सग्गी मामी की ज़ोरदार चुदाई करी | Hot Mami Xxx Kahani

Hot Mami Xxx Kahani, मेरे पास मेरी मामी की चुदाई कहानी है। मैं उनसे मिलने गया और हमने निजी बातों के बारे में बात की। मैंने उसे सहज महसूस कराया और हमने कुछ अंतरंग किया।

नमस्ते! मेरा नाम अरशद है और मैं 22 साल का छात्र हूं और बी कॉम फाइनल की पढ़ाई कर रहा हूं। मेरा रंग गोरा है और मेरा गुप्तांग साढ़े पांच इंच लंबा और चार इंच मोटा है। मैं उत्तर प्रदेश के पश्चिमी भाग में मुजफ्फरनगर नामक स्थान के एक छोटे से गाँव में रहता हूँ। मैंने 2018 में अपनी मौसी के साथ सेक्स के बारे में एक कहानी लिखी थी।

मेरी मामी का नाम उज़्मा है। वह 32 साल की है और उसके शरीर का माप 36-30-34 है। मामी एक मां हैं और उनके तीन बच्चे हैं। उसके एक बेटा और दो बेटियां हैं। गुलशन उजमा मामी की भतीजी हैं और वह उनके साथ रहती हैं। गुलशन की उम्र 20 साल है और वह कॉलेज में पढ़ रही है। उसकी मां कौसर मुश्किल में है और फिलहाल जेल में है। मेरी मामी का भाई 35 साल का है।

उसकी दिल्ली में नौकरी है। मैं शाम 7 बजे अपनी मामी के भाई के घर गया। यह वास्तव में मेरे घर के करीब है – केवल 10 मिनट की दूरी पर! मेरी मामी ने मुझे पानी दिया और कहा कि फ्रिज ने काम करना बंद कर दिया है, इसलिए पानी ठंडा नहीं है। मैंने अपनी मामी से पूछा कि फ्रिज का क्या हुआ और कहा कि अगर यह कोई बड़ी समस्या नहीं है तो मैं इसे ठीक करने की कोशिश कर सकती हूं। मैंने देखा कि फ्रिज के प्लग में कुछ गड़बड़ है। जली हुई लग रही थी!

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

Hot Mami Free Sex Story

इसलिए, मैं फ्रिज के पास रुका रहा और प्लग को ठीक किया। उज़्मा मामी मेरे पीछे खड़ी थीं और मुझे देख रही थीं कि मैं फ्रिज ठीक कर रहा हूँ। मैंने अपनी मामी से पूछा कि गुलशन कहाँ है, और उन्होंने मुझे बताया कि गुलशन अपनी दोस्त की बर्थडे पार्टी में गई थी। उसके बाद मैं कुछ नहीं बोला। उज़्मा मामी ने मुझसे पूछा कि हाल के दिनों में गुलशन को इतना अटेंशन क्यों मिल रहा है। मैंने उससे कहा कि कुछ भी गलत नहीं है, मैं बस जिज्ञासावश पूछ रहा था।

उज़्मा मामी समझ गई और बोली ठीक है। मैंने अपनी कोहनी पर उज़्मा मामी की गर्म चमड़ी महसूस की। उसने ब्रा नाम की कोई चीज नहीं पहनी थी।

सग्गी मामी की ज़ोरदार चुदाई करी | Hot Mami Xxx Kahani

तो मैंने अपनी कुहनी पीछे की और उसके निप्पल पर दबाते हुए कहा, “अरे मामी , रेफ़्रिजरेटर ठीक हो गया है।” फिर मैं एक तरफ चला गया और अपनी मामी को फ्रिज के प्लग को बिजली के बोर्ड से जोड़ने और उसे चालू करने के लिए अपने विशेष हाथों का उपयोग करने के लिए कहा। मामी उज़मा फ्रिज के सामने थीं और मैं उनके पीछे खड़ा था। उज़्मा मामी ने मैकेनिक से पूछा कि उसे कितने पैसे मिले। मैंने कहा कि अपनों से पैसा नहीं लेना चाहिए।

लोगों ने हमें जो दिया है वह काफी है। मैंने उज़्मा से कहा कि मैं अब चलता हूँ। उजमा मामी कह रही हैं कि हमें खाना खाकर कहीं जाना चाहिए। वह अभी योजना बना रही है। मैंने कहा ठीक है और उसके साथ जाने को तैयार हो गया। जब उज़मा मामी खाना बना रही थीं तो उन्होंने मुझसे मेरी बीवी के बारे में पूछा. मैंने उससे कहा कि मेरी बीवी शायद किसी के लिए खाना बना रही है. मामी के बच्चों की क्लास खत्म होने के बाद रात 8:30 बजे हम सबने साथ में डिनर किया।

इसे भी पढ़ें   मम्मी अपनी लाल पेंटी मेरे सामने उतारने लगी

Mami Ki Chudai Kahani

उज़मा मामी कह रही हैं कि तुम आज इसी जगह सो जाना और फिर घर फोन करके उन्हें बताना। मेरी मामी और उनके बच्चे बिस्तर पर टीवी देख रहे थे। मेरी मामी ने चौड़ी पैंट के साथ एक सुंदर सफेद पोशाक पहनी हुई थी। उज़मा मामी के तीनों बच्चे टीवी देखते-देखते सचमुच थक गए और सो गए। उज्मा मम्मी ने अपने हाथों को इस तरह ऊपर उठाया जैसे वह कुछ पकड़ रही हो और अपने सीने की ओर इशारा किया। उसने पूछा कि क्या आप दूध पीना चाहते हैं।

उज़्मा मामी के गोल बदन को देखते हुए मैंने तरह-तरह के दूध का मज़ाक बनाया। उज़मा मामी ने परेशान होकर मुझे बेशर्म कहते हुए मेरे गाल पर एक थप्पड़ जड़ दिया. वह उठ खड़ी हुई और जाने लगी। उज़्मा मामी – रुको, मैं गरम दूध लाती हूँ। मामी किचन से दौड़ती हुई आईं और बोलीं कि बारिश होने वाली है

और हमारे कपड़े बाहर सूखने के लिए लटके हुए हैं। फिर मैं और मेरी मामी अपने कपड़े बदलने के लिए ऊपर चले गए। जब मैं अपने कपड़े उतार रहा था तो मेरी मामी की ब्रा गलती से मेरे हाथ से लग गई। मैंने गलती से दूध गिरा दिया क्योंकि मेरे हाथ में दूध था।

मामी ने देखा कि क्या हुआ और उन्होंने मेरी तरफ देखा। जब मैंने अपनी चाची को बारिश में भीगते देखा तो मैंने सबसे कहा कि जल्दी से कपड़े कमरे के अंदर ले आओ। हमने सारे कपड़े ऊपर वाले कमरे में बड़े डिब्बे में रख दिए।

सग्गी मामी की ज़ोरदार चुदाई करी | Hot Mami Xxx Kahani

कमरे में बहुत सी ऐसी चीजें थीं जिनकी हमें जरूरत नहीं थी। सचमुच बहुत तेज बारिश हो रही थी। मैंने अपनी मामी से कहा कि जब तक बारिश बंद नहीं हो जाती तब तक हमें कमरे के अंदर ही रहना चाहिए नहीं तो कमरे का सामान भीग जाएगा। कमरे में बहुत भीड़ थी, खड़े होने की भी जगह नहीं थी। संदूक कमरे में दरवाजे के सामने रखा हुआ था।

Desi Mami Sex Story

मैं अपनी मामी के पीछे खड़े होकर उन्हें जोर से गले लगा रहा था, और मौसम सर्द था लेकिन मेरी मामी की गर्माहट मुझे अपने निजी अंगों में अजीब महसूस करा रही थी। मैं पीछे से मामी को गले लगा रहा था, और बारिश मुझे बहुत भीग रही थी।

मैंने मामी के पेट और पेट पर धक्का मारा और आगे बढ़ते हुए हाथ पीछे ले जाकर गेट बंद कर दिया. बल के कारण हम दोनों को कुछ महसूस हुआ। मैं और उज़मा मामी एक साथ फंस गए थे, और ऐसा लग रहा था कि किसी ने हमें अलग रखने के लिए हमारे बीच कपड़े डाल दिए हों। मामी वास्तव में इस बात पर ध्यान केंद्रित कर रही थीं कि मेरा शरीर कितना गर्म महसूस कर रहा है। वो ये भी देख रही थी

कि मेरा लंड अकड़ रहा है. उसने अपने शरीर को हिलाया और मेरे निजी अंग को छुआ। उसी वक्त मैंने उजमा मामी को उनके कान के पास एक किस दिया, जिससे उनकी आवाज निकली। मामी ने मेरी कही हुई बातों को सुना और मान गई कि ऐसा होने जा रहा है। मैंने अपनी पैंट की ज़िप खोलने के लिए अपने शरीर को थोड़ा झुका लिया।

उसकी वजह से मामी गलती से अपने बॉटम से मुझसे टकरा गईं। मैंने मुश्किल से अपने दाहिने हाथ से अपनी पैंट की ज़िप खोली। मामी ने जो चौड़ी पैंट पहनी हुई थी वो बहुत ढीली थी। मैंने अपने पैर का इस्तेमाल अपनी मामी के कपड़ों के टुकड़े को उठाने और उनके घुटने पर रखने के लिए किया। फिर मैंने उसके कपड़े का एक और टुकड़ा उठाया और उसकी कमर तक ले आया।

इसे भी पढ़ें   दीदी की फ्रेश चूत के लिए बम्बू बना मेरा लंड 2

मामी ने अंडरवियर नहीं पहना हुआ था और उजमा मामी हल्की-हल्की आवाज कर रही थीं। मैंने अपने हाथ पर कुछ थूक लगाया और फिर अपना हाथ अपने प्राइवेट पार्ट पर रख दिया। किसी के तलवे के अंदर कुछ डालने की कोशिश करने में समस्या थी। मामी धीरे-धीरे झुकती रहीं और मैं पीछे से थोड़ा-थोड़ा करके चीज अंदर डालता रहा। मेरा वास्तव में एक मजेदार सपना था जहां मेरी ढोंगी मामी घोड़े में बदल गईं और मैं उनकी पीठ पर सवार हो गया।

Mami Sex Stories In Hindi

इसने मुझे खुश कर दिया! जब मैंने बहुत ताकत से मामी को धक्का दिया तो उनकी स्कर्ट से दिक्कत होने लगी. इसलिए मैंने वह करना बंद कर दिया जो मैं उज़्मा मामी के साथ कर रही थी। और गलती से मेरी उंगलियां मेरी मामी की पैंट के कमर में फंस गईं। मैं बड़े कूल्हों वाली एक मामी के ठीक पीछे आ गया। कमरे में एक लाइट बल्ब था. जब मामी उठ खड़ी हुईं, तो उन्होंने फर्श पर पड़ी कुछ पैंट उठानी चाहीं। मैंने उज़्मा मामी के होठों पर अपने होंठ रख कर उन्हें किस किया. मेरे होंठ वास्तव में प्यासे थे, मेरे लंड से भी ज्यादा। हम करीब और स्नेही होना चाहते थे, लेकिन हमारे लिए ऐसा करने के लिए कमरे में पर्याप्त जगह नहीं थी।

मैंने थोड़ी देर के लिए मामी को एक बड़ा चुंबन दिया, और फिर मैंने उनकी कमीज़ उतारने में उनकी मदद की। मामी ने अपनी कमीज फटने की आवाज सुनी तो खुद ही उतार दी। उज़मा मामी और मैं बिना कपड़ों के पैदा हुए थे, इसलिए हमारे पास कोई कपड़े नहीं थे। मैंने अपनी मामीको सामने से गले लगाया और उनके होठों पर किस किया. उज्मा मामी ने यह दिखाने के लिए मेरे कंधे पर हाथ रखा कि उन्हें लोगों का एक-दूसरे को चूमना या छूना पसंद नहीं है.

सग्गी मामी की ज़ोरदार चुदाई करी | Hot Mami Xxx Kahani

मैं बैठ गया और मामी के प्यारे से चेहरे को चूम लिया। फिर, मैंने अपनी जीभ उज़्मा मामी के पेट पर घुमानी शुरू कर दी। उसके पेट से पानी निकल रहा था। मैं अपनी जीभ से मामी के चुत पर कुछ कर रहा था, जबकि मामी पास खड़ी अपनी उंगलियों से उसे छू रही थी. उज़मा मामी ने उस तिहरे प्रहार से आह भरी।

इतने में उज्मा मामी की धीमी आवाज सुनाई दी – ओह… अब और नहीं सहा जाता… जल्दी कुछ करो! घंटी बजी, और मामी कपड़े पहन कर तेजी से नीचे चली गईं। बारिश रुक चुकी थी और शायद गुलशन बर्थडे पार्टी से वापस आ गया था। मामी सीढ़ियों से नीचे उतरीं और गेट खोला। तो उसने गुलशन को ठीक उसके सामने खड़ा देखा।

वह थकी हुई है और सोना चाहती है। मैं ऊपर गया और फिर नीचे आया। उजमा मामी रसोई में गरम दूध बना रही थी और गुलशन अपने कमरे में सो रहा था। मैं मामी के पीछे आ गया और उन्हें चौंका दिया। मैं उसके बगल में खड़ा हो गया और उसके दोनों स्तनों को अपने हाथों से पकड़ लिया, जिससे वे गीले हो गए। उजमा मामी कुछ उदास महसूस कर रही थी और उजमा मामी से धीरे से कहा कि गुलशन के सो जाने के बाद वे अपने कमरे में कुछ करेंगे।

Saggi Mami Ki Chudai Kahani

हालांकि, उजमा मामी नहीं मानी और इसके बजाय, अपनी मामी को रसोई में फर्श पर लिटा दिया, जबकि उसने गैस बंद कर दी थी। मैं एक बड़ी स्लाइड से नीचे गया और एक मामी के चुत को चूमने लगा. फिर मैंने उसके ऊपर लेटते हुए अपना लंड उसके चुत के पास रखते हुए एक बड़ा सा धक्का दिया। मामी ने जोर से शोर मचाया और फिर मेरा लंड मामी के चुत के अंदर चला गया.

इसे भी पढ़ें   पहली बार भाई बहन की चुदाई होली में

मामी ने अपना मुंह खुला रखा। मुझे डर था कि कहीं उज़मा मामी चिल्ला न दें, इसलिए मैंने अपने हाथ से उनका मुँह ढँक दिया और उन्हें धीरे से धक्का दिया। मम्मी कुछ असहज महसूस कर रही थीं, लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता गया, उन्हें वाकई अच्छा लगने लगा। उजमा मामी खिलौने के साथ मस्ती करने लगीं और खुशनुमा आवाजें निकालने लगीं। मैं और तेज चलने लगा। हमने रसोई में एक अजीब आवाज सुनी जो “फुच फुच” जैसी है।

सग्गी मामी की ज़ोरदार चुदाई करी | Hot Mami Xxx Kahani

हमें चुदाई करने में मज़ा आ रहा था, लेकिन हम यह भूल गए कि गुलशन अभी भी जाग रहा था और अभी तक सोया नहीं था। जब हम खेल रहे थे, उज़्मा मामी गिर पड़ीं और मैं भी लगभग गिर ही गया। हमें गिरने से बचाने के लिए मैंने उज़्मा मामी के बदन पर हल्के-हल्के थपेड़े मारे, जिससे गलती से मेरा लंड उनके चुत में चला गया। उजमा मामी ने कोमल स्वर में मुझसे फुसफुसाया- क्या बात है हीरो? आप विचलित लगते हैं

मैंने पूछा कि उज़्मा मामी इतनी आसानी से कैसे मान गई, और मामी समझाया कि उसे मामी के बजाय उसे उज़मा कहना चाहिए। उज़्मा – इस छेद में कुछ बहुत ही महत्वपूर्ण बात है जिसके बारे में कोई और नहीं जानता। बच्चा – कुछ बहुत, बहुत जरूरी? उज़्मा मामी का एक राज़ है जिसे वह हमसे साझा नहीं करना चाहतीं।

Xxx Mami Chudai Kahani

जब हमने मामी से इस बारे में पूछा तो वह कहती है कि यह टॉप सीक्रेट है। मैं- ठीक है। उज़्मा- इस महत्वपूर्ण रहस्य को किसी को न बताएं, नहीं तो यह हमारे परिवार और दोस्तों में बहुत सारी समस्याएं और भावनाओं को ठेस पहुँचा सकता है। उज़्मा-गुलशन एक ऐसा व्यक्ति है

जो अपनी उपस्थिति के आधार पर आमतौर पर लोगों की अपेक्षा से अलग महसूस करता है और पहचानता है। कौसर बाजी और उसकी बहन का पति गुलशन के बारे में बहस करता था, जिससे कौसर बाजी ने उसे मार डाला। बहन का पति गुलशन को नुकसान पहुँचाना चाहता था, इसलिए गुलशन बाजी ने उसे मारकर अपना बचाव किया। उजमा- अरे… मैं झूठ क्यों बोलूंगी? अब मैं सब कुछ और अधिक स्पष्ट रूप से समझने लगा हूँ। इस महत्वपूर्ण रहस्य को कोई नहीं जानता था।

क्या आपको मेरी लिखी कहानी पसंद आई? आप मुझे एक ईमेल भेजकर बता सकते हैं।Hurftwwe@gmail.com

Read More Story….

मामा जी के बेटी की सील तोड़ चुदाई | Sexy Sister Porn Kahani

बड़ी भाभीजी के सामने छोटी भाभीजी को पेला-1 | antarvasna sex stories

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment