भाभी ने कुंवारे लंड का सुपाड़ा खोला

मेरा नाम प्रिया है मेरी उम्र 38 साल है। एक बच्चे की माँ हूँ। मुझे सेक्स कहानियां पढ़ना बहुत ही अच्छा लगता है। मैं इन्स्ताग्राम पर रील वीडियो बनाती थी पर अब 4 दिन पहले मेरा अकाउंट ब्लाक हो गया है तो कोई काम नहीं रहा। Hot Bhabhi Fuck Kahani

हॉट हॉट वीडियो बनाती थी और सब का मनोरंजन करती थी। और कमेंट पर ही खुश हो जाती थी पर तीन दिन कैसे बीता मेरा मै ही जानती हूँ। मैं रोजाना रात में देर ही सोती थी। पर टेंशन की वजह से नींद नहीं आ रही थी। इतने फोल्लोवर थे मेरे सब के सब ख़तम हो गए।

रात को नींद गायब थी। पति किसी काम से दूसरे शहर गए हुए है। आज तक वो भी मुझे संतुष्ट नहीं किया चाहे अपनी ज़िंदगी में चाहे सेक्स में तो ऐसे ही आजतक भटक रही थी। कल की बात है मैं व्हाट्सएप्प पर सभी का प्रोफाइल पिक देख रही थी।

फिर स्टेटस देखने लगी एक लड़का है राजीव जो मेरे ऊपर के फ्लोर पर रहता है। वो भी वीडियो बनता था। वो ऑनलाइन थे रात के ढाई बज रहे थे। तो मैंने उसको हेलो भेज दिया। उसने भी हेलो भेजा। उसने बोला कुछ नहीं आंटी बस नींद नहीं आ रही थी। इसलिए बस इधर से उधर मोबाइल छेड़ रहा हूँ। अपने पुराने वीडियो देख रहा हूँ जो मैंने बनाई थे।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

और आपका भी एक वीडियो देख रहा हूँ वो मैंने सेव कर के रखे थे। वो जो आप साडी की पल्लू सरक जाती है और आप फिर शर्मा कर ब्लाउज को ढकते हो और फिर आँख मारते हो. उसमे कमाल लग रहे हो। मैं समझ गई वो क्या कह रहा था एक मेरा वीडियो थोड़ा सेक्सी था जो खूब चला था। उसी के बारे में बात कर रहा था।

इसे भी पढ़ें   जोश में आकर अपने ही सगे भाई से चुद गई | Xxx Bahan Chudai

मैंने कहा फिर क्या कर रहा है उस वीडियो को देखकर। मैं मजाक कर बैठी। उसने कहा सोच तो रहा हु कुछ कर लूँ। तभी आपका मेसेज आ गया। मैं समझ गई वो भी मूठ मारता। मैं ऐसे ही परेशां थी और चार महीने हो गए थे पति को कहते की मुझे खुश करो मुझे खुश करो। ये कहानी आप Free Sex Kahani पर पढ़ रहे है.

पर उसका लौड़ा ही खड़ा नहीं होता है तो वो दूर ही भागता है मेरे से। और मेरी जवानी अभी भी गर्म है। मस्त माल अभी तक हूँ। किसी से कम यही हूँ चाहे मेरी चूत हो या मेरी गांड या मेरी चूचियां सब अभी भी जवान है। उसके घर में मम्मी पापा और वो है। अकेले सोता है।

तो मैंने उसको मेसेज किया की आ जाओ दरवाजा खोल देती हूँ। तो उसने कहा आपकी बेटी जगी तो नहीं है तो मैं बोल दी वो सुबह नौ बजे ही उठेगी। और उसको भी पता था मेरे पति नहीं है घर पर। तो मैं बोली एक काम करना तुम अपने मम्मी पापा के बैडरूम को बाहर से लॉक कर दो और दरवाजा आराम से खोलकर आ जाओ।

और बाहर का दरवाजा भी सटा देना। मैं खोलती हु अपना गेट। वो बोला ठीक है। मैं उठी और में गेट खोली और एक मिनट तक खड़ी रही तभी वो आ गया. मैं उसको अंदर की और दरवाजा बंद कर दी। दूसरे कमरे में ले गई और दरवाजा बंद कर लाइट जला दी।

उसको निहारने लगी वो भी निहारने लगा। तभी तो बोला किसी को पता तो नहीं चलेगा। तो मैं बोली किसी को कुछ भी नहीं पता चलेगा सिर्फ तुम किसी से ये बात शेयर मत करना। और मैं बैठ गई और उसका शॉर्ट्स निचे कर दी और जांघिया भी।

इसे भी पढ़ें   चूत हमारी देसी, चोद गया पडोसी

उसका गोरे लंड का सुपाड़ा बड़ी मुश्किल से खुल रहा था। लड़का वर्जिन था। मैं पूछ ली थी उसने इसके पहले कभी चुदाई नहीं किया था। मैं मुँह में ली तैसे ही वो सिहर गया। शायद उसके साथ ये पहली बार हुआ था किसी ने उसके लंड को मुँह में लिया हो.

फिर क्या था मैं तो और भी गरम हो गई नया नया लड़का और नया लंड। चूसने लगी वो मेरी बाल पकड़ पर अपने लंड में सटा रहा था। उसकी सिसकारियां निकल रही थी। फिर मैं उठी और अपना नाईटी खोल दी पहले से ही ब्रा नहीं पहनी थी पेंटी भी उतार दी उसने भी अपना बनियान उतार दिया।

अब मैं उसको बेड पर जाने को बोली। हम दोनों बेड पर पहुंच गए। वो मेरी चूचियों को पीने लगे. मैं भी उसको पिलाने लगी। फिर वो मुझे किस करने लगा। पर वो नादान था आ नहीं रहा था। ऐसा लग रहा था वो मुझे दुलार कर रहा है। फिर मैं उसको बताई चुदाई के पहले किस कैसे करते हैं।

मैं उसको होठ को चूसने लगी। वो फिर मैं अपना जीभ उसके मुँह में दे दी। फिर मैं उसको बोली मेरी जीभ को हलके से चुसो वो ऐसा ही करने लगा फिर उसको बोली अब तुम ऐसे ही जीभ मेरे अंदर दो। अब वो चूमने में एक्सपर्ट हो गया था।

फिर मैं अपना पैर फैला दी। और अपनी चूत चाटने के लिए बोली। पहले तो वो मेरी चूत को अच्छे खोलकर देखा। फिर उसने चूमना शुरू कर दिया मैं अपनी चूत से गरम गर्म पानी निकाल रहा था। वो उस पानी को चाट रहा था कह रहा था नमकीन लग रहा था। ये कहानी आप Free Sex Kahani पर पढ़ रहे है.

मैं आग बन गई थी अंगड़ाईयाँ ले रही थी। उसका लंड बड़ा हो गया था। लंबा हो गया था। मेरी चूत बहोत ज्यादा पानी पानी हो गया था। सिसकारियां ले रही थी। दोस्तों फिर क्या था मैं उसके अपने ऊपर खींच ली और अपना पैर उसके चारों तरफ लपेट ली। और उसका लंड पकड़ कर अपनी चूत में ले ली। आहा आह आह आह आह ओह्ह्ह की आवाज मेरे मुँह निकलने लगी। वो जोर जोर से धक्के देने लगा और निचे से धक्के देने लगी. मजा आ गया था जवान लंड से चुदने पर। जोर जोर से चुदाई शुरू हो गई थी।

इसे भी पढ़ें   मम्मी ने मौसी की चूत का भोसड़ा बनवाया

वो चूचियों को दबाता हुआ मेरी चूत में लंड देते जा रहा था। मैं खुद ही उसको चूस रही थी कभी उसके गले को कभी होठ को कभी छाती सहलाती कभी उसका गांड सहलाती। फिर मैं घोड़ी बन गई और फिर वो मुझे पीछे से चोदा। फिर मैं उसको निचे की और मैं ऊपर चढ़ गई। फिर चुदवाई करीब एक घंटे तक मैं उससे चुदवाई। फिर वो झड़ गया करीब चार बज गए थे। तो मैं बोली जा जल्दी अपने घर वो फिर अपने घर चला गया। आज दिन में मुझे दिखाई दिया एक बार बस मुस्कुरा दिया था। आज देखिये क्या होता है फिर से अगर मेसेज भेजा तो फिर बुलाऊंगी

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment