शादी के दिन दो बहनो की एक साथ चुदाई करी | Desi Village Chut Chudai Ka Maja liya

Desi Village Chut Chudai Ka Maja liya, जब मैं एक गाँव में शादी में गया था, तो मैं देसी विलेज चूत का मजा लिया। वहां मैंने दो लड़कियों को चोदा। एक व्यक्ति खाई खेल रहा था, जबकि दूसरा व्यक्ति कुंवारी था और हमारी चुदाई देखकर गर्म हो गया था।

प्रिय, मैं अपनी दीदी की ननद की शादी में उनके गांव गया था।
उनके कई मित्र वहां उपस्थित थे।

उसकी अंकल आंटी और दो बेटियां, स्वर्ग की अप्सरा की तरह, उनके साथ आए थे।
चीटियां उन दोनों को देखकर मेरे लंड पर रेंगने लगीं।

जब भी मैं उन दोनों की ओर देखता, मैं सोचता कि काश एक बार तरन्नुम आ जाए और इनको चोद दे।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

अगर ये अभी सपना जैसा था, तो होने को कौन रोका सकता है? वहाँ मुझे देसी विलेज चूत में मज़ा आया।

Xxx Village Sex Stories

शादी का एक दिन बचा हुआ था, तो हर कोई सामान सजाने में लग गया था।
सब लोग अपना काम करने में व्यस्त थे।

मैं भी सारा दिन काम करके थक गया था, इसलिए नहा कर छत पर चला गया, पंखा लगाकर एक कमरे में सोने के लिए बिस्तर पर लेट गया और मोबाइल चलाने लगा।
मैं सोने की तैयारी करने लगा था, लेकिन गर्मी से मेरा लंड पसीना आ रहा था, इसलिए मैं हाथ डालकर उसे पौंछ रहा था।

शादी के दिन दो बहनो की एक साथ चुदाई करी | Desi Village Chut Chudai Ka Maja liya

मैं बिंदास अपने लौड़े को हिलाकर उससे मज़ा ले रहा था क्योंकि कमरे में कोई और नहीं था।

जब मैंने लौड़े को हाथ में लिया, तो दोनों लौंडियां दिमाग की मां को चोदने लगीं और लौड़ा फन उठाना शुरू कर दिया।

उन्हीं दोनों की कातिल जवानी और उनकी मस्त चूचियों की याद में मेरा लंड बहुत सख्त हो गया।

मैं सोने का नाटक करने लगा और अचानक दरवाज़े पर आवाज़ आई।

रात को बहुत गहरा गया था।
वह शादी का घर था, इसलिए सब नीचे सो रहे थे।
वरना आदमी इतनी रात में सो जाएगा।

मैं अभी भी खड़ा था।
छोटी वाली अप्सरा कुछ देर बाद कमरे में आ गई।
उस समय कमरे में मैं अकेला था।

तुम सो गए हो क्या? वह मुझे देखकर पूछा।
मैंने कोई उत्तर नहीं दिया।

उसने प्रकाश जला दिया।
वह मेरे लंड को हरत से देखने लगी।
लौड़े की पहाड़ी खड़ी थी, भले ही लंड पजामे में था।

मैं उसे अपनी कनखियों से देख रहा था।

उसने मेरे लौड़े को देखने के बाद लाइट बंद कर दी।
इसके बाद वह चली गई।

वह पड़ोस की लड़की को बाहर से लेकर कमरे में वापस आ गई, हालांकि मैंने सोचा कि शायद वह शर्मा गई होगी।

Devi Village Sex Story

इस लड़की की गांड बहुत बड़ी थी और साली की चूचियां बहुत सुंदर थीं।
वह उसे लेकर कमरे में आई, तो मैं सोते हुए उसे देखने लगा, क्या आज मेरा सपना पूरा हो जाएगा?
ठीक उसी समय, बड़ी गांड वाली लड़की ने मोबाइल की लाइट से मेरे खड़े लंड को देखा।

इसे भी पढ़ें   Hot Punjabi Teen Girl – चाचा मेरी चूत में ऊँगली घुसा कर पेलने लगे

मिनटों में ही वह मेरे लंड की तस्वीर लेने लगी।
मैं तुरंत उठा और पूछा-ये क्या कर रहे हो? डाउनलोड करें तुरंत!

मैं उसके फोन की ओर भाग गया।
वह हंसते हुए भागने की कोशिश करती थी, लेकिन मैंने उसे गोद में कसके पकड़कर बेड पर ले गया।
मैं उसके पलंग पर उसे पटककर उसके ऊपर चढ़ गया।

उसके होंठों के पास मेरा मुँह था।
मैंने कहा: फोन करें!
नहीं दूंगी, वह कहती थी।

मैं उसकी गर्म सांसें महसूस कर रहा था।
वह उसकी चूत पर तन कर देख रहा था, जब मेरा लंड और टाइट हो गया।
मेरा भी हाल बुरा था।

मैंने उसके होंठों को काटना शुरू किया।
वह अब ऊह करने लगी।

मैंने तुरंत उसकी बुर में उंगली डाल दी और उसके लोवर में हाथ डाल दिया।
वह तुरंत चिहुंक गई और एक मादक आह निकाली।

मैं उसकी बुर में उंगली डालने लगा।
उसका पूरा शरीर ढीला था।

मैंने अपना मूसल जैसा लंड उसकी बुर पर रखा और उसका लोवर नीचे सरका दिया।

वह लौड़े को महसूस करते हुए अपनी कमर मटकाने लगी।
धीरे-धीरे मैंने अपने लंड को उसकी चूत के छेद पर सैट किया।

उसकी चूत बहुत गीली हो गई थी।
वह चुदने को मचलने लगी थी और अपनी कमर बार-बार उठा कर लंड को अंदर लेने की कोशिश कर रही थी।

मैंने धीरे-धीरे झटका दिया। जब उसका छेद खुला, आधा लंड उसकी बुर में घुस गया।
उसके मुँह से एक आह निकली।

मैंने उसके होंठों को काटना शुरू कर दिया ताकि वह अधिक आह नहीं कर पाए।
मैंने उसे कसकर पकड़ लिया और एक जोरदार झटका मार दिया।
उसकी बुर मेरे पूरे लंड से भर गई।

Hot Village Girl Sex Story

वह रोने लगी और मुझसे भागने की कोशिश करने लगी।
लेकिन वह न तो मुझसे छूट पा रही थी और न ही कोई आवाज निकाल पा रही थी।

उसकी चूत में अपना पूरा लंड डालने के बाद, मैं सिर्फ रुका रहा और उसके मुँह को मुँह से चूमता रहा।

वह शांत हो गई जब मैंने उसके हाथ से अपना हाथ हटा लिया।
मैं हिल नहीं रहा था क्योंकि लंड अभी भी मेरी चूत में था।

शादी के दिन दो बहनो की एक साथ चुदाई करी | Desi Village Chut Chudai Ka Maja liya

उसके ऊपर लेटे हुए मैंने उसकी टी-शर्ट उतारी और उसकी चूचियों को काटना शुरू किया।
वह खुश हो गई और मुझसे अपनी चूचियों को चुसवाने लगी; वह इसी तरह अपनी गांड मटकाने लगी।

मैंने सोचा कि मैं चुदाई शुरू कर देना चाहिए क्योंकि अब इसके चूल्हे में आग सुलगने लगी है।
इसलिए मैं निराश हो गया।

वह कुछ बीस मिनट की चुदाई के बाद पूरी तरह से थक गई।
शायद वह गिर गई थी।

मैंने भी अपने माल से उसकी पूरी बुर भर दी और टॉवल से लंड पौंछकर उठ गया।

उसने लोवर ऊपर करके अपनी चूत भी साफ की और चली गई।

शादी समाप्त हो गई।
हर कोई वापस जाने लगा।

मेरी ट्रेन एक दिन बाद आने से मुझे रुकना पड़ा।
सुबह में अप्सराओं की ट्रेन भी चलती थी।

इसे भी पढ़ें   साले की बीवी और बेटी को चोदा। Hindi Free Sex Kahaniya

शाम को सभी लोगों के जाने के बाद घर पूरी तरह खाली हो गया था, इसलिए मैं अकेले कमरे में बैठकर टीवी देख रहा था।

ठीक उसी समय, कमरे में वही छोटी वाली अप्सरा आई और मुझे देखकर शर्माने लगी।

जब मैंने उसे बुलाया, तो वह भागने की कोशिश करने लगी।

मैंने कहा: सुनो, जरा इधर आओ!
नहीं, मैं नहीं आऊंगी, उसने कहा।

मैंने कहा, “सुनो न, मैं तुमसे एक काम करना चाहता हूँ।”
क्या काम है? वह मुस्कुराई।

मैंने पूछा कि आप हंस क्यों रहे हैं?
कुछ नहीं, उसने कहा..। इसी तरह!

मैंने पूछा, तुम हंस क्यों रहे हो?
मैंने देखा जो तुमने उसके साथ किया, वह सर को नीचे करके कहा।

पहले मुझे डर लगा कि साला कुछ गलत करे।
लेकिन उसके भाव को देखकर मुझे पूरा भरोसा हुआ कि आज भी ये चुदे बिना नहीं मानेगी।

मैंने कहा कि उन्होंने देखा किसी को नहीं बताया है।
नहीं, वह कहती थी।

Village Ki Chudai Kahani

मैंने कहा कि वह चित्र डिलीट कर दें!
कौन सी तस्वीर, वह पूछा?

मैंने कहा, “मेरे लंड की फोटो”, क्योंकि मैं खुला रहना चाहता था।
वह हंसकर कहा कि वह उसी के फोन में है।

मैंने कहा कि फोन दिखाओ।
मेरे पास आकर वह फोन मुझे दे दी।
जब मेरी हिम्मत बढ़ गई, मैंने उसकी कलाई पकड़ी और पूछा-बैठो, डर क्यों हो?

बैठ गई।
फिंगर प्रिंट वाला फोन लॉक लगा हुआ था।

मैंने कहा, “उंगली डालो।”
किधर? वह क्रोधित होकर पूछा।
मुस्कुराकर मैंने कहा कि फोन खोलो।

उसने फोन उठाया।

मैं झूठ बोलकर फोन उठाने लगा और पूछा, क्या आपका कोई प्रेमी है?
नहीं, वह कहती थी।

मैंने कहा कि वह कल की घटना को पूरी तरह से देखा था!

शादी के दिन दो बहनो की एक साथ चुदाई करी | Desi Village Chut Chudai Ka Maja liya


हां, उसने शर्माकर कहा।

तुम्हारा भी गीला हो गया था न, मैंने कहा और उसकी जांघ पर हाथ रखा।
वह कुछ नहीं कहती थी।

मैंने लोवर के ऊपर से ही उसकी बुर पर हाथ रखकर पूछा: क्या अभी भी गीला है?
बिना विरोध किए, वह स… स्सी… करने लगी और अपनी सांस को अंदर की तरफ खींचने लगी।

उसकी बुर भी गीली थी। पानी ऊपर गया।

मैंने अपना हाथ उसकी चूत पर डाल दिया।

आआहह… छेद में कोई बाल नहीं था।
साली मक्खन की तरह नरम चूत थी; उसकी गीली बुर पर मेरी उंगली फिसल रही थी।

मैंने उसकी चूचियों को दबाना और किस करना शुरू कर दिया।
उसकी चूचियाँ छोटी थीं।

फिर टी-शर्ट उतारकर उसकी एक चूची को अपने मुँह में डाल दिया।
वह अपनी आंखें बंद करके आह आह करती रही। उसके गुप्तांग से लगातार पानी निकल रहा था।

वह पूरी तरह कुंवारी माल थी जब मैंने उसकी बुर में उंगली डालने की कोशिश की।
उई नहीं करो, वह चिल्लाने लगी। दर्द है।

मैंने पूरा लोवर खोला।
उसकी बुर इतनी ज्यादा कसी क्यों हुई?

मैं सिर्फ इसकी चूत को खाना चाहता था।
मैं भी अपना लोवर खोला और उसकी बुर पर किस किया।

इसे भी पढ़ें   पापा के दोस्त का लंड बड़ा ही मोटा था

Two Village Sister Sex Story

उसे अच्छे से लेटा कर उसके होंठों को चूसना और चूचियों में मुँह लगाना शुरू कर दिया।
मैं भी उसके ऊपर चढ़ गया और मुझसे अपने शरीर को रगड़ने लगी।

धीरे-धीरे मैंने उसके मुँह को अपने होंठों से पूरी तरह बंद कर दिया और अपने लंड को उसकी देसी विलेज चूत के द्वार पर रख दिया।
मैंने उसे एक जोर से धक्का देकर कुछ समझाया।

उसकी बुर मेरे पूरे लंड से भर गई।
वह बेहोश हो गई।

मैं उसकी बुर में पूरा लंड डालकर थोड़ी देर रुक गया और उसके मम्मों को सहलाने लगा।

वह हाँफती हुई बोली, “आंह…” जब मैंने उसके होंठों को धीरे-धीरे छोड़ दिया। बाहर निकालो..। मैं मर जाऊँगा..। आह, बहुत दर्द है।

मैंने उसे बताया कि बस रुक जाओ, अब दर्द नहीं होगा और तुम बस खुश हो जाओगे।

मैंने इन सब चीजों को करते हुए लंड को आगे पीछे करना शुरू कर दिया।

धीरे-धीरे दर्द मज़ा में बदल गया।
वह भी शांत हो गई और सेक्स करने लगी।

शादी के दिन दो बहनो की एक साथ चुदाई करी | Desi Village Chut Chudai Ka Maja liya

तभी मैंने देखा कि पूरी चादर खून से भीगी हुई थी।

मैंने उसे बताए बिना चुदाई की।
इतनी जल्दी वह फिर से गिर गई होगी।

मैंने भी कुछ देर बाद उसकी चूत में पूरा माल छोड़ दिया।
लंड उसकी बुर में थोड़ी देर तक रहा, फिर सिकुड़ कर बाहर आ गया।
मैं सिर्फ उसके ऊपर लेटा रहा।

Village Girl Antarvasna Sex Story In Hindi

चलो, कोई आ जाएगा, वह बोली।
वह उठकर खड़ी हो गई जब मैंने उसे हटाया।
बिस्तर पर खून देखकर उसे भय हुआ।

मैंने बहुत स्पष्ट किया कि कोई घटना नहीं हुई..। आप चले जाओ। मैं सब कुछ ठीक करूँगा।

मेरे नीचे दर्द हो रहा है, वह कहती थी।
मैंने कहा कि हां, यह पहली बार है। सब ठीक होगा। मुझे अपना नंबर देना।

वह ओके कहकर चली गई।
मैं बाथरूम में चादर ले गया और उसे धोकर सूखने के लिए डाल दिया।
मैं सो गया था।

सुबह वह संख्या देकर चली गई।
अब उसकी बड़ी बहन को भी चोदने की इच्छा है, देखो कब चोदने मिलेगी।

प्लीज मुझे बताएं कि आपको मेरी Desi Village Chut Chudai Ka Maja liya कैसी लगी।

Read More Story…

Ghar Ka Maal Hindi Chudai 1 | Desi Sexy Chut Chudai

बहन को भाई ने सेक्स के लिए पटाया | Porn Bahan Sex Story

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment