साले की बीवी और बेटी को चोदा। Hindi Free Sex Kahaniya

Hindi Free Sex Kahaniya। मेरे साले की शादी में था। मौका मिलते ही मेरी इच्छा पूरी हो गई। अब वह मेरी दीवानी है। इसके बाद..।

मेरी शादी लगभग ४० वर्ष पहले हुई थी, जब मैं २३ वर्ष का था और मेरी पत्नी १٩ वर्ष की। मेरी पत्नी सुधा का 13 साल का भाई था।

उसका नाम कमल था।

आपने मेरी पिछली कहानी बीवी की बड़ी बहन को चोदा। XXXX Sali Ki Hindi Chudai Kahani

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

पढ़ी थी।

कमल ने मेरी शादी के 15 साल बाद शादी की। उसकी पत्नी नीलम की उम्र सिर्फ दो दशक की थी। मुझसे लगभग आधी उम्र की नीलम मुझसे 18 साल छोटी थी। मेरा दिल कमसिन नीलम पर आ गया।

Xxx Hot Hindi Sex Stories

कमल की शादी के लगभग पंद्रह दिन बाद, कमल के ससुर ने फोन किया और कहा कि कमल और नीलम का शिरडी जाने का कार्यक्रम बन रहा है और आप और सुधा भी दर्शन करने के लिए आ जाएंगे। दो आँखें, अन्धा क्या चाहे।

थोड़ी देर के बाद मैंने हाँ कर दी और कमल से बात करके आठ दिन की पूरी योजना बनाई।

टूर का पांचवां दिन था और मैं, सुधा और कमल घूमने निकल पड़े क्योंकि नीलम पैर में एक छोटी सी चोट के कारण हमारे साथ घूमने के लिए तैयार नहीं थी।

दो घंटे बाद मैं भी होटल लौट आया। कमल और सुधा के वापस होटल पहुंचने तक मैंने उसे चोद दिया। उसने कमल या सुधा को इस बात का पता नहीं लगाया।

अगले दिन रात का खाना खाने से पहले मैंने कमल और सुधा को कोल्ड ड्रिंक में व्हिस्की मिलाकर पिला दी, जिससे वे सो गए।

उस रात मैंने नीलम को दो बार चोदा, वह मेरी दीवानी हो गई। मैं अपने ससुराल अक्सर जाता था और जब भी मौका मिलता, नीलम को चोदता और उसके लण्ड का ताव उतारता था।

यह प्रक्रिया निरंतर जारी है। बाद में नीलम ने हनी नामक एक बेटी को जन्म दिया। कमल मानता है कि हनी उसकी बेटी है, लेकिन नीलम कहती है कि वह मेरी बेटी है।

हनी अब 18 साल की हो गई है और बी.कॉम कर रही हैं।

पिछले हफ्ते मैं ससुराल गया तो हनी को देखकर मुंह में पानी आ गया। 18 वर्ष की छोटी हनी आलिया भट्ट की नकल करती दिख रही थी। यद्यपि हनी मुझसे 45 साल छोटी थी, फिर भी मैं उसे चोदने के लिए बावला हो गया और विभिन्न उपायों पर विचार करने लगा।

मेरा लण्ड टनटना जाता जब मैं हनी को चोदने की सोचता। मैंने सुबह और शाम शिलाजीत के दो कैपसूल खाने शुरू कर दिए ताकि मेरा लण्ड कच्ची कली की चुदाई में कमजोर न हो जाए।

नीलम एक दिन कमरे में आ गई और मैं हनी को चोदने की तैयारी कर रहा था। नीलम को बार-बार चोदने के बावजूद आज वह बला की सुंदर लग रही थी। वह मुझसे लिपटकर कहा, “हनी कोचिंग गई है, तब तक हम मजा कर सकते हैं।”

Anatarvasna Sex Kahani In Hindi

मैंने नीलम के होठों पर अपने होंठ रखते हुए उसके चूत पर हाथ रखा। थोड़ी देर तक नीलम की चूत सहलाने के बाद, मैंने नीलम की लाल सिल्क की सलवार उतार दी और उसकी हल्की गीली पैन्टी को नीचे खिसकाकर दायें हाथ का अंगूठा उसकी चूत में डाल दिया।

नीलम मुझसे लिपटते हुए चूत में अंगूठा डाल दी। मेरे कहने पर नीलम ने ब्रा और कुर्ता उतारी। मैंने नीलम की चूची अपने मुंह में डाली। नीलम ने मेरी पीठ सहलाते हुए पहले मेरी टी शर्ट उतारी, फिर मेरी लोअर उतारी।

इसे भी पढ़ें   मेरी देसी चूत को मिला सामूहिक चुदाई का सुख

हम दोनों अब पूरी तरह नंगे थे। नीलम मेरे लण्ड को अपनी मुठ्ठी में दबाए हुए थी, जब मैं अपना अंगूठा उसकी चूत में डाल रहा था।

हम दोनों पूरी तरह उत्तेजित थे और ड्रेसिंग टेबल के पास खड़े खड़े फोरप्ले करते हुए बेड पर आ गए।

हम एक दूसरे से लिपटे हुए चूमाचाटी कर रहे थे, और मैं 69 की मुद्रा में आकर नीलम की चूत पर जीभ फेरने लगा। नीलम भी मेरे लण्ड का सुपारा चाटने लगी।

मैं उठकर नीलम को चोदने के लिए पीठ के बल लिटा दिया, जब लण्ड मूसल की तरह कड़क हो गया। मैं नीलम की टांगों के बीच आकर घुटनों से टांगों को मोड़ा।

मैंने नीलम की कमर को पकड़कर उसके चूत के लबों को खोला।

डोरबेल बजी, जब मेरा लण्ड ठोकर मारकर नीलम की चूत में जाने को तैयार था।

मैंने पूछा: कबाब में हड्डी, कौन आया?

नीलम एक झटके में उठी और कहा, “ये हनी है, उसी की घंटी की यह शैली है।”

नीलम ने कपड़े पहने और दरवाजा खोलने के लिए भागी। मैं लोअर और टी शर्ट लेकर बाथरूम में गया। जब मैं कपड़े पहनकर बाहर निकला, तो हनी भी आ चुकी थी। मेरे साथ KLD (खड़े लण्ड पर धोखा) हुआ था।

हम तीनों ने भोजन किया।

मैंने नीलम से कहा, “आओ यार, अधूरा काम निपटा दो,” जब हनी अपने कमरे में चली गई।

नीलम ने सिर हिलाकर मना करते हुए कहा, “नहीं, हनी घर में है, और वैसे भी मुझे डेन्टिस्ट के यहां जाना होगा, समय हो रहा है।”

मैं अपने कमरे में आ गया जब नीलम डेंटिस्ट के यहां चली गई। मैं कमरे में आते ही हनी की ओर चला गया।

Hot Kamukta Sex Kahani

हनी का कमरा पहले मंजिल पर था। जब मैं ऊपर पहुंचा, हनी के कमरे का दरवाजा बंद था। कमरे के अंदर से आ रही आवाज सुनकर मैं रुका। मैंने ध्यान से सुना तो हनी ब्लू फिल्म देख रही थी। मैंने दरवाजा नॉक करते ही खोल दिया।

हनी सकपका गई और मैं अचानक कमरे में आया देखकर हनी ने लैपटॉप बंद करना चाहा। हनी हड़बड़ाहट में मैं सीधे सीधे बटनों पर हाथ मारने लगी, जिससे लैपटॉप बंद नहीं हो सका।

मैंने हनी की बांह पकड़कर उसे कुर्सी से खड़ा करते हुए पूछा: क्या देख रहे हो?

हनी चुपचाप खड़ी रही, आँखें नीचे करके। यह सब कब से देख रहे हो?

हनी चुप रही।

हनी, बताओ कब से देख रहे हो?

इस बार, हनी ने धीरे-धीरे कहा, 15 से 20 दिन। शगुन नामक मेरी क्लास की एक लड़की मोबाइल पर दिखाती है। उसी ने दिया है।

आप सिर्फ देखते हैं या कुछ करते हैं? वह शगुन के घर में अपने चाचा के साथ रहती है।

तुम? ऊंगली से करती हूँ।

वह अपने चाचा के घर रहती है और उसके साथ रहती है। तुम्हारे घर में भी फूफा रहता है, तो उंगली से क्यों करते हो? बेड पर आओ।

मैंने इतना कहकर हनी का हाथ पकड़ा और उसे बेड पर ले गया। उसने पूरी तरह से नंगी होकर हनी का स्कर्ट, ब्लाउज, ब्रा और पैन्टी सोफे पर फेंक दिया।

हनी डर से कांप रही थी। मैं उसे शांत करने की कोशिश कर रहा था, उसके बदन पर हाथ फेरकर, उसे चूमकर, उसे सहलाकर। मैं टनटना रहा था। मैं हनी के होंठ चूसने लगा, हाथ उसके लण्ड पर रखकर।

इसे भी पढ़ें   पास होने के लिए टीचर के लंड की प्यास बुझाई

कुछ देर बाद मैंने हनी से पूछा: क्या लगता है? क्या आपको डर नहीं लग रहा?

मैंने हनी को गुमसुम होकर कहा, “चलो, कोई बात नहीं”। आज हम कुछ नहीं करेंगे; बस अपने कपड़े पहन लो।

मैंने हनी का हाथ पकड़कर कहा, “कुछ नहीं करते, बस एक बार मेरा लण्ड चूस लो”, जब वह चुपचाप उठकर कपड़े पहनने के लिए सोफे के पास चली गई।

यह कहते हुए मैंने अपना लोअर नीचे खिसकाकर हनी के मुंह में अपना लण्ड डाल दिया।

जब हनी धीरे-धीरे मेरा लंड चूसने लगी, मैंने उसकी चूचियों को सहलाना शुरू किया। थोड़ी देर में, मैंने देखा कि हनी ठीक होने लगी। मैंने हनी की चूत पर हाथ रखा। नर्म बालों से ढकी हनी की चूत सहलाते हुए मेरा लण्ड थप्पड़ मारने लगा।

मैंने हनी से कहा, “तुमने मेरा लंड चूस ली, मैं भी तुम्हारी चूत चाट दूँगा।

मैंने इतना कहा और हनी की चूत पर जीभ फेरना शुरू कर दिया। हम दोनों कुछ समय तक उसी जगह पर रहे।

मैं अब अपनी मंजिल से सिर्फ एक कदम दूर था। मैंने अपना अगला पत्ता फेंकते हुए कहा, “हनी, जब इतना कर लिया है तो एक बार लण्ड की चूत से चुम्मी भी करा दें, तुम आराम से लेटी रहो।”

Desi Indian Sex Stories

मैंने हनी की ड्रेसिंग टेबल से कोल्ड क्रीम की शीशी निकालकर उसके चूत पर क्रीम लगाया, फिर अपने लण्ड के सुपारे पर और टांगों के बीच लगाया।

मुझे पता था कि दुबली से दुबली लड़की भी पूरा लण्ड सह सकती है, लेकिन हनी अपनी मां नीलम के कठोर शरीर के मुकाबले बहुत सुंदर थी। हनी की टांगें कंधे पर रख कर, जब मैं हनी को अपनी ओर खींचा तो उसके चूतड़ बिस्तर से ऊंचे हो गए। जब मैंने हनी की चूत पर अपना लण्ड रगड़ना शुरू किया, तो हनी रोने लगी। उसकी आँखों में चुदाई की लालसा देखकर मैंने अपना लोअर उतारकर तकिये पर बिछा दिया और उसके चूतड़ों के नीचे तकिया रखा।

मैंने हनी की दोनों टांगें फैलाकर उसकी चूत को खोलकर अपना लिंग सही जगह पर रखा और आगे झुककर हनी के होंठों पर अपने होंठ डाले। मैंने हनी के होंठ चूसते हुए अपने लिंग का दबाव बढ़ाया, जिससे मेरे लिंग का सुपारा हनी की चूत में घुस गया।

मैंने हनी के होंठों को बंद कर दिया, वह चिल्लाना चाहती थी। मैंने धीरे-धीरे दबाव बढ़ाकर हनी की चूत में आधा लण्ड डाल दिया। मैंने हनी के होंठ छोड़े, सीधे होकर उसकी कमर पकड़ ली और आधा लण्ड बाहर निकलना शुरू किया जब वह भीतर नहीं जा रहा था।

कुछ देर बाद, एक बार फिर अपना लण्ड बाहर निकालकर, ऊंगली में और हनी की चूत के अंदर क्रीम लगाई। डबल रोटी की तरह फूली हुई गुलाबी चूत के चिथड़े उड़ने लगे।

लण्ड का सुपारा चूत के मुंह पर रखकर धक्का मारा, तो टप्प की आवाज आई, और आधा लण्ड दबाव देते ही अन्दर चला गया। मैंने हनी की कमर पकड़कर लण्ड को अन्दर बाहर करते हुए जोर से धक्का मारा, तो पूरा लण्ड हनी की चूत में घुस गया।

हनी इतनी जोर से चिल्लाई कि मैं भी एक बार डर गया, लेकिन अब मुझे छोड़ने का कोई मतलब नहीं था।

मैंने हनी के आंसू पोंछते हुए कहा, “बस हो गया, जो होना था।” जब सील टूट जाती है, दर्द होता है, लेकिन फिर मज़ा आता है। अब इसे लेकर मज़ा करो।

इसे भी पढ़ें   काकी ने मुझे चोदना सिखाया

मैंने इतना कहकर हनी को धीरे-धीरे चोदना शुरू किया। हनी की सील टूट गई, जिससे मेरा लण्ड खून से सना हुआ था। यही गनीमत थी कि हनी अब शांत और प्रसन्न हो रही थी।

मैं हनी को चोदते हुए उसके निप्पलों से खेलता रहा। दो ही विकल्प थे जब डिस्चार्ज का समय आया। या तो डिस्चार्ज बाहर करूँ और हनी को गर्भनिरोधक गोली लाकर खिलाऊँ।

दूसरा विकल्प मुझे पसंद आया। मैं धकाधक ठोंकने लगा, हनी की टांगें कंधों पर रखकर। लण्ड और कड़क होता जैसे ठोकर मारता। डिस्चार्ज के समय के साथ हनी भी पूरी तरह उत्साहित हो गई और चूतड़ उछालकर कहा, “मारो फूफा जी, जोर से मारो।” मारते रहो, फूफा जी। और अधिक जोर से।

ये कहानी भी पढ़े –मामी की बहन ने मुझे और मामी को सेक्स करते हुए देखा | Girl fuck story

डिस्चार्ज के दौरान लण्ड का सुपारा फूलकर मोटा हो गया और बहुत फंसकर अंदर बाहर हो रहा था, हनी को फिर से दुःख हुआ और कहा, “बस करो फूफा जी, अब बस करो।” फूफा जी, आपकी हनी मर गई।

लण्ड से फव्वारा छूटते ही मैंने लंड को और तेज कर दिया। जब मैं पूरी तरह से डिस्चार्ज हो गया, मैं हनी के ऊपर लेट गया।

शिलाजीत की वजह से लण्ड अभी भी चूत में था। मैं हनी के ऊपर लेटे लेटे सोच रहा था कि मैं 63 साल का आदमी हूँ और ये 18 साल की कमसिनता। मैं 110 किलो वजन था और हनी लगभग 50 किलो की होगी। लेकिन हनी ने अपने पूरे साहस और साहस से चुदवाया था।

Hot Porn Story In Hindi

थोड़ी देर तक हनी के ऊपर लेटे रहने के बाद मैं उठकर हनी की कमर पकड़कर धीरे-धीरे अपना लण्ड बाहर निकालना शुरू किया। लण्ड बाहर करते हुए फिर से अकड़ने लगा, तो मैंने हनी की चूचियों को चूसना शुरू कर दिया।

मैं लण्ड को अंदर बाहर करते हुए चूचियों को भी चूस रहा था। मैं फिर से चोदने के लिए तैयार हो गया, न जाने कहाँ से।

अब मैंने हनी को घोड़ी बनाकर उसके पीछे आकर उसकी चूत में अपना लण्ड डाला। मैंने लण्ड में जाते ही हनी को चोदना शुरू कर दिया। हनी भी मुझे ठोकर मारती है। दो बार धक्का मुक्की करने के बाद, मैं एक बार फिर मेरे लण्ड से पिचकारी छूटी, जिससे हनी की चूत भर गई।

नीलम के डेंटिस्ट के यहां से लौटने तक हम दोनों फ्रेश होकर अपने बेडरूम में पहुंच गए। अब हनी पिज्जा और नीलम पराँठा मेरे लिए हैं। जब मौका मिलता है, मैं हाथ साफ कर लेता हूँ।

अगर आपको ये Hindi Free Sex Kahaniya पसंद आयी हो तो हमें मेल करना न भूले। हम आपके लिए ऐसी ही शानदार कहानिया लेकर आते रहेंगे।

freesexkahaniya@yahoo.com

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment