ के शरीर पर हाथ फिरा रहा था।
मम्मी उनके हाथ को बार-बार हटा रही थी।

फिर पापा ने उनका हाथ पकड़कर लंड पर ले जाकर कहा, “देखो, तना हुआ है, बहुत मन कर रहा है।” मुंह में मत लो, कृपया!

मम्मी पहले मना करती रही, लेकिन फिर पिताजी की चड्डी उतारकर लंड को चूसने लगी।
फिर पिता ने लंड को कुछ देर चूसने के बाद माँ को ऊपर आने को कहा और दोनों एक दूसरे को किस करने लगे।

अब पापा ने माँ का ब्लाउज खोलना शुरू किया।
उन्हें ब्लाउज खोलकर मॉम के 36 इंच के चूचों को दबाने लगे।

फिर उन्होंने अपना पेटीकोट भी खोला, जिससे माँ पूरी तरह नंगी हो गई, जबकि पिता पहले से ही नंगे थे।
पिताजी ने उनकी टांगों को फैला दिया और गांड के नीचे तकिया लगाकर उनको बेड पर लिटा दिया।

Desi Mammi Papa Chudai Ki Kahani

उसने माँ की चूत पर हाथ फिराकर जीभ चाटने लगे।
मॉम चिल्लाने लगी।

थोड़ी देर के बाद, माँ भी पूरी तरह से खुश हो गई और पापा के सिर को अपनी चूत में दबाने लगी।

वह उठे और अपनी चूत में उंगली से चोदने लगे।
मम्मी गर्म होने लगी।

वह कसमसाती हुई अपनी चूचियों पर हाथ फिराती थी।
थोड़ी देर ऐसा करने के बाद पिता ने लंड को उनकी चूत पर टिका दिया, टांगें फैलाकर।

फिर मॉम की चूत में लंड डाला।
अब धक्कापेल सेक्स शुरू हुआ। अब पापा मजे लेकर माँ को चोदने लगे।

मुझे भी चुदने में बहुत मज़ा आ रहा था, और मैम हल्के से सिसकार रहा था: “अम्म… आह्ह… स्स्स..।” करते हुए, मॉम पापा के साथ पूरी तरह से सहयोग कर रही थी और उनसे लिपटने की कोशिश करती थी।

उन्हें इस पोजीशन में कुछ देर चोदने के बाद पिता ने पीछे से उनकी चूत में लंड डाला।
वह मॉम को घोड़ी की मुद्रा में चोदने लगे।
मम्मी की चूत फूली हुई लगी।

अब तक, मैं भी मॉम डैड के साथ सेक्स करते देखा था।
मैं अपने लंड को धीरे-धीरे दबा रहा था।

पति-पत्नी की प्रत्यक्ष चुदाई मेरे सामने हुई।
मैं अपनी मम्मी-पापा की पहली चुदाई देखने के लिए इतना उत्साहित था कि नियंत्रण खो रहा था।

फिर पिता ने उनको पीठ के बल लेटाकर उनकी टांगों को हाथों में थामकर तेजी से धक्के मारने लगे।

Kamukta Hot Sex Ki Desi Kahani

अब कमरे में पट-पट की आवाज भी होने लगी, लेकिन वे दोनों धीरे-धीरे बोलने की कोशिश कर रहे थे।

Papa का चोदना अब बहुत तेज हो गया था, और फिर वह एकदम से थम गए। शायद पिता का वीर्य उसके गुप्तांग में बह गया था। पिताजी को मम्मी ने अपने ऊपर लपेट लिया और टांगें उनके चूतड़ों पर लपेट लीं।

वह अपनी माँ के ऊपर लेटे थे और उनका लंड अभी भी चूत में था, जिसे वह पूरी तरह से पसंद कर रही थी।
फिर पांच मिनट के बाद वे अलग हो गए और माँ स्नान करने चली गई। शायद चूत को साफ करने गया था।

फिर वह वापस आई, तो पिता चले गए और कुछ देर बाद तौलिया लपेट कर आए।

पानी पीने लगे और मॉम से भी पूछने लगे।
पानी पीने के बाद वे बेड पर आराम से लेट गए।

वह अपने पिता की छाती पर सिर रखकर लेट गई, और पिता उसके चूचियों को सहलाने लगे।
उधर, मम्मी ने तौलिया के ऊपर से उनके लिंग को सहलाना शुरू कर दिया।

अब तक मैंने अपना मूत्र भी नहीं निकाला था।
फिर मैं उठ गया और सीधे बाथरूम की ओर चला गया।

दोनों अलग-अलग लेट गए।
फिर मैं वापस आ गया और सो गया।
मैंने देखा कि पिताजी का लंड फिर से तौलिया में खड़ा हो गया था और वे शायद अब मेरे सोने का इंतजार कर रहे थे।

पिताजी कुछ देर बाद उठे और बाहर चले गए।
दो मिनट बाद मॉम भी चली गई।

हमने मेहमानों के लिए सामने सोफे बनाए हुए थे।
हम उस स्थान को हॉल की तरह उपयोग करते थे।

टाइम रूम के दरवाजे को मॉम ने हल्के से ढाल दिया, लेकिन पूरा नहीं बंद किया।
मैं जानता था कि चुदाई का एक और चरण होगा।

जब वे दो मिनट तक वापस नहीं आए, तो मैं धीरे-धीरे उठा और सावधानी से बाहर झांकने लगा।

Papa मम्मी के ऊपर पड़े हुए उनके होंठ चूस रहे थे।
मॉम भी पूरी तरह से सहयोग कर रही थी।

Anatarvasna Sexy Hot Kahani

इस उम्र में भी इन दोनों को इतना प्यास लगता है, जो मुझे हैरान कर दिया।
मॉम की चूत पर पापा का हाथ नीचे से चल रहा था।

फिर वह उठकर सोफे पर मॉम की टांग चढ़ाया।
अब वे एक टांग नीचे लटकते हुए सोफे पर चढ़ गए, जिससे उनकी चूत खुल गई।

मैंने ऐसा सीन सिर्फ पोर्न फिल्मों में देखा था और आज वास्तविक जीवन में भी देख रहा हूँ।
पिताजी ने तेजी से मॉम की चूत में उंगली डाल दी।

मॉम जल्दी ही रोने लगा।
बीच-बीच में पापा जीभ से मॉम की चूत में चोदने लगे, जिससे मॉम की सिसकारी निकल गई।
फिर वह हाथ को और तेजी से चलाने लगे।

यहाँ मैं भी दरवाजे के पीछे खड़ा था और मुठ मारने लगा।
अब पापा अधिक तेज हो गया।

फिर उन्होंने तुरंत मॉम की चूत में अपना मुंह डाल लिया और उसके सिर को उसके अंदर दबाने लगी।
जब मॉम की चूत से पानी निकल गया, तो वह शांत हो गई और पापा ने पूरा पानी चाट लिया।

फिर पिता ने उनकी चूत में लंड डालकर कहा, “मेरी गर्दन में हाथों का घेरा बना लो।”
मॉम ने भी ऐसा किया।

पिताजी ने उनको पीठ से उठाकर एक टांग से उठाया।
अब माँ पापा की गोद में बैठी हुई थी और उनका लंड उसके गुप्तांग में घुसा हुआ था।

झूला झुलाते हुए पापा अपनी माँ को ऐसे ही गोद में चुदाने लगे।
दृश्य देखने लायक था।

मैंने नहीं सोचा था कि मेरे माता-पिता इतने रोमांटिक होंगे।

वह तेजी से झटके लगा रहे थे और मॉम की चूत में अपने लंड को भीतर तक चोद रहे थे।
मामी उनको उतारने के लिए कहती थी, लेकिन पापा लगातार ठोक रहे थे।

Papa ने उनको दो मिनट तक हवा में चोदने के बाद फिर से सोफे पर रखा।
मम्मी ने समझा कि पिता अब रुकने वाले नहीं थे, इसलिए खुद टांगें फैला दीं।

लेकिन उनके पिता ने उनकी चूत में नहीं बल्कि मुंह में लंड डाला।
मॉम का मुंह उन्हें चोदने लगा।

Indian Mom Dad Sex Stories

उसकी सांस फूल रही थी, लेकिन वह लंड को अपने मुंह में ले जा रही थी।
इतने सालों से लंड चूसते हुए, शायद मॉम लंड चुसाई में माहिर हो गई होगी!

Papa ने उनके मुंह को काफी देर चोदने के बाद उठाकर खुद नीचे जा लेटे।

अब मॉम ने टांग उठाकर अपनी गांड उनकी जांघों पर रखी और लंड को चूत में लिया।
जैसे पापा को चोद रही हो, मॉम ऊपर से धक्के मारने लगी।

अब माँ की मोटी चूचियां पूरी तरह उछल रही थीं।

मैं इस दृश्य को देखकर और भी उत्तेजित हो गया।
मैं अत्यधिक तेजी से मुठ मारने लगा।

दो या चार मिनट बाद, पापा उठकर मॉम को नीचे पटकते हुए उनकी चूत में अपना लंड डालने लगे। अब वे उनकी चूत में तेजी से धक्के मारने लगे।
अब मॉम धीरे-धीरे कराहने लगी।

Papa लगातार जोरदार चुदाई कर रहे थे।
मॉम भी पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी, वह लंड लेकर पापा को चूचियां पिला रही थी।
दोनों भूल गए कि मैं भी घर था।

मैं उनके साथ चुदाई करने में इतना मस्त था कि अगर मैं उनके सामने चला भी जाता तो भी वह नहीं रोकते थे।

Chudai Ki Hot Xxx Kahani

अब मुझे हर धक्के के साथ पच-पच की आवाज भी सुनाई देती थी, जिससे मेरे लंड में बिजली सी दौड़ गई।

पिताजी के लंड ने लगभग दो घंटे की चुदाई के बाद माल छोड़ दिया, जिसका संकेत मुझे यह था कि उनकी गति एकदम से रुक गई और वे वहीं मॉम के ऊपर गिर पड़े।

दोनों ऐसे ही कुछ देर पड़े रहे।

मैं भी बाहर निकल गया था।

फिर मैं भी वहां से चला गया जब वो उठकर बाथरूम में चले गए।

थोड़ी देर बाद मैंने पापा को अंदर आते देखा, तौलिया पहने हुए और बेड पर लेट गए।
थोड़ी देर बाद मॉम भी आई, और वे दोनों आराम से सो गए।

फिर मुझे भी जाग गया।

उस रात मैंने पहली बार अपने माता-पिता की चुदाई देखी।
शुरू में मुझे अजीब लगा, लेकिन फिर मैंने सोचा कि पति-पत्नी सिर्फ चुदाई करते हैं। सबको जीवन साथी चाहिए और चुदाई करना चाहते हैं।

उस दिन से मैं अक्सर उनकी चुदाई देखने की कोशिश करता हूँ।

मैंने एक बार पापा के फोन पर मम्मी की बिकनी वाली तस्वीर भी देखी।
लेकिन उन्हें हर दिन चुदाई नहीं करनी पड़ी।

वह अक्सर ऊपर वाले कमरे में जाते थे।
मैं भी जानता था कि आज चुदाई होगी।
फिर मैं भी चुपचाप उनके पीछे जाता था और उनकी चुदाई को देखता था।

मैं भी उनकी चुदाई देखकर बहुत कुछ सीखा।
वह दोनों कभी-कभी बाथरूम में झांट भी शेव करते थे।
सुबह उठकर बाथरूम में जाते समय मुझे काफी बाल दिखाई देते थे।

फिर मैं एक दिन दोपहर को बाहर आया था।
मम्मी घर नहीं थी।

मैंने सोचा कि मॉम कहां चली गई क्योंकि पापा काम पर थे।
फिर मैं ऊपर गया और देखा कि कमरा बाहर से बंद था, लेकिन खिड़की खुली थी। जब मैं सावधानी से अंदर झांका, तो मॉम अपने फोन पर पोर्न वीडियो देखते हुए अपनी चूत में उंगली चला रही थी।

Vasna Ki Xxx Mom Dad Kahani

जब फोन से पोर्न फिल्म की चुदाई की आवाज आ रही थी, मॉम खुशी से अपनी चूत में उंगली डाल रही थी।
यह देखकर मैं भी मुठ मारने लगा और जल्दी से नीचे आ गया।

अब मैं चुदाई का पूरा ज्ञान रखता हूँ।
मैं उन दोनों की चुदाई देखने की कोशिश करता था।
इसमें मुझे बहुत मजा आने लगा।

उसके बाद भी मैंने उनकी चुदाई कई बार देखा।

फिर जैसे-जैसे मैं बड़ा हुआ, उनका शारीरिक संबंध भी कम होने लगा।
मैं कभी उनकी चुदाई होती भी नहीं जानता था।

दोस्तो, मेरे माँ-बाप की चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी?
उस रात मुझे उनकी चुदाई देखने में बहुत मजा आया!

आप भी अपनी राय दें।
कविता के नीचे दिए कमेंट बॉक्स में अपनी प्रतिक्रिया देना न भूलें।

मैसेज करके मुझे और भी कामुक सेक्स कहानी बताना चाहता हूँ।

साथ ही आप मेरे साथ अपनी किसी भी Mom-Father Hot Sexy Kahani को साझा कर सकते हैं।
जो मैंने नीचे अपनी ईमेल आईडी दी है।

Read More Sexy Xxx Kahani…

शादीशुदा कजिन दीदी की गोरे बदन का दीवाना | Hot Cousin Didi Ki Xxx Chudai

पड़ोसन आंटी की फुट फेटिश सेक्स कहानी | Hot Desi Aunty Foot Fetish Sex Kahani

Related Posts

Leave a Comment