मैं मेरी बहन और पडोसी -1 | Family Sex story in Hindi

Family Sex story in Hindi, नमस्कार दोस्तों मेरा नाम कविता है में 22 साल की हूँ। मैं केरला की रहने वाली हूँ। मेरे घर में माँ पापा और मेरी बड़ी बहन हैं। यह कहानी मेरे पड़ोस के लड़के की ह वह बहुत सुन्दर और सेक्सी लड़का हैं। एक बार की बात हैं में कपडे धोके चाट पर सुखाने गई थी।

मैं कपडे राशि में डालने लगी तो मेरी टी-शर्ट बार बार मेरी नाभि से ऊपर जा रही थी। मेने देखा की सामने हमारा पडोसी लड़का मुझे देख रहा था। मेने उससे पूछा क्या हुआ मुझे ऐसे क्यों घूर रहे हो वह थोड़ा घबरा गया लेकिन मैं समझ चुकी थी।

जब मैं छत पर घूमने जाती वह मुझे वही मिलता था एक दिन मैंने उससे पूछा की सच सच बताओ तुम सु दिन क्या देख रहे थे। उसने बताया की तुम्हारी नाभि के ऊपर का तिल बहुत ही अच्छा हैं। family sex stories

मैं सरमाने लगी कुछ दिन ऐसे ही चलता रहा हम रुज आते और छत पर मिला करते थे। हमने कुछ समय बात एक दूसरे को अपना नंबर दे दिया और रात में बाते करने लगे।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

एक दिन मेरे घरवाले बहार किसी काम से गए हुए थे मेने उसे अपने घर में बुलाया लेकिन मेरको पता नहीं था की मेरी बहन वापस आके दूसे कमरे में बैठी हुई थी। मैंने उसे गेट से अंदर खींच लिया और उसे जोर से किश किया।

xxx stories in hindi

मेने देखा उसका मुँह शर्मा के लाल हो चूका था। यह मेरा भी पाली बार था और उसका भी। फिर मैं उसे अपने रूम में लेकर गई और उसके साथ में कुछ बाते की और उसके लिए चाय बना के लाइ मी उसे चाय दी और उसके साथ में बैठ गई।

वो मेरसे हल्का सा दूर बैठा था और शर्मा रहा था उसने अपनी चाय ख़तम की और गिलास मुझे दिया मेने गिलाश को साइड में रखा और झट से उसकी गोदी में बैठ गई। family sexy kahaniyaa

इसे भी पढ़ें   मम्मी और बहन वन्दना एक ही बिस्तर पर नंगी हुई

Family Sex story in Hindi

फिर उसने में फुटेज खाना बंद किया और मेरे गले पर हाथ फिरके मेरे होठो पर अपने होठो को टकराया और किश करने लगा। मैं उसकी गोद में बैठी थी मेरको उसका सामन टाइट होता महसूस हो रहा था।

वह धीरे धीरे मेरे गले पर किश करने लगा और निचे जाता रहा जो वितना निचे जाता रहा मेरी सिसकिया उतनी ही तेज होने लगी उसने मेरे गुबारों को चाटना चालु किया तो में गरम होने लगी। मैंने अपना हाथ उसके सामन की तरफ बढ़ाया। sister ki sexy stories

फिर उसका सामन पकड़ लिया और उसे धीरे से मसलने लगी उसका सामन पूरा कड़क हो गया। वो गरम हो चूका था पर मैं धीरे धीरे गरम होने लगी थी और उसकी गोद में बैठके सिसकिया ले रही थी मुझे मजा आने लगा था।

Family me chudaii ki kahani

फिर उसने मेरे कपडे उतारे और मुझे बेड पर लिटाया और मेरे छेद में ऊँगली करने लगा जैसे ही उनसे मेरे छेद में ऊँगली डाली मुझे एकदम झटका लगा और मजा आने लगा। मेने उसके सारे कपडे उतार दिए और उसके पेट पर किस करने लगी और धीरे धीरे उसके सामन के आगे मेरा मुँह आ गया मेने इतनी करीब से पाहि बार सामन देखा था।

उसका सामान 7 inc का था मैंने उसके सामन पर किस किया और उससे पूछा क्या तुमने पहले किसी और के साथ सेक्स किया हैं लड़के ने कहा आज तक में सिर्फ अपने हाथो से ही काम चलता था पर अब तुम मेरे साथ हो।

मैं बहुत खुश हुई और उसका सामन अपने मुँह में ले लिया और उसे लोली-पॉप की तरह कसने लगी। मेने देखा की लड़के को बहुत मजा आ रहा था फिर में उठी और लड़के के ऊपर लेटके उसे किस करने लगी। bhai bahan ki chudai ki kahani

मेने उससे पूछा क्या तुम मेरे साथ खुद से कुछ करोगे लड़का झट से खड़ा हुआ और मुझे बेड पर धका दिया और मेरी टांगो को खिचके मेरी टांगो को खिचके बेड के किनारे पे किया और मेरे छेद को चाटने लगा !

इसे भी पढ़ें   भैया मुझे बीवी बना कर चोद दो

अब में गरम हो चुकी थी और मेने उससे पूछा क्या तुम अपना सामन मेरे छेद के अनादर नहीं डालोगे उसने बोला अगर तुम कहो तो में कुछ भी करूँगा पर एक दिकत हैं की मेरे पास कॉन्डम नहीं हैं।

sex hot stories

मुझे याद आया की मेने अपने माँ और पापा के कमरे में कॉन्डम का पैकेट देखा था। मैं बिना कपड़ो के अपने माँ पापा के कमरे में गई और कॉन्डम ढूंढने लगी इतने में वह से जाते हुए मुझे मेरी बहन ने देख लिया था!

पर मुझे अभी तक यह पता नहीं था की वह अभी भी घर पर हैं। उसने देखा की मैं बिना कपड़ो के ऐसे क्यों माँ और पापा के कमरों में गई उसने चुपके से मेरी जासूसी चालु कर दी। जैसे ही मुझे कॉन्डम मिला मैं वापसी अपने कमरे में जाने लगी मेरी बहन चुके से देख रही थी की में क्या कर रही हु।

उसने देखा की मेरे कमरे में हमारा पडोसी नागा लेता हुआ है और मैं जाकर उसके ऊपर लेट गई और लड़के से बोली देखो मुझे मिल गया। मैं उसके ऊपर से उठी और उसके सामन के ऊपर कॉन्डम को चढ़ाया और अपने छेद पर रगड़ने लगी और बहार दरवाजे पर कड़ी मेरी बहन सब देख रही थी पर अभी तक हमें कुछ पता नहीं था।

Family Sex story in Hindi

फिर जैसे ही लड़के ने मेरे छेद में अपना सामान हलके से घुसाया मेरी सील टूट गई और उसमे से खून आने लगा मेने अपने गड़े को हल्का सा फाड़ा और उसके अंदर से रुई निकाली और साफ़ किया। ecotic porn story

फिर उसने धीरे धीरे दुबारा करना चालु किया और मेरे छेद के अनदर अपना पुअरा सामान दाल दिया मुझे दर्द हो रहा था पर मजा भी बहुत आ रहा था। यह सब मेरी बहन खड़े होकर देख रही थी और अपने ही मजे ले रही थी।

इसे भी पढ़ें   मौसी की बेटी की पहली चूत चुदाई कहानी | Xxx Hot Sister Sexy Kahani

sister porn stories

फिर मैं लड़के के ऊपर बैठी और ऊपर निचे ऊपर निचे करने लगी होने उस दिन बहुत से पोज़ में सेक्स किया हम दोना का सबसे पसंदीदा पोज़ घोड़ी बाला बना हमने जब लड़के के सामन से क्रीम बहार आने को हुई तो मेने उसके सामान के ऊपर से कॉन्डोम को हटा दिया और उसके सामन को मसलने लगी उसके सामान के आदर से बहुत साड़ी किरीम निकली और वो सारा मेरे मुँह पर गिरा।

ये सब मेरी बहन ने देखने के बाद मेरे रूम का दरवाजा खट खटाया और बोली ये क्या कर रहे हो तुम दोनी मेरे और लड़के के मुँह से हवइया उड़ गई हमने जितने मजे किये सब धरा का धरा रह गया।

आगे की कहानी जाने के लिए इसके दूसरे भाग को पढ़े मैं मेरी बहन और पडोसी -2।

इसे भी पढ़े-

छोटी बहना को प्यार दिया | Family Sex Story in Hindi

छोटी बहिन की चुत को चोदा | Bhai Bahan sex story

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment