मेट्रो में मिली सिलपैक चूत। Xxx Nude Girl First Time Sex Stories

यह मुझे मेट्रो स्टेशन पर एक लड़की से Xxx Nude Girl First Time Sex Stories मिली है। मैं उससे बात करने लगा क्योंकि मुझे वह बहुत सेक्सी लगी।

प्रिय पाठक, सबसे पहले आपको नमस्कार।

यह एक सच्ची Xxx Nude Girl First Time Sex Stories है जो मेट्रो में मिली एक सेक्सी लड़की और मेरे बीच हुई है।

मैं पहले आपको अपने बारे में बताता हूँ।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

आपने मेरी पिछ्ली Xxx कहानी समुन्द्र के बिच पर लिए मजे। Hot Married Girl Sex Kahani

पढ़ी थी।

मैं रुद्र हूँ और वाराणसी का रहने वाला हूँ। मैं छह फ़ीट लंबा और सुडौल शरीर वाला लड़का हूँ।

वैसे तो मेरे लंड ने कई महिलाओं की गर्मी को शांत कर दिया है, लेकिन वह ठंड कुछ अलग है।

Hot Xxx First Time Sexy Kahani

उस समय मैं दिल्ली में एक कॉल सेंटर में काम करता था और हर सुबह मेट्रो से लक्ष्मीनगर से नोएडा जाता था।

उस दिन भी मैं मेट्रो का वेट कर रहा था।

तब एक लड़की, जिसका नाम बदला हुआ था पूनम, दिखी।

मैं आपको क्या बताऊं, उसे देखकर मेरा लंड अचानक खड़ा हो गया।

किसी का लंड भी उसकी भरी जवानी देखकर खड़ा हो जाएगा।

मैंने अपनी चील की निगाहो से एक्सरे करके देखा कि उसका साइज लगभग 34-30-36 था।

मैं सीधे उसके पास गया तो मेरा मन उससे बात करना चाहता था।

पूनम ने मुझे हैलो कहा और हाथ हिलाकर उत्तर दिया।

फिर हमने अलग-अलग विषयों पर चर्चा की। वह भी बोलने में जरा भी नही हिचकिचाई।

बाद में पता चला कि वह भी वाराणसी से है और दिल्ली में काम की तलाश में आई है।

जब मैंने उसे अपनी कंपनी में काम दिलवाने का प्रस्ताव दिया, तो वह बहुत खुश हुई और मेरे साथ जाने को तैयार हो गई।

हम मेट्रो में बैठ गए।

सुबह मेट्रो में बहुत भीड़ होती है, और मैं इसका पूरा फायदा उठाया।

उसकी गर्म सांसें मुझे गर्म करती थीं, जब मैं पूरी मेट्रो में उसकी पीठ को सहला रहा था।

हम दोनों संस्थानों के कार्यालय में कुछ ही देर में पहुंचे।

मैंने उसकी नौकरी को सैट कर दिया।

वह मेरे अंडर में नौकरी करने वाली थी।

मैंने उससे उसका फोन नंबर माँगा और हमारी बातचीत शुरू हो गई।

कुछ दिनों तक सब कुछ ठीक था।

फिर हमारी बातें धीरे-धीरे गर्म होती गईं और सेक्सी बातों में बदल गईं।

मैंने एक वीडियो कॉल में उसे अपना लंड दिखाते हुए उसे भी नंगी देखा।

लंड को देखते ही वह पागल हो गई और लंड को अपनी चूत में डालने के लिए मचल उठी।

उसे दूसरे दिन अपने कमरे में आने का निमंत्रण दिया गया, जो उसने तुरंत स्वीकार कर लिया।

दूसरे दिन शाम को मेरे कमरे में मिलने की योजना पूरी हो गई। और फिर Xxx फ्री गर्ल चुदाई कहानी आगे बढ़ने लगी।

वह एक ब्लैक कलर की ड्रेस में मेरे कमरे में दूसरे दिन शाम को आई।

भाई, मैं आपको क्या बताऊँ? उसे देखकर मुझे लगता था कि मेरे दरवाजे पर कोई देवता खड़ा है।

मैं खुद उसके लिए पानी लेने चला गया और उसे अंदर बुलाकर बैठने को कहा।

इसे भी पढ़ें   घर की बात - Ghar me chudai

फिर मैंने उसे पानी पिलाया और उससे प्यार भरी बातें करने लगा।

वह भी मेरे साथ पूरी तरह से खुली थी, इसलिए हमारे बीच सेक्स करने में बहुत देर नहीं लगी।

मैंने उसकी वनपीस ड्रेस को धीरे-धीरे उतारा और उसकी जांघ पर हाथ फेरते हुए उसकी गर्म चुत को सहलाने लगा।

वह भी मेरे लंड की फुंफकार को देख रही थी, फिर अचानक उसने मेरे लंड को पकड़ लिया।

Nonveg Girl Ki First Chudai Kahani

उसने मेरे लंड को मेरे पैंट के ऊपर से मसलना शुरू कियाऔर इसके बाद मैं भी कुछ समय तक समझ नहीं पाया।

मैंने भी देर नहीं की और उसकी गर्दन को पकड़ा, होंठों से होंठ मिला दिए।

उसके गुलाब की पंखुड़ी जैसे होंठों को चूसने में बहुत मज़ा आया।

मैंने उसके बूब्स पर हाथ रखा और उन्हें मसलना शुरू कर दिया। इससे उसकी सांसें गर्म हुईं।

मित्रों, इतने नरम बूब्स को क्या बताऊँ? किसी ने मक्खन के गोले में हाथ डाला हो।

तुरंत मैंने उसे ब्रा और पैंटी में ला दिया। संगमरमर के फर्श पर ब्रा पैंटी के निशान दिखाई दे रहे थे।

ब्रा के ऊपर से ही मैंने उसके बूब्स को चूसना शुरू कर दिया।

वह मेरे सिर को अपनी चूचियों पर दबाती हुई, “अह अम्म आह ओह उम्मम…” कहती हुए सेक्सीआवाजों में चिल्ला रही थी।

जोश में आकर मैंने भी उसकी ब्रा को फाड़ दिया जिससे उसके कबूतर बाहर निकल गए।

मैं फिर उन कबूतरों पर गिर पड़ा।

मैं उसके चुचे को पिते हुए उसके चूतड़ों को अपने दोनो हाथों से मसल रहा था।

वह सिर्फ “आह आह ओह्ह उम्म…” बोलती रही।

फिर उसने मेरे कपड़े उतारे और लंड को पकड़कर ऊपर-नीचे करने लगी।

मैं भी गर्म था।

मैंने पैंटी में उभरकर दिख रही उसकी चूत पर हाथ रखा और फिर उसकी चूत की फांकों पर हाथ फेरा।

उसकी चूत का पानी धीरे-धीरे रिस रहा था जिसकी वजह से उसकी चुत पूरी तरह से गीली हो चुकी थी।

मैं उसके पेट को चूमते हुए उसकी चूत पर मुँह ले आया।

उसने गर्म सांस लेते हुए “आह हम्म…” कहा। जैसे ही मैंने अपनी जीभ उसकी चूत पर रखा वह एकदम से सिहर गई।

उसकी चूत का स्वाद मीठा था, लेकिन मेरे लिए यह कोई नई चुत का मीठा स्वाद नहीं था। इससे पहले भी मैंने कई लड़कियों को अपने जाल में फंसा कर उनके चूत का स्वाद चख़ चूका था।

जब मैंने उसकी चूत चाटना शुरू किया, तो वह आह, ओह, आम्म, उह करते हुए लंबी सांस लेने लगी।

उसके मम्मे उस समय ऊपर से नीचे हो रहे थे।

उस भरी ठंड में हमारे शरीर पसीने से भर गया। जहां कम्बल की जरूरत थी, हम बस आग की भट्ठी का काम कर रहे थे।

मैंने पूनम से अपना लंड चूसने के लिए कहा।

वह तुरंत राज़ी हो गई और हम दोनों 69 में पहुंचे।

अपना लंड उसके मुँह में डालते ही मुझे आनन्द आया।

उसकी चूत को चाटते हुए मैं भी धीरे-धीरे चूसता रहा।

अचानक पूनम का बदन टूटने लगा और उसकी चूत में पानी छोड़ दिया।

इसे भी पढ़ें   मेरी कुंवारी भांजी और मेरी चुदाई

जैसे मुझे अमृतधारा मिली..। मैंने उसकी चूत के रस को चाटकर साफ किया।

वह मेरे लिंग को भी चूस रही थी।

Xxx Girl Ki Desi Kahani

मैंने उसे बेड पर बैठाकर एक झटके में उसके मुँह में अपना लंड डाल दिया।

वह उसके बालों को पकड़कर उसके मुँह में घपाघप झटके देने लगा, जिसे वह जोर से चूसती जा रही थी।

मेरे लंड को पूनम ने एक बार भी अपने मुँह से बाहर नहीं निकाला क्योंकि उसे सांस लेने में तकलीफ हुई।

वह एक सड़कछाप रांड की तरह मेरे लंड को अपने मुँह में गले गले तक लेती जाती थी, जबकि उसके लार का धार नीचे गिरता जा रहा था।

मेरे लंड ने लगभग पांच मिनट बाद उसके मुँह में पानी छोड़ दिया।

मेरे लंड का सारा रस उसने पी लिया।

झड़ने के बाद हम दोनों ने खाना खाया।

वह कम्बल ओढ़कर सो गई।

मैं सिर्फ उसके कम्बल में घुस गया और उसके मम्मे सहलाने लगा।

वह धीरे-धीरे गर्म होने लगी और गर्म सांसों को बाहर निकालने लगी।

मैं उसकी मम्मे और चूत को सहला रहा था।

उसकी चूत फिर से गीली हो गई और लंड को अपनी चूत में डालने के लिए बेचैन हो गई।

मैं उसके चूत में उंगली डालने लगा क्योंकि मैं उसे और अधिक तड़पाना चाहता था।

उसने चूत में उंगली डालते ही सीईओईई करने लगी।

उसकी सिसकारी सुनकर मेरा लंड भी जल गया और खड़ा हो गया।

पूनम लंड को सहलाने लगी, जिससे मेरा लंड पूरी तरह से टाइट हो गया।

मैंने उत्तेजित होकर उसके एक चूचे पर दाँत से काट दिया, जिससे वह सिसक गई और तेज से चिल्लाई।

मैं और अधिक उत्साहित हो गया और जोर से चूची चूसना शुरू कर दिया।

“आह उह उम्म अम्म आह और जोर से चूसो…” उसने कहा।

उसकी चूची पीने में मुझे बहुत मज़ा आया। उसकी सिसकारी सुनकर मेरे लंड की आग भड़क उठी।

उसकी गोरी त्वचा, जिस पर मेरे काटने से नीले दाग लगे थे, बहुत सुंदर लग रहे थे।

ठंडी हवा में गर्मी बढ़ने लगी जब मैंने दोनों के बदन से कम्बल उतारा।

मैंने पूछा: अब क्या?

अब चुदने का ख्याल है, उसने नशीली आवाज में कहा।

मैंने कहा कि अपनी चूत खोलो और मेरे लंड को उसमें डाल दो।

“मेरी चूत खुली है,” उसने कहा। राजा, उठो और फाड़ दो मेरी सीलपैक चूत!

मैंने कहा कि चाहे सीलपैक हो या फटी चूत हो लंड जानता है की कहा जाना हैं।

उसने पूछा कि क्योंकि मेरी चूत अभी तक किसी का लंड नहीं खाई है, मेरी चूत फटी कैसे हो सकती है?

