पड़ोस की चाची की जमकर चुदाई की

Xxx चाची पोर्न कहानी में मैं जवान हुआ तो चूत की तलाश में रहने लगा. मेरे पड़ोस में एक बहुत ही खूबसूरत चाची रहती है, एक दिन मैंने उन्हें नंगी देख लिया.

नमस्कार दोस्तो, इस अन्तर्वासना साईट पर आपका स्वागत है।

मेरा नाम लक्ष्मण है और लोग मुझे प्यार से लकी कहकर बुलाते हैं।

मैं आज पहली बार अपनी सेक्स स्टोरी लिख रहा हूँ.
यह मेरे पहले सेक्स की कहानी है।
यदि Xxx चाची पोर्न कहानी में कोई गलती हो तो मुझे माफ कर दीजियेगा।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

दोस्तो, यह कहानी मेरी पड़ोस की चाची और मेरे बीच की है।
जब मैं 18 साल का हुआ तो मुझे मौका मिला कि मैं किसी की चूत चोद सकूं.

मेरे पड़ोस में एक बहुत ही खूबसूरत चाची रहती है जिनका नाम पूजा है।
उनका फिगर 28 – 30 – 32 का है.
चाची देखने में काफी सेक्सी लगती हैं।

उनकी शादी कुछ साल पहले ही हुई थी.
लेकिन अभी तक एक भी बच्चा नहीं हुआ था जिससे उनका फिगर और भी सेक्सी लगता है।

हम उनकी शादी के कुछ समय बाद से ही अच्छे दोस्त की तरह रहने लगे थे।

लेकिन मैंने कभी भी उन्हें इस नजर से नहीं देखा था।

एक दिन जब मैं उनके पास कुछ बातचीत करने गया तो वे आंगन में ही नहा रही थी।

मैंने जब उन्हें देखा तो वे भी अचानक से मुझे देख कर घबरा गई जिसकी वजह से उनके हाथ से उनका साया छुट गया.
लेकिन फिर जल्दी से दूसरे कपड़े से उन्होंने अपना नंगा बदन ढक लिया.

किंतु इतनी ही देर में मैंने सब कुछ देख लिया था जिसकी वजह से मेरा लंड बिल्कुल तन गया।

उन्होंने दूसरे कपड़े से अपने कपड़े उठाये औए मुझे कुछ समय इंतजार करने के लिए बोल और कर अंदर कपड़े बदलने वहाँ से जाने लगी।
कपड़े से आगे का भाग तो ढक गया था लेकिन पीछे का नंगा बदन और गांड बिल्कुल साफ दिखाई दे रही थी, जिसे देखकर ऐसा लग रहा था कि चाचा ने गांड की तरफ देखा भी नहीं होगा।

इसे भी पढ़ें   कॉलेज डायरेक्टर को अपना शुगर डैडी बनाया

कुछ देर बाद चाची अपने कपड़े पहनकर और शृंगार करके आ गयी।

अब उनको देखकर उनके साथ सेक्स करने का मन करने लगा किन्तु मैंने अपने आप पर कंट्रोल करके यह पूछा कि वे बाहर क्यों नहा रही थी.
तो उन्होंने बताया कि उनके बाथरूम में पानी नहीं आ रहा है।

फिर मैं कुछ यहाँ वहाँ की बातें करके वहाँ से चला गया।

उस रात को मैंने उनकी नाम की 3 से 4 बार मुठ मारी और यह सोचा कि कल चाची को सब बता दूँगा।

अगली सुबह चाचा के काम पर जाते ही मैं चाची के पास गया और बता दिया कि जब से मैंने आपको नंगा देख है, तब से आपके नाम की 5 – 6 बार मुठ मार चुका हूँ … और मुझे आपको …
इतना बोलते ही वे बोली- आपको क्या?

अब मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि मैं क्या बोलूं.
तो मैंने उनको एक जोरदार किस किया और चाची खुद को मेरी गिरफ्त से छुड़वाने लगी.
पर मैं उनको नहीं छोड़ रहा था।

करीब 5 मिनट के बाद मैंने छोड़ा तो अब चाची ने मुझे अपनी ओर खींचकर एक जोरदार किस कर लिया।
अब मुझे भी समझ में आ गया कि चाची भी प्यासी हैं, उन्हें भी लण्ड की जरूरत है।

फिर चाची ने बताया- तुम्हारे चाचा नामर्द हैं। उनके लण्ड से जितना दर्द नहीं होता है उससे ज्यादा दर्द से अंगुली से हो जाता है।

अब मुझे मौका मिला कि मैं किसी से साथ सेक्स कर सकूँ।
मैं नहीं चाहता था कि यह मौका मेरे हाथ से चला जाए.
इसलिए मैं चाची के कपड़े जल्दी जल्दी उतारने लगा और चाची ने मेरे कपड़े उतारने शुरू कर दिए।

कुछ ही समय में हम दोनों एक दूसरे के सामने बिल्कुल नंगे खड़े थे.
मेरा लण्ड बिल्कुल तनकर उनके सामने था।

मेरे लण्ड को तना देखकर उनकी ख़ुशी इतनी बढ़ गई कि उन्होंने जल्दी से मेरे लण्ड को अपने मुख में ले लिया और मेरा लण्ड चूसने लगी।

इसे भी पढ़ें   मेरी अम्मी और मेरे 2 रूममेट्स - 1 | mom ki chudai ki kahani 

कुछ 5 मिनट बाद उन्होंने अपने मुख से लण्ड निकाला और मेरा लण्ड पकड़ कर अपने कमरे में ले गई और इंची टेप लेकर मेरा लण्ड नापने लगी.
चाची ने लंड नापकर बताया कि मेरा लण्ड 7.5 इंच का है।

और फिर इंची टेप बगल में रखकर फिर से मेरा लण्ड चूसने लगी.

करीब 10 मिनट तक चाची मेरा लंड चूसती रही और उसके बाद मैं उनके मुंह में ही झर गया।
वे मेरे वीर्य को पी गई और लण्ड को चाटकर बिल्कुल साफ कर दिया।

अब मेरा लण्ड थोड़ा ढीला होने लगा था.

तभी चाची ने अपने पेटी से 1 मैनफोर्स की गोली निकाली और किचन से जाकर दूध ले आई और मुझे वह गोली खिला दी.

और इसके तुरंत बाद ही उन्होंने अपने बूब्स को मेरे मुख में लगा दिया.

2 – 3 मिनट तक मैंने उनके बूब्स को चूसा, तब तक मेरा लण्ड फिर से तन कर खड़ा था।

अब चाची ने बोला- मेरी चूत को चाटो!
तो मैंने मना कर दिया क्योंकि मुझे यह काम सही नहीं लगा।

मैंने देरी न करते हुए अपनी चाची को बेड पर लिटाया और अपने लण्ड का सुपारा उनकी चूत के छेद पर रखा और कुछ रगड़ने के बाद एक जोरदार धक्का दिया.
और साथ ही मैं चाची के होंठों पर एक जोरदार किस करने लगा जिससे चाची छटपटा कर रह गई लेकिन चिल्ला न पाई।

फिर जब उनका दर्द कम हुआ तो मैंने चाची से पूछा- और अंदर कर दूँ … अभी आधा बाकी है!
तो उन्होंने बोला- धीरे से डालो, मेरी चूत फट गई है।

पर मैंने उनकी एक न सुनी, मैंने अपने लण्ड को थोड़ा आगे पीछे किया, फिर एक जोरदार धक्का दिया और चाची को फिर तेजी से लिपकिस करने लगा.
तब चाची रो तो नहीं पाई लेकिन उनके आँखों से आँसू काफी तेजी से बहने लगा।

कुछ देर बाद उन्होंने बोला- अब ठीक है, अब सेक्स करना शुरू करो.
तो मैंने शुरू करने से पहले अपने लण्ड को देखा तो मैंने पाया कि मेरा लण्ड पूरा खून से सना हुआ है.
पर मैंने इसके बारे में पोर्न चाची को नहीं बताया और उनकी चुदाई करना शुरू किया.

इसे भी पढ़ें   लॉकडाउन में चूत का अकाल

काफी देर तक मैं उनको चोदता रहा और उनके चूत में ही झर गया.
इस बीच मेरी Xxx चाची भी झर चुकी थी।

फिर मैंने चाची की निप्पल को अपने मुख में लिया और चूसने लगा.
और इस क्रम में मैंने चाची की दोनों बूब्स पर दांतों के 4-5 निशान काटकर बना दिया थे।

अब मेरा लण्ड फिर से तनकर चुदाई करने के लिए तैयार था।
अबकी बार मैंने उनकी गांड की जमकर चुदाई की और मैं फिर से झरने वाला था तो चाची की चूत में अपना लण्ड डालकर चोदने लगा.

एक बार फिर मैंने चाची की चूत में अपना सारा माल गिरा दिया.
तब हम दोनों ने किस करके कपड़े पहने, फिर किस किया.

उसके बाद चाची ने बताया कि आज वे प्रेग्नेंट हो सकती हैं क्योकि उनका प्रेग्नेंसी समय चल रहा है।

आपको क्या लगता है दोस्तो?
क्या चाची अब प्रेग्नेंट हो जायेगी?

और जब मैं चाची के कमरे से निकलूंगा तो क्या कोई मेरे उपर शक करेगा?
और यदि की शक करेगा तो मैं बचने के लिए क्या करूँगा?

आप लोग कंमेंट में इसका जवाब जरूर देना.
और जाते जाते इतना जरूर बता देना क्या आपको यह Xxx चाची पोर्न कहानी पढ़कर आपके लण्ड या बुर से पानी गिरा?

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment