बेटे और उसके दोस्त से अपनी चूत की प्यास बुझवाई

मेरा नाम बीनू नेगी है। मेरी उम्र 37 साल है मेरा फिगर 36-32-38 का है और मैं अपने 18 साल के बेटे रॉबी नेगी के साथ दिल्ली के पास नोएडा के सेक्टर 26 में रहती हूँ। मेरी फल और सब्जियों की एक छोटी सी दुकान है। ओर उसी के उपर हमने अपने रहने के लिए घर बना हुआ है।

Horny Mother XXX

मेरे चूतिया पति ने मुझे दूसरी दूसरी लड़की के लिए छोड़ दिया है। मेरा घर मेरी छोटी सी दुकानें ही चलता है मेरी दुकान और घर शहर से थोड़ा दूर पढ़ता है। मै गांव गांव जा कर फेरी भी लगा लेती हू। मेरी दुकान अच्छी चलती है। मेरा बेटा रॉबी 11वी कक्षा मे पढ़ रहा है बहुत ही समझदार है मेरी दुकान का हिसाब मिनटों मे लगा देता है। काम मे मेरी मदद भी करता है।

रॉबी के लन्ड का साइज 8 इंच लम्बा और 2.5 इंच मोटा है. उसका एक दोस्त विजय जो ज्यादातर रॉबी के साथ रहता है दोनो एक ही स्कूल और एक ही क्लास मे है। ये बात दो महीने पहले की है। बारिश का मौसम था। मै दुकान का काम खत्म कर के ऊपर जा रही थी.

तो मेने देखा की विजय मेरे बॉथरूम मेरी ब्रा पैंटी को लेके सुघ रहा था। ओर अपना लन्ड हिला रहा था इसका लन्ड 6 इंच का होगा और 1.5 इंच मोटा होगा। उसका लन्ड देख कर मेरे मुंह मे पानी आ गया। मै भी अपनी चूत को सहलाने लगी। मैनें ठीक से ध्यान नही दिया था और ना इधर उधर देखा। रॉबी मुझे देख रहा था।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

पर मुझे वो दिख नही रहा था मैने जोर जोर से अपनी चूत को सहलाने लगी और 10 मिनट मे चूत का पानी निकाल दिया। विजय भी अपना पानी मेरे ब्रा ओर पैंटी पर छोड़ दिया और वहा से निकल कर रॉबी के पास आ गया दोनो बाते करने लगे। मै दोनो के लिए पास्ता बना कर ले गई। विजय मुझे बहुत बुरी तरह से घूर रहा था जैसे की यहां पर ही पटक के चोद देगा।

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : 

मैनें रॉबी से बोला पढ़ते भी हो या घूमते रहते हो।

फिर विजय बोला नही आन्टी स्कूल का काम खत्म कर के ही घूमते है।

मैनें कहा कोई नही बच्चों आप की लाइफ है जैसे इंजॉय करनी है वैसे करो। अभी पढ़ लोगे तो बाद मे तुम्हारे पास अच्छी शिक्षा होगी तो अच्छी नौकरी मिलेगी।

फिर विजय बोला आन्टी मे तो लड़कियों के ब्रा और पैंटी का हॉल सेल का काम करूंगा।

मैनें कहा अच्छा इसके लिए दिमाग भी होना चाहिए।

अच्छा चलो बताओ मेरा ब्रा का नाप बताओ।

विजय बोला आन्टी बता दिया तो मुझे क्या मिलेगा मेने कहा बहुत हो गई बकवास चलो रात होने वाली है घर नही जाओगे क्या रॉबी बोला आज विजय यही रहेगा स्कूल की दो दिन की छुट्टी है। मैनें रात के खाने का इंतजाम करने लगी। मैनें मटर पनीर और तंदूरी रोटी बनाई।

हम तीनो ने खाना खा कर रॉबी के साथ विजय उसके कमरे मे चला गया। जाते जाते मेरे गन्ड पर हाथ लगा कर गया और sorry बोला ओर चला गया। मैनें अपना काम खत्म कर के नहाने चली गई मुझे ऐसा लग रहा था की मुझे नहाते समय कोई देख रहा है.

मेने ज्यादा ध्यान न देते हुए नहा कर बाहर निकल आई बॉथरूम का गेट खोलते ही मेने देखा रॉबी और दोनो मुझे नहाते हुए देख रहे द ओर मुट्ठी मार के पिचकारी गेट पर मारी है। मैं अपने रात के लिए लॉन्ग टी शर्ट पहती हू वो पहन ली और सोने के लिए अपने रुम मे आ गई. ये कहानी आप क्रेजी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है.

मेने अपने घर के कमरे मे गेट नही लगवाए है लकड़ी से बने स्लाइड डोर है उनमें लॉक नही होते है। मै अपना बिस्तर कर के लेट गई कब आंख लग गई पता ही नही चला। 1 बेज के करीब मेरे बूब्स पर कुछ महसूस हुआ था मैने हल्की ही आंख खोल कर देखी तो विजय मेरे दोनो चूचों कर मसल रहा था.

मैने करवट लेते हुऐ एक साइड से लेट गई और आंखे बन्द रखी। विजय रॉबी को बुला रहा था तू भी आज और बोल रहा था तेरी मां आज मुझसे ही चुदेगी तुझे चोदना है तो आजा नही तो जा के अपने कमरे मे सो जा। रॉबी मना कर रहा था मां सो गई है सोने दे उन्हें वो थक जाती है पुरा दिन काम कर के।

विजय बोला साले बहन के लोड़े साथ देना है तो से वर्ना जा यहां से। रॉबी से स्लाइड डोर बंद कर दीया और थोड़ा सा खोल लिया था देखने के लिए विजय को लगा वो चला गया। मैनें फिर से करवट बदलते हुए टी शर्ट थोड़ा ऊपर कर ली थी।

इसे भी पढ़ें   ससुर जी का जवान लंड-2

ये देख कर विजय ने अपना लन्ड भी बाहर निकाल लिया और उपर उपर से मेरी शरीर को छुने लगा। उसने मेरे होटों पर लन्ड लगा कर फेर रहा था लन्ड से थोड़ा सा दो चार बुदे मेरे होटों पर लग गई। मैनें थोड़ा से इस ही रही वो मेरी चूत सहलाने लगा तो वो थोड़ा गीली हो गई थी.

जिस से उसे पता लग गया था की मे जग गई हु तो उसने मेरे मुंह मे अपना लन्ड दे दीया और पानी निकाल दीया मै उठ के पानी गटक गई बहुत मस्त स्वाद था मजा आ गया था काफ़ी सालो के बाद आज लन्ड का पानी नसीब हुआ है।

चुदाई की गरम देसी कहानी : 

मै उठ कर बैठ गई और अपने कपडे ठीक करते हुऐ बोली विजय तुम मेरे साथ इतना गन्दा काम क्यू कर रहे थे। तुमने अपना पानी मेरे मुंह मे निकाल दिया। विजय सॉरी आन्टी आप को देख कर मेरा लन्ड खड़ा हो जाता है आप को चोदने को बोलता है आप ही बताओ मे क्या करु।

फिर विजय मेरे साथ जबरजस्ती करने लगा मुझे भी लन्ड चाहिए था थोडी देर मना करते केरते उसका साथ देने लगी उसने मेरी चड्डी उतार दी। मेरी चूत साफ थी वो चाटने लगा 20 मिनट चाट कर मेरा पानी निचोड़ दिया उसने।

मेरी धड़कन ओर सास बहुत तेज़ तेज़ चल रही थी मेरी पुरी बॉडी पर पसीना पसीना हो गया था। विजय ने अपना लन्ड मेरी तरफ़ करते हुऐ चूसने को बोला मेने बिना कुछ बोले लन्ड मुंह मे भर लिया ओर 15 मिनट मै पानी निकाल दिया दोनों थक गए ओर विजय मेरे पास से जानें लगा तो मेने कहा मेरे पास ही सो जाओ। हम सो गए।

सुबह 6 बेज मेरी आंख खुली तो बारिश बहुत तेज़ हो रही थी रोड पर पानी भर गया था। ये देख कर मे रॉबी को देखने गई। तो रॉबी सो रहा था ओर उसकी कच्चे मे तंबू बना हुआ था। मैनें पास जा कर देखा रात को वो भी मुट्ठी मार के सोया था कमरे मे टीसू पड़े हुए थे।

फिर मै वहा से अपने कमरे मे आ गई और विजय नंगा लेटा हुआ था उसका भी लन्ड खड़ा था मुझ से रहा नही गया मेने चूसना शुरू कर दिया मे उसका टोपा टोपा चाट ओर चुस रही थी उसकी आंख खुल गई उसने मेरे बाल पकड़ के अपने लन्ड पर मेरा सर दबाने लगा।

मै उसका लन्ड पुरा नही ले पा रही थी। आधा ही लन्ड आ रहा था विजय मुझे गालियां दे रहा था साली राण्ड की बच्ची पुरा तो ले। मै बोल दिया रण्डी नही हु बहन के लोड़े। उसने मेरे बाल पकड़ के सर ऊपर कर के रोक लिया और लेते निचे से लन्ड ले धक्के देने लगा।

10 – 15 धक्के देने के बाद उसने लन्ड मेरे गले तक डाल दिया। मै एक बार मे पुरा लन्ड मुंह मे लेके बाहर निकले रही थी मेरे थूक से उसका लन्ड बहुत चिकना हो गया था हम दोनो 69 की पोजिशन मे आ गए वह मेरी चूत मे दो उंगली डाल कर मेरे पानी निकाल रहा था.

मे भी उसका लन्ड मजे से चूस रही थी 15 मिनट मे ही हम दोनो का पानी निकाल हुए। 10 मिनट तक हम इसे ही लेटे रहे फिर उसने मुझ से पुछा आन्टी कोई रस्सी मिलेगी मेने कहा उसका क्या करोगे तुम। आज तुझे BF मे जैसी चोदते है वैसे ही चोदूंगा.

तो मेने उसको बोला अलमारी के निचे वाले मे एक पतली रस्सी है देख लो काम चचल जाए तो नही तो दुकान में एक और है वो मोटी है। विजय रस्सी देख कर खुश हो गया यही चाहिए मेरी कुतिया। आज तुझे मार मार के चोदूंगा।

विजय ने मुझे एक अलग ही तरीके से बाधा था मे पुरी नंगी थी। मेरे बूब्स पर गोल गुमा कर मेरे हाथ पीछे को बाधे हुऐ थे। उसने मेरे गले में अपनी बेल्ट से कुत्ते को रस्सी डालते है वैसे ही डाल के मेरे पीछे से मुझे मेरी चूतड़ों पर अपने हाथो से चाटे मार मार के लाल कर दिए थे।

मुझे दर्द तो हो रहा था पर मजा भी आ रहा था उसके अपने लन्ड के टोपे पर थूक लगा कर मेरी चूत पर सेट किए और गाली देते हुए, रॉबी की मां की चूत फटने वाली है और मेरी राण्ड बनने जा रही है उसने एक धक्का लगा दिया पर लन्ड फिसल गया.

और फिर मेने अपने पैर ओर फैला दिए उसने इस बार टोपा मेरी चूत के छेद को खोल के सेट कर दिया था। फिर धक्का दिया उसका पुरा लन्ड मेरी चूत मे घुस गया ओर मेरी चीखे चिलाने लगी उसे दर्द बहुत हो रहा है उसने मेरी पैंटी मेरे मुंह मे भर दी आवाज़ नही होए नही तो रॉबी जग जाएगा।

इसे भी पढ़ें   पड़ोस की सेक्सी लड़की से चुदाई का मज़्ज़ा लिया। Hot Xxx Desi Girl Ki Chudai

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : 

लन्ड घुसा के विजय 10 मिटन रुका रहा उसने देखा मे खुद अपनी गान्ड आगे पीछे कर रही हु। तो वह समझ गया दर्द कम हो गया उसने मेरी पैंटी निकाल दी। फिर मेने उसे बोला मे कितना भी चिलाऊ चिखु तू धक्के बन्द मत करियो ओर फाड़ दे मेरी सारी चूत को विजय मेरी बात सुन के पागल सा हो गया बहुत तेज तेज धक्के मारने लगा. “Horny Mother XXX”

मेरी चूत सुजा दी मरते मरते उसने 4 बार मेरी चूत मारी। ओर मुझे रस्सी से खोल दिया और थोड़ा देर आराम कर के 11 बेज के कर विजय अपने घर जानें की बोलने लगा तो मेने कहा चले जाओ पर रात को आ जाना। विजय ने कहा ठीक है देखता हू जाते जाते मेने उसे किस की। किस करते समय रॉबी ने मुझे देख लिया था।

उसके जानें के बाद रॉबी बोला मां आप उसे किस क्यो कर रही थी। तो मेने कहा वो हमारे घर आता है तेरी मदद के लिए ओर मेरी भी मदद कर देता है तो ये तो कोई बात नही हुई रॉबी ठीक है मां सॉरी मां। मैनें कहा कोई बात नही बेटा।

रात के 9.30 बज गए थे विजय नही आया था अभी तक मे नंगी हो कर उसका इंतजार कर रही थी। रॉबी मुझे देख रहा था मुझे पता नही चल पाया। मे अपनी चूत सहला रही थी एक केला मेरे पास रखा था मेने अपनी चूत मे डाल लिया और अंडर बाहर करने लगी। “Horny Mother XXX”

रॉबी मुझे देख कर मुठ मार रहा था पर मुझे पता ही नही था काफ़ी देर तक हम अपनी मुठ मरते रहे 15 मिनट मे दोनो का पानी निकल गया। फिर मै चादर ओढ़ के लेट गई। 10 बेज के करीब घर में मैन गेट की बैल बजी रॉबी ने गेट खोला देखा तो विजय था घर आते आते थोड़ा गीला हो गया था उसने रॉबी के कच्छा ओर टी शर्ट पहन ली।

रॉबी ओर विजय दोनो लेट गए 11 बेज के करीब मे पूरी नंगी रॉबी के कमरे मे चली गई और मेने विजय को उठा दिया उसको बोला आज कैसे चोदोगे मुझे। विजय बोला रॉबी सुन लेगा धीरे धीरे बोलो फिर हम दोनो मेरे कमरे मे आ गए।

उसने को हतकडी की तरह मेरे हाथो और पैरो से पूरे बेड पर हर कोने से बाध दिया और अपने बैग से पलास्टिक का लन्ड निकाला मेरी चूत मे डाल कर चालू कर दिया बहुत मीठी मीठी गुद गुदी हो रही थी मारी सास भी रुक रही थी एक घंटे तक खेलने के बाद उसने मुझे खोल दिया ओर मेरी चूत मे सुखा लन्ड दे दिया।

मेरी चूत गीली थी तो पता भी चाल पाया। धक्के से मेरी आवाज़ तो निकाल देता है इसका लन्ड भी। चोद चोद कर मे काफ़ी थक गई थी मे ऐसे ही लेट गई। विजय पिसाब करने बाहर गया तो उसे रॉबी दिख गया विजय बोला भाई तेरी मां तो बहुत मस्त रण्डी है। “Horny Mother XXX”

तुझे मारनी है तो मे बात करता हू। विजय मूत कर आया तो बाहर रॉबी सिर्फ एक कच्चे मे खडा था। मैने उसे देखा नही था। विजय आया उसने मुझे लन्ड चूसने को बोला मे उसका लन्ड चूसने लगी। 10 मिनट मे पानी निकल गया।

ओर रॉबी अंदर आ गया बोला मां ये क्या कर रही हो मेने कुछ नहीं बोला विजय बोला रॉबी से रॉबी अपना लन्ड दिखा दे अपनी रण्डी मां को रॉबी ने अपना कच्छा उतार दिया। मै रॉबी का लन्ड देख कर दंग रह गई मेरे बेटे के पास ही इतना मोटा है तो मैं विजय से क्यू मरा रही हु। ये कहानी आप क्रेजी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है.

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : 

मैनें रॉबी ओर विजय को दोनो को बहुत डॉट लगा दी ओर विजय को घर आने को मना कर दिया। विजय सही मे घट आना बन्द कर दिया था तो मेने रॉबी से बोला रॉबी विजय आता क्यू नही है अब रॉबी बोला वो अब यहां से चला गया है वो अब शहर मे रहेगा। “Horny Mother XXX”

मेरी ठरक कम नही हो रही थी मेने गाजर मूली बेगम सभी कुछ इस्ताल कर लिया था पर असली लन्ड की बात अलग है तो मेने रॉबी को अपना बॉडी दिखाने लगी। एक दिन मेने देखा की रॉबी मेरी पैंटी चाट रहा था ओर मुठ मार रहा था

तो मेरे दिमाग मे एक तरीका आया फिर में रात को खाना खा कर मे बिना पैंटी के सिर्फ लॉन्ग टी शर्ट पहन कर रॉबी के कमरे जा के लेट गई रॉबी बेटा आज नीद नही आ रही है कुछ देर यह ही लेट जाऊं। सोने की एक्टिंग करने लगी और अपनी आखों पर एक पट्टी लगा कर मे सोती हु।

इसे भी पढ़ें   बगल वाली भाभी की जोरदार चुदाई करी 1 | Nangi Bhabhi Bangali Sex Kahani

12 बेज के करीब रॉबी ने मुझे आवाज़ दी मेने सुनी नही और मेने करवट लेटे ही अपनी टी शर्ट थोड़ा ऊपर कर ली अपनी गांड़ और चूत के दर्शन देने लगी। रॉबी ने अपनी एक उंगली पर थूक लगा कर मेरी चूत पर सहलाने लगा। मेरा चूत गीली हो गई थी।

रॉबी बोला मम्मी आप जग रहे हो ना। मैनें चादर ओढ़ के अपने आप को ढक लिया पर रॉबी ने मेरे चादर के उपर से ही मेरे बूब्स दबाने लगा मुझे बहुत अच्छा लग रहा था। फिर रॉबी ने मेरे मुंह पर से चादर हटा के मेरे मुंह पर मुठ मार के पानी मेरे होटों पर गिरा दिया। ओर मेरे कमरे मे जा कर सो गया।

सुबह जब मैं उठी तो आज भी बारिश बहुत हो रही थी मुझे ठरक चढ़ रही थी मेने रॉबी को पुरे घर मे देख लिया पर रॉबी तो मेरे रुम मे था। जब मे अपने कमरे मे गई तोहर देखा रॉबी का लन्ड खड़ा था मेने आओ देखा ना ताव मेने उसका कच्छा उतार के इसका लन्ड चूसने लगी उसका टोपा ही मेरे मुंह मे आ रहा था बस। “Horny Mother XXX”

मैनें उसे उठाया ओर अपने भी सारे कपडे निकाल दिए दोनो एक दूसरे के सामने नंगे थे। मैनें उसे कहा बेटा मेरी चूत चाट दो खुजली हो रही है उसने मुझे दो थप्पड़ मारे बोला साली रण्डी मम्मी आज तू भी बोलेगी ये किसका लन्ड लिया है।

रॉबी ने मेरी चूत चाटी आधे घण्टे तक चूत पानी छोड़ दिया। उसने थूक अपने टोपे पर लगा के बिलकुल चूत के छेद पर सेट कर दीया मम्मी के मुह पर एक तकिया रख दिया की चिलाए नही ज्यादा। रॉबी ने धक्का दिया तोह टोपा अंदर चला गया ओर मुझे बहुत जलन हों रहा था थोड़ा सा खून भी आ गया था।

उसने मेरे पैर अपने कंधे पर रखे ओर जोर से धक्का दिया पुरा लन्ड चूत मे था मे बहुत तेज तेज चिला रही थी तकिए की वजह से ज्यादा आवाज़ नही हुई। 20 मिनट के बाद मेरा दर्द ठीक हुआ तो मेने कहा बेटा धक्के मार आराम आराम से। बेटे ने वैसा ही किया उसने अपना लन्ड आगे पीछे करने लगा।

30 घंटे तो रॉबी ने मुझे ऐसे ही चोदा। ओर अपना पानी मेरी चूत मे निकाल दिया। रॉबी ने अपना लन्ड बाहर निकाला मेरी चूत से पुरे लन्ड पर खून लगा हुआ था रॉबी के लन्ड ने मेरी चूत से खून की होली खेली है। रॉबी ने बोला मम्मी एक बार डॉगी स्टाइल मे मेने उसे उस doggy position मे भी चूत दी मेरी चूत इसका लन्ड लेके सूज गई थी। “Horny Mother XXX”

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : 

कुत्ते वाली पोजिशन से मेरी गांड़ का छेद भी रॉबी ने देख लिया था मेरी गांड़ चाट रहा था बोला मां इसमें भी डालने दो ना। Mummy बोली नही बिलकुल नही इसने तोह मे उंगली भी नही डालती तो तेरा लन्ड कहा से जायेगा। रॉबी बोला एक बार ट्राई कर्ता हु।

मैनें उसे साफ मना कर दिया। मै थोड़ा चल नही पा रही थी। हम रोज चूदाई करते है। रॉबी मेरी चूत मे लन्ड डाल कर ही सोता है। मै अभी पेट से हु रॉबी का बच्चा हैं रॉबी अब मुझे हर तरीके से चोदता है पर मेने अभी तक रॉबी को अपनी गान्ड नही मारने दी।

मै अभी 8 महीने की पेट से हू रॉबी मेरी बहुत देख भाल कर्ता है। एक दिन उसने मेरे बॉडी मसाज के लिए बोलने लगा मेरी मस्त मसाज करने लगा तेल की चिकनाई की वजह से उसने मेरी गांड़ मे 2 उंगलियों का छेद ढीला कर दिया था। पर मेने उसे लन्ड गांड़ मे नही डालने दिया। आगे गांड़ मेने कैसे मराई अगले भाग में लिखती हू।

दोस्तों आपको ये Horny Mother XXX की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे……………

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment