दोस्त के गर्लफ्रेंड को बहन बनाकर चोदा। Bro Sis Antarvasna Sex Story

Bro Sis Antarvasna Sex Story पढ़े। । मेरे दोस्त की प्रेमिका मुझे अपने भाई की तरह देखती थी। लेकिन मेरा उसे देखकर खड़ा हो गया। मैं अपनी मुँहबोली की बहन की चुत चुदाई करना चाहता था। मैंने क्या किया जानिए आगे?

नमस्कार दोस्तों, अन्तर्वासना के माध्यम से ये मेरी पहली और Bro Sis Antarvasna Sex Story है। गलती होने पर मुझे माफ करना।

मेरी पिछली कहानी

भाभी ने ब्लैकमेल करके अपनी प्यास बुझवाई। Hot Blackmail Bhabhi Hindi Sex Story

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

मैं पहले अपनी मुँहबोली बहन के बारे में बताता हूँ। उसका नाम सौम्या है..। उसका रंग पूरी तरह से गोरा है। 30.26.32 उसका जीरो फिगर था..। उसकी लम्बाई भी लगभग पांच फुट दो इंच होगी। उसकी गांड और चूचे का क्या कहूँ? जब भी मैं बहन की गांड को देखता था, मेरा बस एक ही मन करता हैं की मैं बस उस पर चढ़ जाऊँ और चोद दूँ। मैं अपने बारे में भी कुछ बता दूं..। राजू मिश्रा मेरा नाम है। 7 इंच का मेरा लंड है।

Hot Bahan Ki Desi Chudai Kahani

सोम्या मेरे निकटतम दोस्त की प्रेमिका थी, इसलिए मुझे भाई समझती थी..। लेकिन जब मैंने उसे पहली बार देखा, तो मेरा लंड उसकी ओर घूम गया। मेरा दोस्त उससे बहुत कम बोलता था और मैं बहुत अधिक..। क्योंकि मैंने उसे पसंद करना शुरू कर दिया था। लेकिन वह मुझे सिर्फ भाई मानती थी। लेकिन मैं अपनी प्रेमिका होने की इच्छा भी कभी कभी व्यक्त करता था..। तो वह मेरी बात मजाक में उड़ा देती।

उसे कुछ खरीदना था जब हम दोनों बाजार गए। मैं उसे अपनी बाइक पर बैठाकर मार्केट चला गया। मैंने सोचा कि आज सौम्या से कुछ मज़ा लिया जाएगा। जब मैं डिस्क ब्रेक लगाता, वो मुझसे चिपक जाती। उसके गठीले दूध मेरे लंड को गर्म करते थे जब उसका सीना मेरी पीठ पर लगता था। रास्ते में मैंने कई बार ऐसा किया।

फिर हम बाजार में पहुंचे। उसने बहुत कुछ खरीदा। कपड़े और सैंडल। अब उसे ब्रा और पेंटी पहननी पड़ी..। तो उसने मुझे कॉस्मेटिक स्टोर के बाहर रुकने को कहा। मैंने समझा कि इसे क्या लेना चाहिए।

मैंने उससे कहा कि मैं भी साथ चलता हूँ।

लड़के यहां नहीं आते, उसने कहा।

मैंने उससे बहुत जिद की तो उसने कहा- ठीक है..। काउंटर पर बैठो, मैं 10 मिनट में आ जाऊँगी।

जब मैंने हां कहा, तो वह अंदर गई और ब्रा और पेंटी को देखने लगी। अब मैं भी देखता रहा कि वह किस तरह की ब्रा पैन्टी चुनती है।

उसके हाथ में पर्पल कलर की ब्रा थी, जब मैंने अंदर देखा। मैं उसे कुछ देर तक देखता रहा। अगले ही मिनट में उसने सामान खरीदा और बाहर निकलने लगी। उसे आते देखकर मैं वापस वहीं बैठ गया।

वह सामने काऊंटर पर गई और सामान को पैक करके एक पैकेट को अपने बैग में डाल दिया।

फिर मेरे पास आते ही कहा, “काफी देर हो गई है।” अब अन्धेरा होने वाला है और मुझे बहुत भूख लगी है. चलो कुछ खाते हैं।

मैंने हामी भर दी और हम पास के एक भोजनालय में चले गए। हमने वहाँ खाना खाने के बाद वेटर को बिल के पैसे देकर टिप भी दी।

नमस्कार सर, आप एक नाइस कपल हैं, वेटर ने कहा।

उसकी बात सुनकर हम हँसने लगे। हम दोनों कुछ देर बाद घर चले गए।

मैंने रास्ते में सौम्या से कहा कि वेटर हमें कपल समझ रहा था।

हां, कोई भी होगा, इतने क्लोज़ देखकर कहेगा। उसे पता है कि हम दोनों एक नहीं हैं।

इसे भी पढ़ें   दीदी की फ्रेश चूत के लिए बम्बू बना मेरा लंड 3

मैंने तुरंत कहा-तो फिर एक बना लो।

प्यार से उसने मेरे कन्धे पर हाथ रखा। मैंने भी बहुत जल्दी ब्रेक लगा दिया। इसके बाद वह मेरी पीठ में फिर से अपने चूचेरगड़ने लगी। मेरा लंड सांप की तरह चिल्लाने लगा।

भाई, क्या आप जानबूझकर ब्रेक नहीं लगा रहे हैं?

मैंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है..। तुम ठीक से बैठो ना।

वह हँसने लगी।

हम दोनों बहुत मज़ा करते हुए घर आ गए। मैंने उसे उसके घर पर ले जाकर छोड़ दिया। फिर घर आ गया। अब मैं बिस्तर में अपने लंड को सहला रहा था, उसके चूचे को याद करके। मेरा लंड उसके मम्मों से तन्ना हुआ था।

तब उसका फोन आया कि भाई उनके कपड़े सही नहीं लग रहे हैं।

मैंने पूछा: तो क्या करना चाहिए?

उसने कहा कि कल फिर से बाजार चलना चाहिए।

और वे फिट हुए हैं? मैंने तुरंत पूछा।

उसने पूछा: किसकी?

मैंने पूछा कि क्या आपने कुछ अधिक लिया था।

उसने कहा, “भाई, सीधे बोल ना।”

मैंने पूछा, “अरे, पैंटी और ब्रा की साइज़ कैसी रही?”

मैं अभी तक उनको चैक नहीं किया है, उसने हँसकर कहा।

मैंने कहा कि आप वीडियो कॉल करके मेरे सामने उन्हें भी देख सकती हैं।

उसने कहा कि तुम मेरे भाई हो..। आपके सामने क्या ये सब कर सकती हूँ?

मैंने कहा कि मैं आपको गर्लफ्रेंड मानता हूँ।

सोम्या ने कहा: अच्छा जाओ..। आपसे कोई विजेता नहीं हो सकता..। कल हम बात करेंगे।

उसने फोन बंद कर दिया।

अब मैं रात में उसकी चुदाई देखने लगा। मैंने सोचा कि मुझे इसे चोदना ही है। उसकी युवावस्था को याद करके, मैंने लंड हाथ से हिलाकर उसके नाम की मुठ मारकर सो गया।

सुबह मैंने सोचा कि कल सौम्या को चोदना ही है।

वह जानती थीं कि मैं बार-बार शराब पीता हूँ। मैं मन में एक विचार आया। मैंने उसे फोन किया और बताया कि आपका प्रेमी किसी दूसरी लड़की के साथ डेट पर गया है।

तुम्हारे पास इस बात का क्या उत्तर है? उसने पूछा।

मैंने कहा कि एक मिनट रुको।

मैंने अपने दोस्त को फोन किया और पूछा कि भाई, आप कहाँ हैं?

तुम्हारी नवजात भाभी के साथ, उसने कहा।

मैं एक बैठक के दौरान कॉल किया था। सौम्या ने सब कुछ सुना। मैंने कॉन्फ्रेंस कॉल रोक दी जब तक मेरा दोस्त कुछ और नहीं कह रहा था।

इस बात को सुनकर वह रोने लगी। मैंने उससे कहा, “पगली, रो मत।” ब्रेकअप पार्टी करो।

तुम अभी कहां हो, सौम्या ने पूछा?

मैं अपने घर पर अकेला हूँ, कहा। सब लोग दो दिन की छुट्टी पर गए हैं..। तो मैं पी रहा हूँ। तुम लेना चाहते हो तो आ जाओ ।

मैं आती हूँ भाई और आज पियूंगी, सोम्या ने कहा।

मैंने सौम्या से कहा, “आ जा, आज तुझे ब्लैक लेबल पिलाऊंगा।”

उसने कहा, “मैं कुछ नहीं जानती, बस आ रही हूँ।”

मैं पहले से ही एक ब्लैक लेबल वाली बोतल लाया था। वह जल्दी ही मेरे घर आ गई और मुझे गले लगाकर रोने लगी।

मेरा लंड उसके गले लग गया। उसके ठोस मम्मों ने मुझे पागल बना दिया। मम्मों का टच होते ही मुझे आराम आ गया। पहले ही मैंने दो पैग ड्रिंक पी लिया था।

मैंने तुरंत उसका पैग बनाया जब वह सामान्य हो गई। वह बिना कुछ सोचे समझे एक बार में गिलास भर पी गई। मैंने एक नमकीन काजू का टुकड़ा उसके मुँह में डाल दिया। उसका स्वाद अच्छा था। तब तक मैंने एक बड़ा पैग बनाया। वह भी उसे पी गई।

इसे भी पढ़ें   लॉकडाउन में चूत का अकाल

मैंने इस प्रकार उसे चार-पांच हार्ड पैग दिए। जब आप शराब को धीरे-धीरे पीते हैं, तो आपको नशा होता है..। लेकिन एक साथ गटगट करके ही पता चलता है कि दारू चढ़ भी रही है या नहीं।

अब उसे काफी नशा हो गया था। मैंने सिगरेट पीकर उसे पकड़ाया। उसने सिगरेट होंठों में डालकर कश खींचने लगी।

मैंने सौम्या को बताया कि तुम्हारे साथ कुछ अच्छा नहीं हुआ।

फिर क्या हुआ? नशे में वह सब बताने लगी।

Antarvasna Girlfriend Sister Sex Story

उसने कहा, “साले, मैंने क्या नहीं किया।” हरामी कुत्ते के साथ मैंने दो बार यौन संबंध बनाए..। उस बेवकूफ का लंड अपने मुँह में लिया। मैं उसे पैसे भी देती थी।

उसकी गालियां सुनकर मेरा लंड खड़ा हो गया। मैंने एक मजबूत पैग बनाकर उसके हाथ में पकड़ाया। उसने उस पैग को भी बिना सोचे समझे पी लिया।

अब वह मदहोश होकर मेरे सामने अपने पैर फैला रही थी। मैंने उसकी जांघ पर अपना हाथ फेरते हुए कहा, “काश अगर मैं उसकी जगह होता तो तुम्हारे जैसी इतनी सुंदर स्त्री को धोखा नहीं देता।”

तुम मुझे इतना प्यार करते हो? वह नशीली आंखों से मुझे देखने लगी।

हां करने के बाद मैंने सीधे उसके होंठों पर अपने होंठ रखकर उसे किस करने लगा। मैं भी उसके साथ रहने लगा। मैं अपने एक हाथ को उसके मम्मे पर रखकर उसे चूमने लगा।

अब उसे सेक्स की भी भूख लग गई। उसने मेरी शर्ट उतार दी। मैंने उसकी इच्छा को समझकर अपने सारे कपड़े बाहर फेंक दिए। मैं अब उसके सामने पूरी तरह से नंगा खड़ा था। मैंने उसे किस करते हुए नीचे लंड पर इशारा करते हुए कहा कि वह इसे मुँह में ले।

लॉलीपॉप की तरह उसने झट से मेरा 7 इंच का लंड चूसने लगी। वह इतना उत्तेजित रूप से मेरा लंड चूस रही थी कि मैं उसके मुँह में झड़ गया। उसने मेरे लंड का पूरा रस पी लिया।

मैं उसे बिस्तर पर ले गया और उसके सारे कपड़े उतारे। वह मेरे सामने पूरी तरह से नंगी थी। मैं उसके एक निप्पल को चूसे जा रहा था और उसके मम्मों को मसलने लगा। वह प्रसन्न होकर मेरा साथ देती थी।

फिर उसने कहा, “भाई, मैं बहुत प्यासी हूँ..।” बहुत दिनों से चुदायी नहीं की है..। आप जल्दी से सेक्स करो..। मुझसे अब रहा नहीं जा रहा है..। कृपया कृपा करें, ब्रो।

मैंने कहा, “मेरी जान अभी सारी रात बाकी है।” आज मैं तुम्हें बहुत प्यार करने वाला हूँ..। क्योंकि आज तक मैंने तुम्हारे नाम पर बहुत मुठ मारी है।

उसने कहा, “भाई, मैं भी कब का आपसे चुद जाती।” लेकिन भाई, मैंने तुम्हेंअ पना भाई माना था..। इसलिए मैं परेशान थीं। लेकिन आज तुमने मेरा सारा संकोच दूर कर दिया है..। आज मुझे बहुत चोदो और अपनी बना लो।

मैंने इसे सुनकर उसकी टांगों के बीच में आकर उसकी चुत चाटने लगा।

उसने गांड उठाकर कहा, “आह, चाटो भाई..।” और भी बातें, आह..। बकवास करते रहो।

वह तुरंत अकड़ गई और अपनी चुत से पानी छोड़ दी। मैंने उसका सारा रस पी लिया।

वह थोड़ी देर तक थक गई। दारू के नशे से उसकी आंखें सूख गईं। मैं देर करना उचित नहीं समझा और अपना 7 इंच मोटा लंड उसकी चुत पर रख दिया।

उसने कहा, एक मिनट रुको।

मैंने पूछा, “क्यों?”

सोम्या ने कहा कि आप पहले मेरी कसम खाओ कि कभी मुझे धोखा नहीं दोगे।

मैंने कहा, “जान तेरी कसम..।” मैं तुम्हें सारी जिंदगी ऐसे ही चोदूंगा, और अब तुम मेरी लुगाई बनके रहेगी।

इसे भी पढ़ें   मम्मी और बहन वन्दना एक ही बिस्तर पर नंगी हुई

हम दोनों ने एक लंबे किस करते हुए हंस दिया। फिर मैंने एक ही झटके में अपना 7 इंच का लंड चुत पर फिर से सैट किया।

लंड घुसते ही उसने तुरंत चिल्लाकर कहा, “आह मर गई..।” रुक जा, हरजाई..। कोई भला व्यक्ति अपनी लुगाई को ऐसे चोदता है..। आप मुझे रंडी की तरह चोद रहा हैं।

मैंने वासना में गुर्राते हुए कहा कि आज मैं तुम्हें रंडी की तरह चोदना चाहता हूँ, ताकि तुम मेरी पहली चुदाई को भूल नहीं पाओ।

उसने कहा: ठीक है..। तो चोदो..। आज मुझे अपनी रंडी समझो।

मैंने लंड को बाहर निकालकर फिर से एक झटके में डाल दिया। अब मैं उसे तेज झटकों से चोदता रहा और उसे किस करता रहा।

मैंने उसे चोदते हुए कहा, “मादरचोद..।” साली छिनाल… रंडी..। इतने दिनों से परेशान थी..। अब जाकर मैं तुम्हें चोद सकता हूँ। तुम बहुत सुंदर हो..। मेरी जान, तुम्हारी चुत का भी कोई जवाब नहीं है..। मेरी रंडी, तुम्हारी चुत में बहुत रस है..।

Xxx Hot Bhai Bahan Ki Chudai Kahani

उसने अपनी गांड उठाकर कहा, “ओह, बहनचोद, पी ले मेरा सारा रस।” बहन के लौड़े, अब मेरा पूरा शरीर तुम्हारा है…। मुझे बदनाम करो..। तुम्हारी रंडी बनाकर चोद दे हरामी..। तुम्हारा लंड भी छोटा नहीं है। मैं सिर्फ आज नहीं..। मैं तुम्हें हर दिन चुदूंगी..। तुम्हारे लिंग से चुत की खाज मिटाऊंगी..। आह, साले।

उसकी नशीली बातें सुनकर मैं खुश हो गया। मैंने अपने धक्के और अधिक तेज कर दिए। मैं चुदाई करते हुए उसके स्तनों को चूस रहा था।

उसने मुझे अपना एक दूध पिलाते हुए कहा, “आह पी ले साले”।..। आज अपनी बहन का दूध पीओ..। आज तुमने अपनी बहन को अपनी रंड़ी बना लिया..। तुम बहुत बहनचोद हो।

मैं उसको २५ मिनट तक तेजी से चोदता रहा। फिर मैं गिरने लगा।

मैंने उससे कहा कि मेरा निकलने वाला हैं।

उसने कहा, “भाई, मेरी चुत में छोड़ दो।”

मैंने उसकी चुत में अपना सामान डाल दिया। हम कुछ देर ऐसे ही रहे।

थोड़ी देर बाद वह उसे फिर से जगाने लगी, मेरे लंड को हाथ में पकड़कर।

मेरा लिंग फिर से उठ गया। मैंने कहा कि शायद मेरी बहन अभी बहुत प्यासी है।

उसने मुँह भरकर मेरा लंड चूसने लगी।

मैंने उससे कहा कि मैं अब तुम्हारी गांड मारुंगा।

नहीं, उन्होंने कहा..। मैं कभी गांड नहीं मारता था..। बहुत पीड़ा होगी।

मैंने कहा कि मैं आराम से डालूंगा..। अब मैं तुम्हें लुगाई की तरह चोदूंगा।

उसने हाँ कहा।

मैंने उसे लार्ज पैग बनाकर पिलाया और उसकी गांड मारने के लिए तैयार हो गया। मैंने तेल की शीशी का ढक्कन खोलकर उसकी गांड में भर दी।मैंने फिर एक उंगली से उसकी गांड खोदा। फिर दो उंगलियों से गांड ढीली की।

अब, नशे में, वह खुद बोलने लगी, “साले भोसड़ी के लंड डालकर गांड मार ना।” उंगली से खेलने का क्या उद्देश्य है?

मैंने भी एक पैग ठोका और उसकी गांड पर लंड का सुपारा टिका दिया। फिर मैंने उसकी कमर पकड़कर लौड़ा उसकी गांड में डाल दिया। उसकी मां चुद गई, लेकिन लंड झेल लिया। मैंने भी पूरा लंड डालकर उसकी गांड मार दी।

मैंने उस रात उसे छह बार चोदा। अब हम चुदाई का मजा लेते हैं जब भी मौका मिलता है।

मेरी सुंदर Bro Sis Antarvasna Sex Story आपको कैसी लगी? मुझे मेल करके प्लीज बताएं।sexykahani@gmail.com

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment