पड़ोस की एक युवा लड़की को ठोका | Free Sex Kahani Hot Xxx Girl

आप Free Sex Kahani Hot Xxx Girl पढ़ सकते हैं, मेरा कद बहुत छोटा था, इसलिए कोई लड़की मुझे पसंद नहीं करती थी। फिर एक दिन मेरी पड़ोस की एक युवा लड़की ने मुझे बताया कि..।

दोस्तो, सब लोग कैसे हैं? लॉकडाउन के दौरान सभी को खुशी मिलेगी, उम्मीद है।
ये मेरी पहली कहानी है। कोई गलती हो तो मुझे माफ करना।

मैं इस Free Sex Kahani Hot Xxx Girl से बहुत अलग हूँ। यह कहानी पढ़कर आप भी सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि जीवन में सब कुछ हो सकता है। इसलिए आप कहानी को ठीक से पढ़ें और अपने विचार मुझे अवश्य भेजें।

Desi Girl Ki Chudai Kahani

मैं मोहित हूँ और उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ। मेरी उम्र ३० वर्ष है। मैं चार फीट लंबा हूँ और देखने में ठीक हूँ।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

मुझसे कोई लड़की नहीं बोली क्योंकि मैं छोटा हूँ। मेरे सारे दोस्तों की शादी हो चुकी थी, और मैं भी शादी करने का विचार करता था।
मेरी शादी से पहले तक कोई लड़की मुझे देखती तक नहीं थी।

आज मैं आपको चुदाई की शुरूआत की कहानी बताऊंगा।

तो हुआ ये कि अंकल आंटी और उनकी बेटी, सलोनी (बदला हुआ नाम), हमारे घर के बराबर में रहने आए।

सलोनी २२ वर्ष की थी। वह बहुत सुंदर थी। देखते ही मैं उस पर लट्टू हो गया। लेकिन मुझे खुशी है कि मैं उससे बात भी कर सकता हूँ।
लेकिन वे कहते हैं कि ऊपरवाले के आदेश के बिना कुछ भी नहीं हो सकता।

मेरी माँ और सलोनी की दोस्ती धीरे-धीरे बढ़ी, जिससे मैं भी सलोनी से परिचित हुआ।
अब कुछ भी होता तो सलोनी की माँ मुझे ही फोन करती। वह अक्सर मुझे दुकान से सामान लाने के लिए कहा करती थी।

मैं भी हर दिन सलोनी के घर जाकर बैठ जाता था। सलोनी को देखकर मेरा भी समय निकल गया।
मेरी हाइट बच्चे की हाइट की तरह थी, इसलिए सलोनी मुस्करा उठी।

जब भी मैं सलोनी से बात करता था, मेरा पूरा ध्यान बस उसके 34 साइज के बूब्स पर था, जो उसने कई बार बताया था, लेकिन उसने मुझे कभी कुछ नहीं कहा।
कुछ दिनों तक ऐसा ही हुआ।

मैं एक दिन उसके सामने सोफे पर बैठा था। हम दोनों बोल रहे थे जब सलोनी मेरे सामने बैठी थी।

लेकिन मेरा ध्यान बातों पर कम और उसके बूब्स पर अधिक था।
सलोनी ने नोटिस भेजा।

Hot Xnxx Girl Ki Sexy Kahaniyaa

एक दो बार उसने कुछ भी नहीं कहा।
लेकिन वह क्या देख रहा था, नहीं जानता था, इसलिए उसने तुरंत पूछा: क्या देख रहा था?

मैं घबरा गया और बोल नहीं पाया।
फिर मैं वहां से हिचकते हुए उठा और अपने घर गया।

जब मोहित दो दिन तक घर नहीं गया, तो अगले दिन उसकी माँ घर आई और मुझसे पूछा, “तुम दो दिन से घर नहीं आया? लोनी तुम्हें याद कर रही थी!
हां आंटी, वह कुछ काम कर रहा था, मैं डर गया। इसलिए वह नहीं आ सका, और आज भी पर्याप्त प्रकाश नहीं है, इसलिए कुछ भी नहीं हो रहा है।

वास्तव में, उस दिन शाम होने से पहले ट्रांस्फार्मर में आग लग गई, जिसके कारण कई घंटे तक प्रकाश नहीं था।

इसे भी पढ़ें   अपनी ही स्टूडेंट की सील तोड़ी

फिर आंटी मेरी मां से बात करने लगी, और मैंने सोचा कि छत पर ही घूमेंगे क्योंकि प्रकाश नहीं था।

मैं छत पर गया और सलोनी को छत पर घूमते देखा. वह एक ब्लैक स्कर्ट और पीला टॉप पहने हुए थी।
उसने फोन पर किसी से बात की।

दोनों घरों की छत एक साथ थी।
सलोनी ने मुझे देखते ही फोन उठाया और पूछा कि दो दिन से कहाँ थे? क्या आप घर नहीं आए?
मैं: वह कुछ नहीं है..। थोड़ा काम था, इसलिए समय नहीं था।

“तुम मेरी किसी बात से गुस्सा हो क्या?” उसने पूछा।
मैं—बिलकुल नहीं। मैं गुस्सा क्यों होऊंगा?
सलोनी, तो उस दिन आप क्या देख रहे थे?
मैंने उसके इस सवाल पर नजरें नीचे कीं।

वह अब मेरे पास आई। मैं घबरा गया।
उसने कहा कि आप इतने घबरा रहे हैं कि मैंने आपसे आपकी गर्लफ्रेंड का नाम पूछा है।

अब मैं इस बात से दुखी हो गया और मैंने कहा-तुम भी मज़ाक उड़ा लो। मेरी प्रेमिका हो ही नहीं सकती। आप अच्छी तरह जानते हैं।

उसने कहा, “अरे..।” कैसे ऐसा नहीं हो सकता? तुम भी लड़का हो।
मैंने कहा कि हां, लेकिन मुझे कोई पसंद नहीं है। पसंद करना तो दूर, मुझे कोई नहीं देखता।

सलोनी, क्या अब तक तुमने किसी को नहीं देखा है?
मैंने पूछा: क्या?
तुम उस दिन मुझे देख रहे थे, उसने कहा।

मैं शर्म से लाल हो गया। मैं बोल नहीं पाया।
फिर उसने कहा, “बोलो ना..।” मैं एक प्रश्न पूछ रहा हूँ।
नहीं, मैंने कहा।

Indian Ladki Ki Vasna Sexy Kahani

मुझे पता है कि तुम्हारी उम्र बड़ी है, लेकिन तुम दिखने में छोटे हो, उन्होंने कहा। मैं जानता हूँ कि आपका भी मन करता होगा।
इतनी छोटी सी लड़की इतनी खुलकर कैसे बोलती है, मुझे आश्चर्य हुआ।

तुरंत उसने मेरा हाथ पकड़ लिया।
मैं बेहोश हो गया।

वह मेरी छत पर आकर मेरा हाथ पकड़कर टहलने लगी।
सलोनी, क्या आपको कोई लड़की पसंद है?
मैं बोल ही नहीं पाया। मेरा पूरा शरीर करंट की तरह दौड़ रहा था।

फिर उसने छत पर यहां वहां देखा। अब शाम हो चुकी थी और लगभग अंधेरा हो चुका था।

उसने मुझे छत के दूसरे कोने में ले जाकर मेरा हाथ अपनी चूचियों पर रखवाया।

देखो इनको छूकर, उसने कहा। मैं जानता हूँ कि आप मेरे घर आकर यही सब देखते रहते हैं। मैं अब स्वयं तुम्हें मौका दे रहा हूँ।
डर मत करो; यह आपके और मेरे बीच में होगा।

मैं अभी भी भयभीत था।
तो उसने अपने हाथ से अपनी चूचियों पर मेरा हाथ दबाने लगा।

मैं खड़ा होने लगा। मैं या तो कोई सपना देख रहा था या ये सब सच में हो रहा था।

अब मैं उसकी चूचियों को टॉप के ऊपर से ही धीरे-धीरे दबाने लगा।
मैं फटने को हो गया। शायद उसने ब्रा भी नहीं पहनी थी।

मैं उसके बूब्स को जोर से दबाने लगा जैसे मेरी हवस बढ़ी।
उसके मुंह से हल्की सिसकारी निकलने लगी: “अम्म… हां… अह्ह… तुम्हें मज़ा आ रहा है ना?”

मैं सिर्फ उसके बूब्स को दबाता था। उसका कोई उत्तर नहीं था।
अब मैं बहुत उत्साहित हो गया। पहली बार किसी लड़की के चूचे दबाए। यह किसी सपने के सच होने की तरह था।

इसे भी पढ़ें   मोम की कामुकता सेक्स स्टोरी | Mom Ki Kamukta Sex Story In Hindi

मैंने उसके टॉप में हाथ डाल दिया क्योंकि मैं रुका नहीं था। मैं उसकी चूचियों पर हाथ डालने लगा।

अब मैंने बूब्स को जोर से दबाना शुरू किया।
अब वह जोर से चिल्लाने लगी, आह्ह… आह्ह..। आप कर रहे हैं..। ओह… हां, मोहित… करो। दबाओ.

अब मैं एक कदम और आगे बढ़ा और तुरंत उसे ऊपर कर दिया। ऊपर चढ़ते ही मेरी आंखें फटी रह गईं। मेरे सामने उसके गोल गोल बड़े बड़े बूब्स थे।

चांद की रोशनी में उसके गोल गोल बूब्स दूध की तरह चमक रहे थे।
मैंने जल्दी से एक चूची को मुंह में लेकर चूसने लगा।
मित्रों, मैं पागल हो गया हूँ।

Xxx Hot Girl Chudai Ki Desi Kahani

उसके चूचों के रस में खो गया। इससे पहले किसी चीज में इतना मजा नहीं आया था।
मुझे अब लड़कों की लड़कियों के प्रति पागलपन का कारण मालूम हुआ।

मैं भी भूखे कुत्ते की तरह था। जो कुछ मिल रहा था, उससे सब्र नहीं आया।

मैं उसकी चूचियों के निप्पलों को दांतों से हल्का सा काटने लगा।
वह सिसकार करते हुए अपने चूचों पर सिर दबाने लगी।

उसने रोते हुए कहा, “मोहित चूसो, जोर से चूसो।” आज इनका पूरा स्वाद पी लो..। वाह, पीओ..। तुम्हारी प्यास बुझा लो। आप मेरी चूची पीना चाहते थे ना? आह..। अब पी ले..। जोरदार

उसने और अधिक जोर से सिसकारियां भरने लगी। उसका घर और हमारा घर दोनों सबसे ऊंचे थे, इसलिए किसी और की छत से हमारी छत नहीं दिखती थी। हम दोनों आराम कर रहे थे।

दोनों एक दूसरे को सहलाने में लगे हुए थे।

तब मेरा हाथ सलोनी की स्कर्ट में घुस गया। उसकी पूरी गील हुई पैंटी पर मेरा हाथ सीधा था।

तुरंत बेसब्र होकर मैंने अपना हाथ उसकी पैंटी में डाल दिया, जिससे मुझे पहली बार चूत की छुअन मिली।
बिना बालों वाली गीली चूत थी।

मैं नशे में आ गया। इस उत्तेजना को कैसे नियंत्रित करूँ?

सच कहूँ तो मेरा वीर्य निकलने को है। मेरा लौड़ा कभी इतना उत्तेजित नहीं था।

उसकी चूत को मेरा हाथ सहलाने लगा। उसकी आवाज पागल हो गई।
उसकी चूत के रस में मेरी उंगली भीग गई।

मैंने उंगली को पैंटी से निकालकर मुंह में डाला, बिना कुछ सोचे।
उसकी चूत का स्वाद और रस अलग था।

मैंने कहा कि मुझे आपको चाटने का बहुत मन है।
उसने सिसकारते हुए कहा: “क्या चाटने का मन कर रहा है? सीधे बोलो।” इतना घूमना क्यों चाहिए?
मैंने कहा कि मुझे आपकी गीली चूत चाटने का बहुत मन है।

तो फिर खड़ा क्यों है, चाट लेना..। आह्ह!उसने अपनी स्कर्ट ऊपर कर दी और मेरा सिर पकड़कर मुझे अपने घुटनों में बिठा दिया।

ऊपर करके, उसने अपनी पैंटी नीचे खींच दी और मेरे मुंह को अपनी जांघों के बीच चौड़ा करके अपनी चूत पर रखा।

दोस्तों, मेरा भाग खुल गया। मैं सिर्फ उसकी चूत में खो गया।
उसकी चूत का स्वाद क्या बताऊँ? मैं उसकी चूत के स्वाद से पागल हो गया।

उसकी चूत पर मेरा मुंह लगते ही वह और भी पागल हो गई और मेरा सिर अपनी चूत पर दोनों हाथों से जोर से दबाने लगी।
मैं उसकी चूत में अपनी जीभ डालने लगा।

इसे भी पढ़ें   माँ के यारों ने बेटी को भी लंड खिलाया

मेरी जीभ उसकी चूत में घुसते ही उसके मुंह से एक तेज सिसकारी निकलती।
वह दौड़ती जा रही थी और… आह्ह… और मोहित… हह्ह… और पूरी तरह से अंदर डालो। ठीक है, भरकर चाट।

अब मैं उसे जीभ से चाटता और उंगली देता।
मैं पूरी तरह से नियंत्रित था।

Hot Xxx Girl Hindi Sex Story

वह अपने चूचों को हाथों से मसल रही थी। उसके नंगे चूचों को ऊपर से मसलना देखकर मैं पागल हो गया।

मैं पूरी शिद्दत से उसकी चूत को चाटता रहा। जब वह पूरी तरह बेसब्र हो गई, तो उसने मेरे मुंह को अपनी चूत में दबाकर चोदने लगी।

वह मेरे सिर को अपनी जांघों में दबाने की कोशिश कर रही थी, जब उसकी चूत मेरे मुंह पर आकर मेरी सांस रोक लेती थी।

मैं रोने लगा।

वह कुछ देर तक ऐसा करती रही, फिर उसकी चूत से अचानक बहुत सारा पानी निकलने लगा।
उसकी चूत के पानी से मेरा पूरा मुंह भीग गया। मैं उसके रस में नहा गया।

मैंने उसकी चूत को पूरी तरह चाट लिया।
फिर हांफती हुई मेरे पास बैठ गई। वह कुछ देर तक जाग नहीं पाया।
फिर वह चुपचाप चली गई। फिर उसने मेरी ओर देखा।

उसने मेरे होंठों को पकड़ा और मेरे चेहरे को मिलाया।
मैंने इसे कभी नहीं सोचा था।
वह मुझे चूमने लगी और मेरे होंठों पर अपनी चूत का रस चाटने लगी।

मैं सिर्फ रोने वाला था। किसी ने मुझे इतना प्यार नहीं किया था।

हम दोनों घबरा गए जब उसकी माँ की आवाज एकदम से आई। उसने अपने कपड़े बदले और हम जल्दी से उठे।

वह तुरंत नीचे की ओर भागी और फिर से मिलने का आग्रह करके चली गई।
अब भी मैं किसी सपने में था।

जब वह चली गई, मैंने समझा कि ये सब सपने नहीं थे।

दोस्तो, यह मेरी पहली स्टोरी थी, जिसमें मैंने एक जवान लड़की की चूत और चूची चाटने का आनंद लिया।

बाद में मैंने सलोनी की चूत भी मारी।

मैं बाद में आपको उस कहानी बताऊंगा कि मैंने पड़ोसन लड़की की चुदाई की और मेरा क्या अनुभव हुआ।
यदि मेरे जैसे किसी और व्यक्ति की जिंदगी में ऐसा अवसर आया है, तो कृपया मुझे बताना।

मैं कमेंट्स में आपकी सभी प्रतिक्रियाओं का इंतजार करूँगा। आप इस Free Sex Kahani Hot Xxx Girl पर टिप्पणी करना न भूलें।

Read More Desi Chudai Kahani…

पिकनिक पर ऑफिस गर्ल को चोदा | Picnic office girl Free Sex Kahani

मेरी बहन को लगा लंड का चस्का | Hot Xxx Sister Hindi Sex Story

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment