बारह सालों से चाची की प्यासी चुत चोदी। Hot Nangi Chachi Ki Chudai Ki Kahani

Hot Nangi Chachi Ki Chudai Ki Kahani पढ़े। मैंने नंगी चाची की गांड मारी! मैं काम करने के बाद चाची के घर रुका। उनके बदन में दर्द था। मैंने उनकी देखभाल करने का आदेश दिया। मैंने मालिश करने के बहाने उनको नंगी कर दिया।

मेरा नाम राहुल है। मैं कानपुर में रहता हूँ।

आपने मेरी पिछली कहानी

बूढ़ी औरत को बुरी तरह चोदा। Hot Old Lady Xxx Kahani थी।

यदि आप भी अपनी कहानी इस वेबसाइट पर पब्लिक करवाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके अपने कहानी हम तक भेज सकते हैं, हम आपकी कहानी आपके जानकारी को गोपनीय रखते हुए अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित करेंगे

कहानी भेजने के लिए यहां क्लिक करें ✅ कहानी भेजें

आज मैं आपको अपनी सगी चाची और मैंने उसकी Hot Nangi Chachi Ki Chudai Ki Kahani बताने जा रहा हूँ।

मैं अभी 25 वर्ष का हूँ।

बड़ी उम्र की औरतों को चोदना और उनकी मसाज करना मुझे बहुत अच्छा लगता है।

desi chachi ki chudai

मेरी चाची का नाम सुषमा है और वे दिल्ली में मयूर बिहार में रहती हैं।

जब मैं कानपुर से दिल्ली आया, तो मैं चाची के यहां रुका।

करीब तीन वर्ष बाद मैं उनके पास गया था।

मेरी चाची विधवा हैं और 12 साल पहले उनके पति एक कार दुर्घटना में मर गए।

चाची के दो बेटे और एक बेटी हैं।

बेटी लगभग 28 साल की है और एक बेटा शिक्षक है।

दोपहर में चाची के घर पहुंचा तो उन्होंने गुलाबी रंग की मैक्सी पहनी हुई थी।

उस मैक्सी का गला बहुत बड़ा था, पसीने से भीग चुकी उनकी चूचियों की दरार साफ दिखाई देती थी।

मैं चाची के पैर छूने के लिए नीचे झुका ही था कि उन्होंने मुझे गले लगा लिया और मेरे गाल पर एक सुंदर पप्पी दी।

यद्यपि चाची का घर छोटा है, वह तीन मंजिला जरूर है।

आप जानते हैं कि दिल्ली में अधिकांश घर छोटे हैं।

उनका बड़ा बेटा ऊपर वाली मंजिल में अपनी पत्नी के साथ रहता है, जबकि उनका छोटा बेटा बीच वाली मंजिल में रहता है।

नीचे वाले कमरे में चाची और उनकी बेटी गरिमा रहते हैं।

चाची से कहा कि जाओ राहुल, नहा लो..। तब तक, मैं नाश्ता बना देती हूँ और गरिमा भी स्कूल से आ जाएगी।

मैं जल्दी से स्नान करने के लिए बाथरूम में गया।

ये बाथरूम काफी छोटा था।

चाची की ब्रा और पैंटी देखकर मैं बाथरूम में घुस गया।

chachi ki chudai ki kahani

ब्रा काला था, और पैंटी हल्की पीली थी, लाल फूलों से ढकी हुई थी।

मैं उनकी पैंटी उठा कर उन्हें सूंघने लगा।

वाह, कितना सुंदर स्वाद था।

फिर मैं बाहर आकर चाची का नाम लेकर खाना खाया।

तब तक दोपहर के तीन बज चुके थे और गरिमा स्कूल से भी वापस आई थी।

चाची और मैं घर और परिवार के बारे में बात कर रहे थे।

राहुल पहले की तरह शक्तिशाली नहीं रही, चाची ने कहा। जरा सा काम करने से घुटनों और पैरों में दर्द होता है। मुझे ही घर का सारा काम करना पड़ता है क्योंकि गरिमा सुबह स्कूल जाती है।

मैंने चाची से कहा कि पैरों में अभी इस उम्र में दर्द होने लगा है। तुम अभी तो बहुत जवान हो!

चाची ने हँसकर कहा मस्का लगाना बंद करो। मैं पूरे 50 वर्ष की हो गयी हूँ।

मैं चाहता हूँ, चाची, लेकिन आप कहीं से भी लगती नहीं है कि आप 50 वर्ष की हैं। मुझे लगता है कि आप अभी भी 35 की ही उम्र में हैं।

चाची, राहुल बेटा, तेरे चाचा की मौत को अभी बारह वर्ष हो गए हैं। युवावस्था भी समाप्त हो चुकी है।

मैंने चाची से कहा की आपने अपने आप को काफी मेंटेन कर के रखा है। मैं आपको अपनी प्रेमिका बना लूँ

चाची, चलो कहीं चले ..। मैं आपको अपनी प्रेमिका बनाऊंगा !

हम हंसने लगे।

उस समय गरिमा कमरे से बाहर निकली और कहा, “मम्मी, मैं ट्यूशन पढ़ाने जा रही हूँ।” रात 9 बजे तक आउंगी।

बेटा बहुत अच्छा है, चाची।

मैंने चाची पूछा कि अगर आपके पैरों और घुटनों में दर्द है, तो आप मालिश क्यों नहीं करवाती? मालिश आपको काफी आराम देगी।

चाची, राहुल बेटा, मैं किससे काम कराऊं? गरिमा को समय नहीं मिलता।

मैं पूछता हूँ, चाची, आपका ये भतीजा किस दिन काम करेगा? मैं तुम्हारे पैरों को मसाज करता हूँ। आपका दर्द पूरी तरह से दूर हो जाएगा।

चाची, बेटा अच्छा होगा।

मैं उठकर ड्रेसिंग टेबल से नारियल का तेल ले आया।

इसे भी पढ़ें   मालिक के लड़के ने मेरी माँ को चोद दिया | Mom Chudai Ki Hindi Sex Stories

मैंने चाची से कहा कि तुम पहले बैठ जाओ, मैं स्ट्रेचिंग करूँगा।

चाची लेट गई।

chachi ki chudai story

मैंने चाची के दोनों हाथ गर्दन के पीछे ले जाकर उन्हें खींचकर स्ट्रेच किया।

चाची को बहुत अच्छा लगा।

चाची ने कहा, राहुल, तुमने एक बार में बहुत मजा लिया।

मैंने कहा, चाची, यह सिर्फ शुरुआत है। उल्टी लेटकर मैक्सी को थोड़ा ऊपर कर लीजिए। मैं तुम्हारे पैर के तलवों को मसाज करता हूँ।

मैंने अपने दोनों हाथों पर तेल लगाकर पैरों के तलवों पर प्रेशर पॉइंट लगाने लगा।

चाची की आंखें लगभग पंद्रह मिनट बाद बंद होने लगीं।

मैंने उनकी मैक्सी को थोड़ा और ऊपर कर दिया और एक पैर मोड़कर दूसरे पैर से हल्का स्ट्रेच करने लगा।

तब चाची ने कहा, “राहुल, आप बहुत अच्छी मसाज करते हैं।” कहाँ पढ़ा?

मैंने चाची को झूठ बोलकर कहा कि मैं कानपुर में मसाज में डिप्लोमा किया है।

चल झूठे, चाची ने हंसते हुए कहा। मसाज शिक्षा भी होती है क्या?

मैंने कहा कि हां, चाची, मसाज की प्रक्रिया है और इसे सही से करने का एक तरीका है। जो मेरे अनुकूल है। मैं पूरी तरह से मसाज करूँगा अगर आप कहेंगे!

राहुल बेटा, पूरे शरीर की मसाज क्या है?

मैं, चाची, पूरे शरीर का मसाज देता हूँ। आपका सारा दर्द मिट जाएगा।

ठीक है बेटा, चाची।

मैं कहता हूँ, चाची, अपनी मैक्सी उतार दो।

चाची, मैं पूरी तरह से नग्न हो जाऊंगी।

मैं, चाची, आपने कुछ पहन रखा होगा ना?

हां, बेटा, मैंने ब्रा पैंटी पहनी है।

मैं कहता हूँ कि फिर उतार दीजिए, नहीं तो तेल लग जाएगा और मैक्सी खराब हो जाएगी।

लेकिन बेटा, मुझे शर्म आ रही है।

chachi ki chudai hindi mein

मैं: चाची, शर्मा मत करो। लेटी रहो..। मना नहीं करना चाहिए। तुम सिर्फ रिलैक्स करो। मैं चादर देता हूँ; उसे ओढ़कर आंख बंद करो। मैं भी कमरे की रोशनी बंद कर देता हूँ।

ठीक है बेटा, चाची।

चाची ने मुझे एक चादर दी और उसे ओढ़ लिया।

चाची ने चादर के अंदर ही अपनी मैक्सी उतारी और लेट गई।

मैं उनकी जांघों पर तेल लगाने लगा।

जांघों में तेल लगाने के बाद चाची ने अपनी टांगों को थोड़ा खोल दिया, जिससे मेरी उंगलियां उनकी पैंटी से चूत की दरार तक स्पर्श कर रही थीं।

चाची ने मुझे रोक दिया जब मैं चाची की पैंटी नीचे की तरफ सरकाने लगा।

राहुल बेटा, ये क्या कर रहा है, उन्होंने कहा। मैं नंगी हो जाऊँगी !

मैंने कहा, “अरे चाची, आप परेशान मत हो”। इसलिए मैंने आपको चादर से ढक दिया है। तुम सिर्फ अपने भतीजे की उंगलियों के जादू का मजा लीजिए!

ठीक है, उतार दे मेरी पैंटी और कर दे मुझे नंगी, चाची ने हंसते हुए कहा।

तो चाची से पैंटी सुनते ही मेरा लंड उठने लगा।

मैंने चाची की पैंटी उतार दी और उनके बड़े बड़े चूतड़ों पर तेल लगाने लगा।

तेल लगाने के कुछ मिनट बाद मैं उनकी पीठ की ओर बढ़ने लगा।

जब मैं पीठ की तरफ बढ़ने लगा, चाची के चूतड़ पूरी तरह से नंगे दिखाई देने लगे।

मैं चाची के चूतड़ों पर बैठ गया और चादर को पूरी तरह हटा दिया।

चाची ने पूछा: बेटा, चादर क्यों हटा दी?

मैंने कहा, चाची, यह पूरे शरीर का मसाज है। आपका दर्द कैसे गायब होगा अगर मैं पूरा हाथ नहीं चलाऊँगा? वैसे भी कमरे में अंधेरा है, मैं कुछ नहीं देख सकता।

चाची ने कहा राहुल तुम मेरी पीठ पर ऐसा ही मसाज करो। मैं बहुत खुश हूँ।

मैं करीब तीस मिनट तक चाची की पीठ, चूतड़ों और कमर पर हाथ चलाता रहा।

मैंने फिर चाची से कहा, “अब आप सीधे लेट जाओ”। मैं आगे मसाज करता रहता हूँ।

chachi ki chudai hindi

अरे नहीं बेटा, दर्द आगे नहीं है, चाची ने कहा। बस करो। तुमसे मसाज करने में बहुत मज़ा आया।

मैंने कहा, “चाची, मैं फिर से चादर औढ़ा दे रहा हूँ ताकि आप शर्म न करो। चाची, इतना शर्म क्यों है? शरीर ही है। मम्मी ने मुझे बताया कि तुमने मेरी मालिश की थी जब मैं छोटा था। मैं भी पूरी तरह से नंगा हो गया। मैं कर दे रहा हूँ क्योंकि अब आपके शरीर में दर्द है।

इसे भी पढ़ें   दीदी को बेड पर लेटाकर चोदा | Cousin Sister Xxx Hot Porn Kahani

तु उस समय छोटा था, चाची।

मैं, चाची, अभी भी छोटा हूँ। तुम सीधा लेट जाओ।

चाची सीधे लेट गईं।

अब उनके शरीर पर एक नरम कपड़ा था।

पहले मैं अपने हल्के हाथों से उनके कंधे पर मालिश करता रहा, फिर चाची की छाती की ओर बढ़ाकर अपनी दो उंगली चाची के दूध के बीच की गहरी दरार में डालने लगा।

तब चाची सिहर उठी और आंखें बंद करने लगी।

फिर मैं चादर के अंदर से तेल डालकर चाची की चूचियों को धीरे-धीरे मसलने लगा।

चाची भी अब खुश होने लगी। वे आंखें बंद करके मनोरंजन कर रही थी।

फिर मैं चादर खींचने लगा, लेकिन चाची ने मुझे रोककर कहा, “राहुल, चादर के अंदर ही मालिश करो।” बहुत अच्छा दिखता है।

मैंने कहा, चाची, हाथ चलाना मुझे मुश्किल हो रहा है। कमरे में ही अंधेरा है। मैं सरका देता हूँ।

राहुल बेटा, मुझे शर्म आ रही है, चाची ने कहा।

मैंने कहा, “चाची, शर्मा मत करो।” दिल्ली की औरतें बाहर के लड़कों से मालिश करती हैं..। वह पूरी तरह से नंगी भी है। और आप अपने भतीजे से शर्मा रहे हैं!

बेटा, तुम दिल्ली को बहुत जानते हो, चाची ने कहा। जैसा आपको लगे, ऐसा करें..। मैं थक गयी हूँ।

मैंने कहा, चाची, आंख बंद करो, अभी आपको अच्छा लगेगा।

फिर मैंने चाची के दोनों सफ़ेद दूध को अंधेरे में भी देखने के लिए पूरी चाची की चादर निकाली।

मेरे सामने पूरी तरह से नंगी चाची लेटी हुई थीं।

मैंने काम शुरू किया।

क्योंकि मैं मसाज करने में माहिर हूँ इसलिए मैंने चाची की मसाज को पहले देखा।

moti chachi ki chudai

20 मिनट तक चाची की नाभि पर तेल लगाकर उनके पेट और दूध की मालिश करता रहा।

मैं फिर चाची की टांगों की तरफ बढ़ने लगा। चाची की चूत में बहुत बड़ी-बड़ी झांटें थीं।

मैंने सोचा कि चाचा के जाने के बाद चाची शायद जंगल रखती रहेगी।

मैं दो उंगलियों से चाची की चूत के चारों ओर नारियल का तेल लगाकर मसाज कर रहा था।

तब चाची ने सिसकारियां भरने लगी और अपनी दोनों टांगें फैला दीं।

मैंने समझा कि चाची अब गर्म हो चुकी हैं और चुदाई के लिए तैयार हैं।

लेकिन मैं अभी उन्हें वासना की भट्टी में और अधिक जलाना चाहता था।

मैं जानता था कि मेरी चाची बहुत शर्मीली हैं और उन्हें बारह साल से प्यास लगी है। आज चूत को लंड का पानी चाहिए।

और मैं चाहता था कि मेरी चाची मुझे खुद बता दे कि राहुल मेरे खेत को सींच दे।

पर चाची सिर्फ सिसकारियां लिए जा रही थीं, अपनी आंखें बंद करके।

मैं तेल से उनकी चूत के चारों तरफ मालिश करने के बाद नीचे की तरफ आ गया।

तब चाची ने “आह उइ आह…” कहा।

उनकी चूत से झांटों गीली हो गई।

अब चाची ने मेरा हाथ पकड़कर कहा, “राहुल, अब अपनी चाची से भी मसाज कर दे।”

मैं चाची की चूत को चाटने लगे।

चाची ने मेरा सर पकड़कर कहा, “आ ई उ अ ई।”

दस मिनट तक चाची की चूत चाटने के बाद, उन्होंने पानी छोड़ दिया, जिससे मैं पूरा पानी चाट गया।

चूत का पानी बहुत अच्छा है।

मैंने अपना लंड चाची के हाथ में दिया और हाफ पैंट उतारा।

चाची धीरे-धीरे उसे हिलने लगी।

मैंने कहा, “चाची, मुँह खोलो!”

मैंने चाची को मुँह खोलते ही अपना लंड उनके मुँह में डाल दिया, लेकिन वे शर्मा रही थीं।

मैंने कहा, “चाची, शर्मा मत करो; लगता है कि आप आइसक्रीम चूस रहे हैं।”

राहुल, तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है, चाची ने हंसकर कहा। कौन इसे हाथ में नहीं लेना चाहेगा? तुम्हारे चाचा का लंड तुम्हारे जैसा था।

फिर मेरा लंड चाची चूसने लगी और मैं सातवें आसमान में चला गया।

मेरा लंड चाची के गले तक जा रहा था।

dehati chachi ki chudai

थोड़ी देर बाद चाची ने कहा, “राहुल बेटा, अब इसे मेरी चूत में डालकर वर्षों से बंजर पड़ी जमीन को साफ कर दो।”

मैंने चाची को डॉगी शैली में आने को कहा और अपना लंड उनकी चूत में डालकर अंदर घुसेड़ दिया।

आह, मादरचोद, चिल्ला रही थी चाची। भोसड़ी के अपनी चाची को चोद डाल। यह बहुत मनोरंजक है।

दस मिनट की चुदाई के बाद मैंने चाची की चूत में अपना वीर्य डाल दिया।

इसे भी पढ़ें   बहन को चूत में ऊँगली करते देखा भैया ने

चाची की चूत में माल डालने के बाद हम दोनों नंगे ही लेटे रहे।

इसके बाद मैंने कमरे की रोशनी चालू कर दी।

कमरे में उजाला होने पर चाची का बदन दूध की तरह चमक रहा था।

अब पूरी तरह से नंगी चाची मुझसे बातें कर रही थीं।

धीरे-धीरे मैंने चाची से पूछा कि मेरी चुदाई मालिश कैसी लगी?

बेटा, बहुत अच्छा लगा, चाची ने कहा। पूरे बारह साल बाद मैं एक आदमी से चुदी हूँ। मुझे तेरे चाचा ने बहुत चोद दिया हैं। उनका वाइल्ड सेक्स बहुत अच्छा था।

मैंने कहा, “चाची, मैं भी वाइल्ड सेक्स चाहता हूँ।” चाची, मैं आज से चुदाई का पूरा आनंद दूंगी।

“बेटा, तेरे चाचा मेरी गांड में वनीला आइसक्रीम लगाकर चाटते थे,” चाची ने कहा।

मैने कहा कि तुम परेशान मत हो। मैं चाचा से बेहतर सेक्स करूँगा। कृपया!

मैंने चाची की जीभ में अपनी जीभ डाल दी और उसे अपनी बांहों में भर लिया।

दो मिनट किस करने के बाद चाची की मनोस्थिति बदल गई।

इस बार चाची पूरी तरह से खुल गईं।

राहुल बेटा, मैं तेरे मुँह में अपनी चूत रगड़ती हूँ, चाची ने कहा।

“मेरे लाल चाट मेरी चूत,” उन्होंने कहा और मेरे मुँह में अपनी चूत डाल दी। आज अपनी चाची की चूत चाटकर पूरी तरह से साफ करो..। तुमने 12 साल से भूखी शेरनी को जगा दिया, मादरचोद राहुल।

मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा जब मैं चाची की गंदी गाली सुनता था।

10 मिनट तक चाटने के बाद चाची ने कहा: “गरिमा बिटिया की डेरी मिल्क चॉकलेट फ्रिज में है।” राहुल लाओ।

मैं तुरंत डेरी मिल्क लाया।

indian chachi ki chudai

चाची ने डेरीमिल्क का टुकड़ा करके मेरे पेट और लंड पर लगाने लगीं, फिर उसे चाटने लगीं।

मैं जन्नत में जा रहा था।

मेरे लंड में चाची चॉकलेट चाट रही थीं।

लंड को लगभग पंद्रह मिनट चूसने के बाद चाची ने कहा, राहुल बेटा, क्या तुम मेरी गांड में चॉकलेट डालकर चाटोगे?

मैंने कहा, “चाची जी, क्यों नहीं? आपकी गांड इतनी चिकनी है कि कोई भी इसे चाटना चाहेगा।”

फिर मैंने चाची को डॉगी की तरह बनाया और चॉकलेट उनकी गांड में डालकर जीभ से चाटने लगा।

वाह, चाची की गांड..। मैं बहुत खुश था।

चाची के बड़े बड़े चूतड़ों के बीच में अपनी जीभ घुसेड़ रहा था।

चाची ने कहा कि भोसड़ी के राहुल अब मेरी गांड भी मार दीजिए। आह, बहुत सालों से इसमें लंड नहीं गया!

मैं चाची की गांड में अपना लंड डालने लगा, लेकिन छेद छोटा था।

फिर चाची ने कहा, “बेटा, गांड में थूक लगा।” फिर जाएगा।

चाची ने एक हाथ से मेरा लंड पकड़कर उसके गांड में डाल दिया।

मैं धीरे-धीरे धक्के मार रहा था।

चाची ने चिल्लाकर कहा, “आह आ ई आई उआ बेटा वाओ चोद ना वाह आ अब और तेज चोद… अपनी चाची की गांड चोद दे !”

दस मिनट तक नंगी चाची की गांड चुदाई के बाद मेरा माल निकलने वाला था.

मैंने तुरंत अपना माल चाची के मुँह में झाड़ दिया और अलग हो गया.

मैंने चाची से कहा- चाची, अब मुझे मेरे माल के साथ किस करो.

चाची जब मेरी लंड को चाट रही थीं, तो मेरा वीर्य का स्वाद उन्हें भी मिल रहा था.

मुझे Hot Nangi Chachi Ki Chudai Ki Kahani बहुत पसंद है.

इसके बाद तीन दिन तक रोज मैं अपनी चाची को चोदता रहा और कानपुर वापस आ गया.

आपको मेरी नंगी चाची की गांड की कहानी कैसी लगी, जरूर बताएं.

Related Posts

Report this post

मैं रिया आपके कमेंट का इंतजार कर रही हूँ, कमेंट में स्टोरी कैसी लगी जरूर बताये।

Leave a Comment