मैंने कहा कि रानी की चूत सिर्फ एक लंड से नहीं फटती..। चूत की सील भी खुद फट जाती है।

उसने सोचा: कैसे?

Kamuk Girl Ki Porn Stories

मैंने कहा कि खेलने कूदने वाली लड़कियों की चूत की सील स्वयं फट जाती है। या आजकल की लड़कियां अपनी चूत में कुछ लेटी रहती हैं, जिससे उनकी सील फट जाती है।

उसने कहा कि वह कोई खेल खेलने वाली लड़की नहीं है और अभी तक अपनी चूत में उंगली भी नहीं डाली है।

इसे भी पढ़ें   भाभी ने कुंवारे लंड का सुपाड़ा खोला

रानी, मैंने कहा कि तब तुम्हें बहुत दर्द होगा।

हां, मैं जानती हूँ कि दर्द होगा, लेकिन मैं सहन कर लूंगी, उसने कहा।

मैंने पूछा कि क्या आपने किसी को दर्द करते देखा है?

“यार, मैं इतनी भी चूतिया नहीं हूँ,” उसने मुस्कुराते हुए कहा। अब मेरी चूत का रिबन कट सेरेमनी करो।

मैंने कहा, “ओके, जान, एक बार फिर लंड चूस दो ताकि चिकना हो जाए।”

ओके, उन्होंने कहा।

उसने कहा और मेरे लंड को चूसने लगी. कुछ देर बाद, वह अपने टांगों को फैलाकर चुदने के लिए तैयार हो गई।

मैंने उसकी टांगों के मध्य में आकर उसकी चूत की फांकों में अपनी जीभ फिराई और थूक लगाकर उसकी चूत को चिकना करने की कोशिश की।

फिर, जब लंड का सुपारा उसकी चूत में घिसना शुरू हुआ, वह मचलने लगी और अपनी गांड उठा कर लंड लेने की कोशिश करने लगी।

मैंने लंड का सुपारा उसकी चूत की फांकों में डाल दिया।

उसकी हल्की उन्ह की आवाज ने उसे बताया कि पहली बार चूत में लंड लेना कितना मुश्किल था।

मैं उसके चूचियों को मसलने लगा और उसके शरीर को सहलाने लगा।

फिर मैंने लंड को बल दिया और उसके होंठों पर अपने होंठ जमाए।

वह मचलने लगी जब मेरा 5 इंच का लंड उसके चूत में घुस गया।

उसके हाथ बंधे हुए थे।

मैंने लंड को आधा इंच निकालकर ठाप मार दी।

उसकी चूत की सील मेरे लंड की गर्मी से फ़ट गई और वह एक बार में बेहोश हो गई।

मैंने ध्यान न देते हुए अपना लंड उसकी चूत की जड़ तक डाल दिया।

एक गर्म धार ने मुझे रोका, और मैंने देखा कि लाल खून क्रान्ति लिखने लगा था।

मैं रुककर उसे चूमने लगा।

Xxx Nude Girl Ki Chudai Kahani

वह कुछ समय बाद उठकर कराहने लगी।

प्रिय, वह दर्द से एक मिनट में छुटकारा पाई होगी।

ये कहानी भी पढ़े – साले की बीवी और बेटी को चोदा। Hindi Free Sex Kahaniya

मेरे लंड की दुरंतो एक्सप्रेस ने उसके बाद अपना जलवा दिखाना शुरू किया।

Xxx फ्री गर्ल चुदाई से पूनम की चूत फट गई और मैं अपने लंड को उसकी चूत में ही छोड़ दिया।

उस दिन मैंने पूनम को सारी रात पेला और सुबह चार बजे तक चार बार चुदाई की।

दोस्तो, कृपया कमेंट सेक्शन में मुझे बताएं कि आपको मेरी ये सच्ची Xxx Nude Girl First Time Sex Stories कैसी लगी।

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment