भाई को सैक्स के लिए मजबुर कर दिया – Bhai Bahen ki chudai

उसने बताया कि वह जब भी नहाने जाती थी जानबुझकर अपनी ब्रा, पैंटी , तौलिया आदि भूल जाती थी और वह आवाज देकर अपने भाई से बाथरूम के अंदर से आवाज देकर मांगती थी l उस वक्त वह जान बुझकर अपने मुंह में साबुन लगा लेता थी जिससे उसकी आँखे बंद रहे और जब भाई उसकी तौलिया या उसकी ब्रा पैंटी लेकर उसे देने आता तो वह बाथरूम का दरवाजा खोल देती थी और वैसे ही नंगी भाई के सामने खड़ी होकर अपने यौवन यानि स्तनों , योनि और निंतंब का पूरा दर्शन कराती उसके बाद तौलिया या ब्रा पैटी ले लेती l इस तरह उसका भाई रोज उसके योनि , स्तन और नितंबों का दर्शन करता l कपड़ा भी वह अपने भाई के सामने ही बदलती l एक बार तो घर में कोई नहीं था l सभी लोग दो तीन दिन के लिए बाहर गये थे l घर में केवल वो और उसका भाई था l

वह बाथरूम में नहाने गयी और पूरी नंगी होकर नहाने लगी l तभी उसे शरारत सूझी l वह झटके से बाथरूम का दरवाजा खोली और छिपकिली छिपकिली चिल्लाते हुए एकदम नंगी ही बाथरूम से बाहर भाग आयी और अपने भाई से वैसे नंगी ही लिपट गयी l उसके भाई ने भी अपनी नंगी बहन को दिलासा देते हुए उसे गले से लगा दिया और उसके बदन को सहलाने लगा l बहुत देर तक प्यार करने के बाद उसने होश में आने का नाटक किया और जाने लगी l दो कदम चल कर ही जानबुझकर गिर गयी और पैरों में चोट लगने का बहाना बनाते हुए रोने लगी l उसका भाई उसे वैसे ही नंगी गोद में उठाकर बिस्तर पर ले आया l

उसने आँखे बंद कर ली और भाई को बोली – ये जांघ के पास बहुत दर्द कर रहा है प्लीज सहला दो ना l भाई उसके जांघों को सहलाने लगा तो उसने हाथ से छुकर बताया कि यहां पेडु और जाँघों के बीच सहलाओ l भाई उसके पेट के नीचे पेड़ू के नीचे और जांघों के बीच सहलाने लगा l वहां योनि होती है तो भाई योनि को भी सहलाने लगा l उसने अपने पैरों को फैला लिया ताकि भाई उसकी योनि के अच्छे से सहला सके l फिर वो गहरी गहरी सांस लेने लगी l भाई घबड़ा गया तो वह अपने स्तनों को छूकर बोली – छाती दबाओ l तो बहन के स्तनों को दबाने लगा l तो उसने सांस लौट आने का नाटक किया बोली धीरे धीरे मुंह से चूसो l उसका भाई उसके स्तनों को मुंह में लेकर चूसने लगा और नीचे योनि को भी सहलाने लगा l वह बोली – हां अब थोड़ा ठीक लग रहा है l उसका भाई देर तक उसके योनि और स्तनों को सहलाने लगा l

देर तक सहलाने के बाद बोला – दीदी थोड़ा तेल लगा दूं क्या ? मैने कहा- हां लगा दो l भाई तेल गर्म करके ले आया और मेरे योनि के पास जांधों में लगाने लगा l मैने कहा – परदा लगा कर लाईट ऑफ कर दो l कमरे में अंधेरा कर दो , थोड़ा सोना चाहती हूँ l उसने पूरे कमरे में परदा करके कमरे में अंधेरा कर दिया l मैने कहा – तुम्हारे कपड़ों में तेल लग जाएगा l तुम अपने कपड़े खोल दो और तो ठीक से लगा पाओगे l उसने भी अपने पूरे कपड़े खोल दिये और वह भी बिल्कुल नंगा हो गया और मुझे तेल लगाने लगा l उसने मेरे पूरे शरीर में तेल लगाया l मैने उसे अपने शरीर से चिपका लिया और कहा कि तुम मेरा कितना सोना भाई है l आज तुम नहीं होता तो मेरा क्या होता ? देर ऐसे मेरे पास सोओ ना l अपने भाई को तो जी भरकर प्यार करने दो l फिर मैं उसके होठों को अपने होठों पर लेकर चूसने लगी l मेरे स्तन उसकी छाती से रगड़ खा रहे थे और मेरी योनि उसके लिंग से l

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

इसे भी पढ़ें   पहली बार करी हॉट गर्ल की चुदाई | Hot Girl First Time Sex Story

मैने देखा कि उसका लिंग फुफकारे मार रहा है l मैने भी मौका का फायदा उठाते हुए उसके पूरे शरीर को चूमने लगी और पलट कर अपना मुंह उसके पैरों के तरफ कर ली और उसका लिंग अपने मुंह में लेकर चूसने लगी l वह आह …. उह …. करने लगा …… उसे भी अच्छा लग रहा था l मैने अपना शरीर उसके उपर चढ़ा लिया और अपनी योनि उसके मुंह में डाल दी l वह भी मेरी योनि चूसने लगा l हम दोनों पूरे जोश में आ गये l वह अंदर तक मेरी योनि में जीभ घुसाकर चूस रहा था और मैने भी उसका पूरा लिंग अपने मुंह में ले चूस रही थी l

बहुत देर तक चूसते हुए हम कई बार झड़े l उसके बाद हम दोनों तृप्त हो गये l मैं उसके उपर से उतर गयी और उतर कर उसके बगल में लेट कर उसे प्यार करने लगी l बोली – पता नहीं था कि मेरा भाई अब जवान हो गया है l कोई लड़की उड़की पटाई है या नहीं ? उसने कहा – कहां दीदी , मुझे लड़कियों से बात करने से शर्म लगता है l मैने कहा – कोई बात नहीं आज मैं तुम्हारा शर्म खत्म कर दूंगी l कहते हुए मैं उसके लिंग को सहलाते हुए प्यार करने लगी l उसनें मुझसे पूछा – दीदी आपका कोई बॉय फ्रेंड है क्या ?

मैने कहा – अरे ! नहीं मेरी सभी सहेलियां अपने अपने भाई से ही चुदवाती है l कहती है कि बाहर किसी लड़के से चुदवाने से अच्छा है कि घर में भाई से ही चुदवाकर भाई को ही खुश रखो l फिर तो शादी के बाद चुदवाना ही है l पता नहीं बाहर वाला लड़का कैसा हो l कहीं चोदने के बाद मेरी गंदी फोटो इंटरनेट में डाल दे , मुझे ब्लैकमेल करने लगे तो मेरे भाई और बाप की कितनी बदनामी होगी l उनकी समाज में कितनी बेज्जती होगी होगी l वो तो शर्म से हमें जान से मार देगें या खुद आत्महत्या कर लेंगें l उससे अच्छा है कि घर में ही चुपचाप अपने अपने भाई से चुदवाओ l इससे घर की बात घर में ही रहेगी और भाई बहन के बीच प्यार भी बढ़ेगा l इसलिए मैने भी सोच लिया है कि शादी के पहले मैं केवल अपने राजा भैया से ही करवाऊँगी l क्यों मैं तुम्हें पसंद नही हूं क्या ?

इसे भी पढ़ें   जीजा साली की अन्तर्वासना की कहानी | Jija Sali Ki Antarvasna Sex Stories

उसने कहा – नहीं दीदी आप तो बहुत सुन्दर हो l फिर मैने उठकर लाईट जलाई और कहा कि – बैठो मैं तुम्हारे लिए चाय बनाकर लाती हूं l कहकर मैं वैसे ही नंगी किचन में चाय बनाने चली गयी l वह भी पीछे पीछे वैसे ही नंगा आ गया l हम बातें करने लगे l उसने पूछा – मेरे दोस्त एक दूसरे को बहनचोद गाली देते हैं l इसका मतलब क्या है ?

मैने समझाया कि पहले भाई बहनों में शादी होती थी l शादी के बाद संभोग ( चुदाई ) आदि भी होती थी , लेकिन अगर भाई बहनों में कोई जेनरेटिक बीमारी हुई तो बच्चे जो पैदा होते थे वो भी बच्चे में आ जाते थे इसलिए भाई बहनों के बीच शादी बंद हो गयी l चूंकि पहले तो कंडोम आदि नहीं थे तो चुदाई करने से बच्चे पैदा होना निश्तित था , इसलिए भाई बहन के बीच संभोग को बुरा कहकर प्रसारित किया गया कि यह बुरी चीज है और यह एक गाली बन गयी l लेकिन असल में सभी भाई अपनी ॉबहन को चोदना चाहते हैं l

लेकिन बहन कहीं गुस्सा ना हो जाए इस डर से नहीं बोलते हैं l सभी लोग बाथरूम की छेद से अपनी बहन को नंगी नहाते हुए चुपके से कभी ना कभी जरूर देखते हैं l कपड़े बदलते हुए अपनी बहन को चोर निगाहों से देखते हैं l तुम भी तो मुझे मेरी ब्रा पैंटी देते समय मुझे नंगी बड़े ध्यान से देखते थे l सुनकर वह शरमा गया l मैने उसके सिर पर हाथ फेर कर कहा – अरे ! कोई बात नहीं सभी भाई अपनी बहन को देखते हैं l लो अब जितना देखना है जी भर कर देखो l

इसका मतलब है कि हरेक भाई अपनी बहन को चोदना चाहता है l देखो अगर चुदाई करके बच्चे नहीं पैदा करनी है भाई बहन के बीच चुदाई में कोई दिक्कत नहीं है l जो अधिकतर लड़कियां शादी के पहले इतना चुदवाती है उसके योनि में क्या मोहर मारा जाता है कि दूसरे का लिंग घुसा है कि भाई का लिंग घुसा है ? इसलिए मेरी सभी सहेलियों का मत है कि अपने भाई से ही चुदवाना सबसे सही है l क्यों बाहर का झंझट और आफत मोल लिया जाय l आज मैं तुमको सब कुछ सिखा दूंगी l फिर मैने उसका लिंग पकड़कर चूम लिया और बोली – बाहर मुझे अपने राजा भैया से अच्छा लंड कहां मिलेगा जो मैं बाहर चुदवाऊंगी l

फिर मैं चाय बनाकर ले आयी और नंगे ही बैठ कर बातें करने लगे l हमने भाई बहन चुदाई की ढेरों बातें कि फिर अपनी योनि के बारे में भी सबकुछ बताया l कैसे संभोग करते हैं सब समझाया l फिर फिर मैने उसे अपनी योनि चूसने को कहा तो वह बिना कुछ बोले मेरी योनि चूसने लगा l मेरी योनि पूरा गीली हो गई थी l मैने उसके लिंग को मुंह में लेकर चूसकर कर खड़ा कर दिया l उसका लिंग लोहे की तरह कड़क और टाईट था l मैने उसके लिंंग को नारियल तेल से चुपड़ दिया और उसे मेरी योनि में घुसाने को कहा l वह हाथों से मेरी योनि को फैलाकर अपना लिंग उसमें घुसाने लगा l मुझे बहुत दर्द हो रहा था लेकिन मैं बर्दाश्त कर रही थी l वह मेरे स्तनों को चूस और मसल रहा था l मेरे न चाहते हुए भी चीख निकल ही जा रही थी l

इसे भी पढ़ें   पैसों के ख़ातिर बीवी को चुदवाया।

लेकिन मैने उसे पहले ही समझा दिया था कि मैं कितना भी चीखूं चिल्लाऊं तुम रूकना मत अपना काम करते रहना l पहली बार में इतना दर्द होता है l उसे मैने रूकने का इशारा किया l थोड़ा दर्द कम हुआ तो उसने जोरदार धक्का लगाया उसका मोटा और लम्बा आधा लिंग मेरी योनि के अंदर घुस गया था l मैं दर्द से बिलबिला उठी l थोड़ी देर मेरे स्तनों को चूसने के बाद फिर उसने जोरदार धक्का लगाया तो उसका पूरा लिंग मेरी योनि में समा गया l मेरी सील टूट गयी थी l मैं चीख उठी लेकिन वह लगातार धक्का मारता रहा l थोड़ी देर बाद मेरा दर्द कम हो गया और मुझे भी मजा आने लगा मैं अपने नितंबों को उछाल उछाल कर संभोग का मजा लेने लगी l जोश में मैं बड़बडाने लगी आह …. उह ….. भैया …. मजा आ रहा है … वाह मेेरे भाई ….. मेरा सोना भाई ….जोर जोर से करो …. आह …. उई मां ….. l लगातार आधा घंटा संभोग के दौरान मैं दो तीन बार झड़ी l

मैं पस्त हो गयी थी लेकिन वह रूकने का नाम नहीं ले रहा था बहुत देर बाद उसका गर्म गर्म लावा मेरी योनि के अंदर गिरने लगा और मेरी योनि को पिघलाने लगा l मैने संतुष्टी और चैन की सांस ली और अपने भाई को चूम लिया l बोली – अब तुम सही में बहनचोद हो गये अपनी बहन को चोदकर l कहकर हँसने लगी , वह भी हँसने लगा l सुबह मैं चल नहीं पा रही थी तो मेरे भाई ने गर्म पानी से मेरे योनि की सिकांई की l घर के लोग एक हफ्ते बाद आये तब तक हम दोनों ने जम कर खुब संभोग किया , साथ नहाया और खुब इंजोय किया l अब भाई मेरा गुलाम हो गया है और मुझे बहुत प्यार करता है l मैं अब कोई बाहर के लड़के की ओर देखती तक नहीं हूँ l

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment