अम्मी की गैर मर्दों के साथ चुदाई | Mom Xxx Hot Sexy Kahani

मेरी Mom Xxx Hot Sexy Kahani इस चुदाई कहानी में दिखाई देती है। ये सेक्स कहानी है। मेरे पति और बेटे ने मेरी माँ की चूत चुदाई की।

दोस्तो, मेरा नाम इकरार खान है और मैं अब एक युवा हूँ। मैं पढ़ते समय ये कहानी शुरू होती है।

इस चुदाई कहानी में मेरी अम्मी की अन्य पुरुषों के साथ चुदाई का रस है। ये Mom Xxx Hot Sexy Kahani एक वास्तविक घटना पर आधारित है।

Mom Hot Xxx Kahani

मैंने सोचा कि मेरी अम्मी एक पतिव्रत महिला हैं, जो अभी 41 साल की है। किन्तु उनके शरीर को देखकर कोई नहीं कह सकता था कि वे ३० वर्ष से अधिक की नहीं हैं।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

मेरे अब्बू एक कंपनी में काम करते थे, जिसमें उनका वेतन बहुत कम था। शाम को अक्सर देसी अब्बू दारू पीकर आते, अम्मी से पैसे लेकर लड़ते, खाना खाते और सो जाते।

अम्मी की गैर मर्दों के साथ चुदाई | Mom Xxx Hot Sexy Kahani

शकील उस समय मेरी बुआ का लड़का था। वह एक टैक्सी चालक था। उनका घर हमारे शहर की एक कॉलोनी में बन गया था। अपनी माँ अब्बू के साथ वह रहता था। वह इस शहर में आने से पहले से ही हमारे घर में रहता था, इसलिए शकील अक्सर मेरे घर आता था।

उसके अब्बू, यानी मेरे फूफा जी, पहले सरकारी कर्मचारी थे, लेकिन अब रिटायर हो चुके हैं। उनका घर इसी शहर में था। जिसमें वे शकील और बीमार बीवी के साथ रहे।

फूफा जी भी बार-बार आते रहते थे। जब भी फूफा जी घर आते, अम्मी अब्बू उनके लिए खूबसूरत खाना बनाती थीं। क्योंकि वह धन के मामले में हमें बहुत कुछ देते थे। फूफा लगभग पाँच साल का था और शकील लगभग दो साल का था। वह एक बहुत ही खतरनाक आदमी था।

मेरी अम्मी के कमरे में शकील हर बार सोता था। मेरी छोटी बहन और मैं अम्मी के कमरे में अलग-अलग चारपाई पर सोते थे। क्योंकि शकील बचपन से यहीं रहता था..। उसकी अम्मी के साथ लेटने की बात मुझे इसलिए अजीब नहीं लगी।

ठंड के कारण वह अक्सर अम्मी की रजाई में लेट जाता था और हंसी मजाक करता रहता था। फूफा जी हर बार अम्मी के कमरे के पास एक अलग कमरे में सोते थे।

Abby हमेशा बाहर बरामदे में सोता था, जो खुला था। बाद में मुझे पता चला कि अम्मी अब्बू के साथ नहीं सोती थीं। अम्मी को देसी दारू पसंद नहीं था।

पहले मुझे ये सब नॉर्मल लगता था, लेकिन उम्र बढ़ने के साथ साथ मुझे अब धीरे-धीरे इसमें संदेह होने लगा। शकील और अम्मी अक्सर फुसफुसा कर बातें करते थे जब हम बाहर होते थे।

यह समझने के बाद से मुझे यह बहुत अजीब लगने लगा. मैंने सोचा कि यह कुछ अलग है। इसलिए मैंने उनकी बातों को सुनने की कोशिश की।

मैं अम्मी के फोन में वॉइस रिकॉर्डिंग लगाकर ऑन कर देता था जब भी वे साथ बैठते थे।

ऐसे ही एक दिन, मैंने उनकी बातों को रिकॉर्ड किया और बाद में सुनकर हैरान रह गया।

शकील, क्या कर रहे हो? अम्मी ने कहा। छोड़ो, कोई देखेगा। मुझे जांघों में दर्द है।

अर्थात् शकील ने रजाई से अपना हाथ अम्मी की जांघों में घुमाया। अम्मी बार-बार उसे पकड़कर कहती थी कि मान जाओ बेटा, हाथ निकालो।

शकील ने दूसरी आवाज दी। उसने अपनी माँ को कहा, “आज तो आपको देनी ही पड़ेगी।”
अम्मी, कमर में दर्द नहीं है।
उसने कमर दर्द का बहाना बनाया।

Mami Ki Chudai Kahani

Ammi Ki Chudai Ammi Ki Chudai: शकील ने कहा, तुम्हारी कमर का उपचार मेरे पास है। आज मैं कमर का भी उपचार करूँगा।

इसे भी पढ़ें   मेरी कुंवारी बहेन प्रिया की चुदाई

शकील और अम्मी अब चुम्बन करने लगे..। उनकी चुम्मियों और अन्य ध्वनि के साथ, “उंह आंह… लगता है..।” टांग तो उठाओ यार… आंह.. सब सुनाई दे रहा था।

बीच-बीच में शकील की आवाज आई। उसने अपनी अम्मी से कहा कि आप अपनी कोई सहेली पटवा दें।
अपने आप को पटा लो, अम्मी ने कहा। मैं ये सब नहीं कर सकता।

जब मैंने उनकी ये रिकॉर्डिंग सुनीं, तो मुझे सारी कहानी समझ आई कि शकील और मेरी अम्मी के बीच एक आत्मिक संबंध है।

शकील और फूफा जी पर मुझे कई बार संदेह हुआ। एक बार मैंने अम्मी और फूफा को बाथरूम से बाहर निकलते देखा। पहले मुझे यह अजीब लगता था, लेकिन बाद में मैंने सोचा कि इनको मजे करने देना चाहिए। क्योंकि अब्बू का काम बहुत व्यस्त था। अम्मी की कुछ आवश्यकताएँ हो सकती हैं। यह अच्छा है कि वे इसे अपने घर में करते हैं..। ये सब बाहर किसी के साथ करने से बदनामी भी हो सकती है।

फूफा एक बार घर आया था। यह सर्दियों की छुट्टी के दिन हुआ था।

अम्मी की गैर मर्दों के साथ चुदाई | Mom Xxx Hot Sexy Kahani

उस दिन फूफा जी दिन के चार बजे घर पहुंचे। शकील टैक्सी चला रहे थे, इसलिए उनको अपने परिवार की कोई चिंता नहीं थी। उस दिन भी शकील शाम को टैक्सी लेकर सीधे हमारे घर आ गया था।

फूफा और शकील नहीं जानते थे कि उनका खाता एक ही बैंक में है। मतलब, वे दोनों एक ही ब्रांच में काम करते थे। उन दोनों को मेरी अम्मी अपने शरीर से खेलने देती थीं।

मैं उन दोनों की चुदाई देखकर बहुत खुश था। मैंने अपने दोस्त से एक FM रिकॉर्डर मांगा। ये उपकरण कॉर्डलैस हैं और काफी सस्ती हैं। उसने अम्मी के बिस्तर के पास बैठ गया। तब मैं बिस्तर में घुस गया और कान में इयरफोन लगाया। मैंने FM चालू करके उनकी आवाज सुनना शुरू किया। सब कुछ मेरी योजना के अनुरूप था।

रात को सबने खाना खाकर सोने लगे। उस दिन हर कोई जल्दी सो गया। लेकिन अम्मी शकील को फूफा तीनों जागे हुए थे क्योंकि तीनों अनजान थे। शकील को लगता था कि फूफा उसे पकड़ नहीं लेंगे, लेकिन फूफा शकील की चिंता कर रहे थे। अम्मी नहीं जानती थी कि वह किसको पहले दें।

फिर अम्मी ने रास्ता खोला।

जब अम्मी फूफा जी को दूध देने गईं, तो उन्होंने हल्की आवाज में कहा कि आज लेन-देन नहीं होगा क्योंकि शकील आया है।
फूफा ने कहा, “मैं इंतजार करूँगा।” थोड़ी देर आ जाओ।

अम्मी इतना सुनकर अपने कमरे में चली गईं। अब उनके पास दो विकल्प थे: शकील से बहाना बनाकर उसे जल्दी सुला दें और फिर फूफा से चुदाई करवा लें।

अम्मी ने दूध में नींद की गोली डाली और गिलास बिस्तर के पास रख लिया।

मैं सोने का नाटक करने लगा और कंबल के छेद में से सब दिखने लगा। अम्मी को रजाई के अंदर शकील सहला रहा था। वह हाथ नहीं दिखाई देता था, लेकिन लगता था कि वह अम्मी की रानें दबा रहा था। मैं सो गया था, दोनों को लगता था।

अम्मी ने कहा कि कमर आज अकड़ी हुई है। तुम्हारे लिए दूध का गिलास है..। दूध पीकर सो जाओ। तुम्हारे अब्बू भी आज आए हैं..। कहीं कोई समस्या नहीं होगी।

शकील ने कहा कि मैं पहले आपके दूध चूसूँगा..। फिर मैं शादी करने के बाद दूध पी लूंगा।
मैरी ने कहा कि मेरी कमर दर्द कर रही है।
“आज मैं आपकी कमर की मालिश ऐसे करूँगा कि सब जोड़ खुल जाएंगे,” शकील ने कहा।

इसे भी पढ़ें   भाभी की ख़ातिर भैया से चुदवा लिया | Bhai Behan Ki Free Xxx Kahani

Desi Mom Sexy Kahani

यह सुनकर अम्मी हंसने लगी।

तब शकील ने अम्मी की चुत पर हाथ रखा, जिससे उसकी सिसकारी निकल गई। अम्मी की चुत में जोर से उंगली डाल रहा था।

अम्मी ने कहा कि बच्चे वहाँ सो रहे हैं। रसोई में चलो।

तब वे उठकर रसोई में चले गए। अम्मी के कमरे की खिड़की से रसोई देखा जा सकता था। मैंने देखा कि अम्मी रसोई की स्लैब पर हाथ रखकर झुक कर खड़ी हो गईं। अम्मी की सलवार नीचे गिर गई जब शकील ने अपना हाथ आगे करके उसका नाड़ा खोला। अम्मी ने पैंटी पहनी नहीं थी।

उसने पेंट और चड्डी उतार दी और कमर के नीचे पूरी तरह से नंगा हो गया।

फिर शकील ने पीछे से अम्मी की चुत में अपना लंड डाल दिया। लंड लेते ही अम्मी ने एक हल्की सी चीख निकाली।

अम्मी को शकील ने चोदना शुरू कर दिया। थोड़ी देर में, वह मेरी अम्मी को ताबड़तोड़ चोद रहा था और मैं अपनी कुहनियों के बल रसोई की स्लैब से खड़ा था। उनके दोनों पैर फैले हुए थे। उनकी दूधिया टाँगें बहुत सेक्सी लगीं। शकील की गांड आगे पीछे होने से साफ पता चल रहा था कि वह पूरी तरह से अम्मी की चुत में लौड़ा भरकर चुदाई कर रहा था।

अम्मी की चुत में कोई पांच मिनट की धकापेल के बाद शकील के लंड का पानी गिरा। उसने थकान से हांफने लगा। शकील ने रसोई की स्लैब पर अपना वजन रखते हुए अम्मी की चूचियों को रखा।

अम्मी ने कहा कि आज तुम जल्दी क्यों भाग जाओगे? मेरी प्यास पूरी नहीं हुई।

कोई एक मिनट बाद उन्हें अलग कर दिया गया।

टैक्सी चालक होने के कारण शकील शराब पीता था, जिससे वह लंबे समय तक सेक्स नहीं कर पाता था।

जबकि अम्मी प्यासी थीं..। लेकिन उस समय वह आज कोई खतरा नहीं उठाना चाहती थीं। यही कारण था कि अम्मी ने शकील से कहा कि अब सो जाओ..। सोने से पहले एक गिलास दूध पी ले।
शकील ने कहा, “तुम लंड चूसकर खड़ा कर दो।” एक बार फिर करूँगा।

अम्मी की गैर मर्दों के साथ चुदाई | Mom Xxx Hot Sexy Kahani

अम्मी ने नहीं कहा।
लेकिन उसने कहा, “मेरा मन तो कर रहा है..।” आप चुत नहीं देते..। मुँह में लंड डालकर मज़ा लो।

उसकी बात सुनकर अम्मी सहमत हो गईं। शकील फिर से उत्साहित हो गया और अम्मी को घुटनों के बल बैठाकर अपना लंड उतारकर उसके गले में उतार दिया। अम्मी शायद अपनी पहली बार किसी का लंड मुँह में लेने में बहुत परेशान थीं।

शकील जैसे जन्नत में था। अम्मी के गले में अपना लंड ठूंसते हुए उसने अपने चूतड़ों को हिलाया। उसने फिर से देखकर अम्मी का मुँह भरकर हांफने लगा।

सेक्स करने के बाद शकील बाथरूम में गया और अपना लिंग साफ किया।

दोनों कमरे में घुस गए। शकील दूध पीकर अम्मी के बाजू में सो गया और अम्मी बिस्तर पर लेट गई।

शकील एक बार खर्राटे लेने लगा जब अम्मी ने देखा।

अम्मी कुछ देर बाद शौचालय गईं। वहाँ एक सरसों के तेल की बोतल थी। फूफा को गांड मारने का बहुत शौक था, इसलिए अम्मी ने सरसों का तेल अपने कूल्हों और गांड में लगाया। बाद में मुझे पता चला।

जब अम्मी बाहर निकली और दरवाजा बंद किया, तो फूफा जी का कमरा खुला। वह उनके कमरे में घुस गया और बिना कुछ कहे दरवाजा बंद कर दिया। दरवाजा बंद होते ही फूफा जी ने अपनी आंखें खोली और अम्मी को पकड़ लिया।

इसे भी पढ़ें   जीजा साली की अन्तर्वासना की कहानी | Jija Sali Ki Antarvasna Sex Stories

मैं भी बाहर आकर खिड़की की झिरी से देखने लगा। कमरे में जीरो वाट का एक बल्व जल रहा था।

फूफा ने अम्मी को अपनी बांहों में भर लिया और उनके होंठों से होंठ मिले। वह अपनी माँ को चूमने लगे और उसके गांड को सलवार के ऊपर से दोनों हाथों से मसलने लगे।

Kamukta Mom Ki Chudai Kahani

ताकि उनके टाइट चूतड़ों का आनंद लिया जा सके, उन्होंने माँ को किस करते हुए एक हाथ से माँ की सलवार का नाड़ा खोला और दूसरा हाथ अन्दर डाल दिया।

फूफा जी अम्मी के चूतड़ों को मसलने लगे, जब अम्मी उनका लंड पजामे के ऊपर से ही सहलाने लगी। अम्मी के कूल्हे तेल से बहुत चिकने थे।

चिकनी चूतड़ों को महसूस करते ही फूफा ने कहा, “लगता है तुम्हें गांड मारने में मजा आने लगा है।”
यह सुनकर अम्मी हंस पड़ी।

फूफा ने शकील से पूछा: क्या वह सो गया?
हां, मैं तभी आया हूँ, अम्मी ने कहा।

फूफा ने अम्मी को पूरी तरह से नंगा कर दिया और अपने कपड़े भी उतार दिए। फूफा जी ने अम्मी को फर्श पर घोड़ी बनाकर उसके तेल से भरी गांड में अपना लंड रगड़ने लगा।

अम्मी ने अपनी गांड फैला दी। फूफा जी ने एक झटके में अम्मी की फूलों की खाई में अपना लंड गिरा दिया।

“उम्म्ह… अहह… हय… याह…” के मधुर स्वर के साथ फूफा जी लंड अम्मी की पहाड़ियों के बीच की गुफा में कहीं खो गया। अम्मी की गांड चुदाई का शोर शुरू हो गया। धकापेल चुदाई के बाद फूफा ने अम्मी की गांड में लंड का रस छोड़ दिया।

फिर फूफा ने जेब से दो गोली निकालीं। उन्होंने एक गोली खुद खा ली और दूसरी अम्मी को दी।

दोनों में लगभग दस मिनट में फिर से उत्साह आया। दुबारा चुदाई शुरू हो गई। फूफा ने इस बार अम्मी की चुत में लंड डालकर सटासट बाहर करने लगा।

रात भर फूफा ने अम्मी की चार बार चुत चुदाई की और एक बार गांड मारी।

रात को शादी करने के बाद अम्मी अपने कमरे में आकर सो गईं।

सुबह उठने तक नहीं जा रहा था।

सुबह उठकर शकील ने अम्मी के मम्मों के बीच में दो हजार रुपये का एक गुलाबी नोट फंसाकर कमरे से निकल गया। अपनी टैक्सी में चला गया। फूफा भी अम्मी को पांच हजार देकर चले गए।

उस दिन अम्मी को बहुत तेज दर्द हो रहा था, इसलिए मैंने उसके कमर और पैरों की मालिश की।

तुम्हारे लिए मेरी Mom Xxx Hot Sexy Kahani कैसी लगी? मुझे प्लीज मेल करें।
fhvhfdoo888@gmail.com

Read More Sexy Kahani….

मौसी की बेटी की पहली चूत चुदाई कहानी | Xxx Hot Sister Sexy Kahani

समलैंगिक गांड चुदाई कहानी | Smuggling Antarvasna Sex Kahani

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment